अपनी ही पार्टी के विधायकों से घिरे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री

अपनी ही पार्टी के विधायकों से घिरे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री
rawat file photo

| Publish: Jul, 16 2018 06:27:09 PM (IST) Dehradun, Uttarakhand, India

मौका मिलते ही भाजपा के विधायक खुले आम मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को भी नसीहत देने से नहीं चूक रहे हैं

(अमर श्रीकांत की रिपोर्ट)
देहरादून। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की स्पष्ट चेतावनी कि मुख्यमंत्री पर किसी तरह का न ही कोई दबाव बनाया जाए और न ही उनके खिलाफ किसी भी तरह का कोई अनर्गल प्रचार किया जाए। उसके बावजूद भाजपा विधायक मुख्यमंत्री को निशाने पर लिए हुए हैं। मौका मिलते ही भाजपा के विधायक खुले आम मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को भी नसीहत देने से नहीं चूक रहे हैं।

 

दो विधायक हैं नाराज


भाजपा के दो विधायकों संजय गुप्ता और स्वामी यतीश्वरानंद मुख्यमंत्री से काफी नाराज चल रहे हैं। दोनों विधायकों ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया है कि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत अपने चहेते विधायकों को ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं। चहेतों विधायकों और मंत्रियों की बातें सुन रहे हैं। अपने प्रिय विधायकों के विधानसभा क्षेत्रों की समस्याओं का समाधान कर रहे हैं। उन्हें मिलने का समय कभी भी दे देते हैं। लेकिन कुछ विधायकों को मुख्यमंत्री कतई पसंद नहीं करते हैं। भाजपा विधायक संजय गुप्ता ने यहां तक कह डाला कि मुख्यमंत्री हर किसी का शादी विवाह का निमंत्रण कबूल कर लेते हैं और वर- बधू को आशीर्वाद देने के लिए पहुंच जाते हैं लेकिन जन प्रतिनिधियों से मिलने का समय मुख्यमंत्री के पास नहीं होता है। मुख्यमंत्री मिलते भी हैं तो सिर्फ अपने पसंदीदा विधायकों और मंत्रियों से ही।

 

विपक्ष के विधायकों की तरह ही बर्ताव

 

भाजपा के ही दूसरे विधायक स्वामी यतीश्वरानंद ने आरोप लगाया कि उनके साथ (पार्टी के विधायक) मुख्यमंत्री विपक्ष के विधायकों की तरह ही बर्ताव कर रहे हैं। उनके क्षेत्र में विकास की योजनाएं ठप पड़ी हुई हैं। क्योंकि विकास योजनाओं के लिए आवश्यक फंड अब तक सरकार की ओर से रिलीज ही नहीं किया गया है। ऐसे में प्रदेश का विकास कैसे होगा।

 

कारण बताओ नोटिस


भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने दोनों ही विधायकों संजय गुप्ता और यतीश्वरानंद को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए कहा है कि आगामी 1 दिन के अंदर जवाब दें वरना पार्टी दोनों ही विधायकों के खिलाफ जरूरी कार्रवाई करने में किसी भी तरह का कोई संकोच नहीं करेगी। प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि सीएम के खिलाफ की गई टिप्पणी को भाजपा हाईकमान ने भी काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने कहा कि पार्टी से हाईकमान ने विस्तृत रिपोर्ट की मांग की है।

 

हाईकमान के आदेश की चिंता नहीं


उल्लेखनीय है कि पिछलेे एक माह से अपनी ही सरकार पर कभी पार्टी के सांसद ,तो कभी पार्टी के पदाधिकारी तो कभी विधायक मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर हमला करते रहते हैं। बीते तीन दिन पहले ही भाजपा की कार्यसमिति की बैठक में हाईकमान ने साफ साफ कहा था कि किसी भी हाल में मुख्यमंत्री या फिर भाजपा की सरकार के खिलाफ किसी तरह की अमर्यादित टिप्पणी नहीं की जाए। लेकिन भाजपा विधायकों को हाईकमान के आदेश की भी कोई चिंता नहीं है। इस बार तो विधायकों ने खुले आम ही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को निशाना बनाया है।

दरवाजे सभी के लिए खुले

' ऐसा कुछ भी नहीं है जिस पर टिप्पणी करना जरूरी है। घर का मामला है। संगठन पूरे मामले को देख रहा है। मेरे दरवाजे सभी के लिए खुले हुए हैं। त्रिवेंद्र सिंह रावत,मुख्यमंत्री ,उत्तराखंड

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned