यहां बनने जा रहा है देश का पहला पौधों का क्वारंटाइन सेंटर, इसके पीछे है बड़ी वजह

समाज के हर एक वर्ग और प्रत्येक व्यापारिक क्षेत्र पर Coronavirus की संक्रामक बीमारी का व्यापक असर पड़ा है (India's First Plants Quarantine Center To Be Make In Uttarakhand) (Uttarakhand News)...

 

By: Prateek

Published: 06 Sep 2020, 09:36 PM IST

देहरादून: Coronavirus की महामारी दिनों दिन विकराल रूप धारण करती जा रही है। समाज के हर एक वर्ग और प्रत्येक व्यापारिक क्षेत्र पर इसका व्यापक असर पड़ा है। सावधानी के नए नए उपाय बरते जा रहे हैं। इसी दिशा में बड़ा कदम उठाते हुए देश में विदेश से आने वाले पौधों के जरिए कोई नई बीमारी नहीं आ जाए इसके लिए पौधों का भी अलग क्वारंटाइन सेंटर बनाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: Maharashtra CM Uddhav Thackeray को मिली जान से मारने की धमकी, मातोश्री पर भारी पुलिस बल तैनात

जी हां, पौधों का क्वारंटाइन सेंटर। भारत के पहले पौधों के क्वारंटाइन सेंटर को बनाने की योजना पर उत्तराखंड में काम किया जा रहा है। सरकार इसके लिए जमीन की तलाश कर रही है। कुल 20 एकड़ जमीन पर यह सेंटर स्थापित किए जाने की योजना है। इसके लिए टिहरी, नैनीताल, हरिद्वार, पौड़ी और उधमसिंह नगर और देहरादून में उचित जगह तलाश रही है। इस क्वारंटाइन सेंटर को बनाने के पीछे भी बड़ा दूरगामी नजरिया है। विदेशों से आने वाले पौधों को यहां रखा जाएगा और पता लगाया जाएगा कि इनके जरिए कोई ऐसा रोग तो नहीं आया है जिससे देसी फसल भी बर्बाद हो जाए। इसलिए ही कृषि—बागवानी अनचाही और अनजानी बीमारियों से बचाने के लिए केंद्र सरकार ने यह क्वारंटाइन सेंटर बनाने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ें: CDS Bipin Rawat बोले - खुद की सीमा के साथ पड़ोसियों की रक्षा करने के लिए भी तैयार है सेना

यह अपनी तरह का विशिष्ट पौधों का क्वारंटीन सेंटर होगा जिसमें विदेशों से आयातित पौधों को एक निश्चित समयावधि के लिए क्वारंटाइन किया जाएगा। उसके बाद ही किसानों तक यह पौधे पहुंचाए जाएंगे।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned