आज़म खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने पहुंचा युवक, एसओ ने लौटाया

आज़म खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने पहुंचा युवक, एसओ ने लौटाया
Complain against Azam khan

सेना पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने से नाराज है युवक

देवरिया. प्रदेश की योगी सरकार थानों में सामान्य तरीकों से एफआईआर दर्ज करने की बात भले ही कह रही हो कि लेकिन वास्तव में ऐसा होता नही दिख रहा है । ताजा घटना जिला मुख्यालय का है । भारतीय सेना के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने से आहत सदर कोतवाली क्षेत्र के एक फौजी परिवार के नौजवान ने आज़म खान के ऊपर मुकदमा दर्ज करने के लिए कोतवाली में एफआईआर तो दिया लेकिन कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक ने मुकदमा दर्ज करने से साफ इंकार कर दिया ।


सदर कोतवाली क्षेत्र के देवरिया खास के भगवान चौराहा निवासी ओम प्रकाश मौर्य के पुत्र हरिगोविंद मौर्य ने अपने प्रार्थना पत्र में बताया है कि मेरे परिवार के कई लोग सेना में हैं और ऐसी स्थिति में पूर्व मंत्री आज़म खान द्वारा सेना के प्रति की गयी टिप्पणी बिल्कुल ही असहनीय है । हरिगोविंद ने पत्रिका को बताया कि मैंने पूर्व मंत्री का बयान सुनने के बाद देवरिया कोतवाली जाकर उनके विरुद्ध एक एफआईआर दर्ज करने हेतु प्रार्थना पत्र दिया लेकिन पूरा पढ़ने के बाद कोतवाल ने इसे दर्ज करने से साफ इंकार कर दिया । चूंकि जिले के एसपी बाहर थे इस कारण मैंने एएसपी से मुलाकात कर जानकारी दी उन्होंने मुझे कोतवाली जाकर कोतवाल से मिलने को कहा । मैं फिर गया लेकिन मेरी बात वहाँ नही सुनी गयी ।


यह भी पढ़ें:
प्रेमी से शादी कराने की मांग को लेकर कलेक्ट्रेट में आमरण अनशन पर बैठी महिला



आज़म को देशद्रोही बताने के साथ साथ उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने की माँग को लेकर युवक अधिकारियों के यहाँ दौड़ लगा रहा है। कुछ लोगों ने युवक के प्रार्थना पत्र को ट्विटर के माध्यम से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , यूपी पुलिस और देवरिया पुलिस को भी भेजा है । फिलहाल मामले पर अभी कोई अधिकारी जवाब नही दे रहा है । देखने वाली बात यह होगी कि पुलिस इस मामले में अन्तोगत्वा क्या रुख अपनाती है । 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned