जिला पंचायत अध्यक्ष की परेशानियां और बढ़ी, आया अविश्वास प्रस्ताव

57 में से 34 सदस्यों ने दाखिल किया प्रस्ताव , अध्यक्ष गिरफ्तारी के डर से चल रहे हैं फरार

By: sarveshwari Mishra

Published: 23 May 2018, 02:24 PM IST

देवरिया. कहते हैं कि जब आदमी का बुरा वक्त आता है तो अपने भी साथ छोड़ देते हैं । कुछ ऐसा ही होता दिख रहा है इन दिनों देवरिया जिले में । कल तक जिसकी तूती बोलती थी आज वो भागा भागा फिर रहा है । बात जिला पंचायत अध्यक्ष राम प्रवेश यादव की हो रही हैं । उनकी परेशानियां कम होने के बजाए बढ़ती ही नजर आ रही हैं ।

 

 

जबरिया जमीन बैनामा कराने और अपहरण के आरोपी राम प्रवेश पर दो-दो मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं और फरार होने की स्थिति मे उन पर पुलिस ने 25 हजार का ईनाम भी घोषित कर रखा है और ऐसे विपरीत समय मे कल तक आगे-पीछे और दाएं-बाएं घूमने वाले जिला पंचायत सदस्य भी अब उनका साथ छोड़ने लगे हैं । मंगलवार की देर शाम 34 जिला पंचायत सदस्यों ने जिलाधिकारी से मिलकर अध्यक्ष के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पेश कर राजनीतिक हल्के में खलबली मचा दी है । बताते चलें कि मंगलवार को अचानक जिले की राजनीति मे हलचल उस समय मचता दिखा जब जिला पंचायत के 34 सदस्यों ने बड़े ही गोपनीयता से जिलाधिकारी के समक्ष उपस्थित होकर विद्रोह का बिगुल बजा दिया । सभी की तरफ से प्रस्तुत हुए अलग अलग शपथ पत्र में वर्तमान अध्यक्ष के प्रति अविश्वास प्रस्ताव पेश करने की बात कही गयी ।

 

वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष राम प्रवेश यादव के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव की घोषणा से राजनैतिक हल्के में खलबली मची दिख रही है । बताते चले कि देवरिया जिले के प्रथम नागरिक यानि जिला पंचायत अध्यक्ष राम प्रवेश यादव समाजवादी पार्टी से जुड़े हुए हैं । उनके ऊपर इसी महीने में एक व्यक्ति का अपहरण कर उसकी कीमती जमीन का बैनामा कराए जाने का आरोप लगा था । उस मामले दस लोग हिरासत में लिए जा चुके हैं और मुख्य आरोपी राम प्रवेश यादव तभी से फरार बताए जा रहे हैं । पुलिस ने उनके ऊपर 25 हजार का ईनाम भी घोषित कर रखा है । सपा शासनकाल के दौरान हुए जिला पंचायत चुनाव मे देवरिया की जिला पंचायत में खास बात ये थी कि यहां कुल विजयी हुए सदस्यों में से ज्यादातर एक ही जाति से थे। ऐसा माना जाता था कि राम प्रवेश यादव की कुर्सी कोई हिला नही सकता लेकिन गत दिवस डीएम सुजीत कुमार को 57 जिला पंचायत सदस्यो मे से 34 जिला पंचायत सदस्यो ने हलफनामा देकर सबको चौंका दिया। दर्ज मुकदमों के कारण भागे फिर रहे जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आने से खलबली मच गयी है। प्रस्ताव देने के बाद बाहर निकले जिला पंचायत सदस्यो ने भी मुखर विरोध शुरु करते हुए वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष राम प्रवेश यादव पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। डीएम सुजीत कुमार ने अचानक पैदा हुए स्थिति पर बताया कि प्रकरण पर जो सदस्य आज उपस्थित थे उनका हस्ताक्षर करा लिया गया है बाकी का भी हस्ताक्षर करने के लिए समय तय किया गया है । कुल 34 सदस्यों ने अविश्वास का प्रस्ताव दिया है। आगे नियमों के मुताबिक प्रक्रिया तय होगी ।

sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned