पहले करेंगे योग उसके बाद आइए उत्तराखंड का संदेश देंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

पहले करेंगे योग उसके बाद आइए उत्तराखंड का संदेश देंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Prateek Saini | Publish: Jun, 20 2018 06:58:40 PM (IST) Dehradun, Uttarakhand, India

पीएमओ की ओर से फिर से अवगत कराया गया है कि योग दिवस के दिन प्रधानमंत्री क्या करने वाले हैं...

अमरनाथ सिंह की रिपोर्ट...


(देहरादून): अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर उत्तराखंड को अब योग भूमि के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नई पहचान दिलाएंगे। खुद 35 साल पहले केदारघाटी में साधना कर चुके प्रधानमंत्री को देवभूमि से बेहद लगाव है। इसलिए वे नई दिल्ली से बार-बार ड्रोन द्वारा केदारनाथ में हो रहे पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा लेते रहते हैं।


52 साधकों के साथ योग करेंगे पीएम

अब मोदी की इच्छा उत्तराखंड को योग के रूप में देश विदेश के लोगों से परिचित कराने की है, ताकि अधिक से अधिक संख्या में देशी और विदेशी पर्यटक उत्तराखंड की भूमि पर आएं और योग साधना करें। 2१ जून की सुबह प्रधानमंत्री सबसे पहले 5२ हजार योग साधकों के साथ विभिन्न तरह की योग साधना करेंगे। उसके बाद वहां मौजूद योग साधकों को संबोधित करेंगे।

 

योग के बाद संवाद

हालांकि पहले यह तय किया गया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योग शुरू करने के पहले लोगों को संबोधित करेंगे, लेकिन बुधवार को पीएमओ ने उत्तराखड सरकार को फिर से प्रधानमंत्री का नया कार्यक्रम भेजा है, जिसके तहत अब सबसे पहले योग किया जाएगा। उसके बाद प्रधानमंत्री योग साधकों के समक्ष अपनी बात कहेंगे।

 

पीएम के दौरे को लेकर चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद योग दिवस की तौयारियों का जायजा ले रहे है। इस बाबत दो बार वीडियो कांफ्रेसिंग कर योग दिवस को लेकर सरकार की ओर से की जा रही व्यवस्थाओं का निरीक्षण भी कर चुके है। पीएम ने पीछली बार वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए सीएम से बात कर पुख्ता इंतजाम करने की बात कहीं थी। वैसे तो सरकार पीएम के दौरे को लेकर पहले से ही तैयारियों में जुटी हुई थी पर पीएम की ओर से व्यक्तिगत तौर पर दखल देने के बाद ओर भी सर्तकता से काम किया जा रहा है।

प्रशासन की ओर से प्रधानमंत्री की देहरादून यात्रा के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। बुधवार को मुख्यमंत्री सहित शासन प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने योग स्थल वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआई) का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का कहना है कि प्रधानमंत्री के दौरे से पर्यटकों के बीच सुरक्षित उत्तराखंड का संदेश जाएगा। देश और विदेश के पर्यटक अब योग साधना करने उत्तराखंड आएंगे।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned