शराबियों को पकड़ने निकले थानाध्यक्ष खुद ही मिल गए नशे में, हुए निलम्बित

एसपी ने शराब पीकर घूमने वालों को पकड़ने का चलाया था अभियान , पकड़े गए दरोगा , मुकदमा हुआ दर्ज

By: sarveshwari Mishra

Published: 24 May 2018, 02:25 PM IST

देवरिया. प्रतिदिन दूसरों की चेकिंग कर नोकझोंक और इज्जत का तमाशा बनाने वाली पुलिस कभी कभी अपने ही कारनामो से चर्चा में आ जाती है । जिले की खुखुन्दू थाने में तैनात एक "साहेब" जिले के पुलिस कप्तान द्वारा कराए गए औचक निरीक्षण के दौरान ऐसे ही एक कारनामे में खुद फंस गए हैं । हद तब हो गयी जब साहेब जांच अधिकारी से डर के मारे बाउंड्रीवाल कूद कर भाग चले ।

 

 

नशे में पकड़े गए लोगों की पड़ताल में प्रभारी थानाध्यक्ष का पद भार किए हुए साहेब को अपने ही थाने से भागना इसलिए पड़ा क्योंकि वो खुद उस समय नशे की हालत में थे । एसपी ने जाँच अधिकारी की सूचना पर उन्हें निलम्बित करते हुए मुकदमा दर्ज करने का आदेश जारी किया है । बताते चलें कि जिले के अधिकतर थानों की देर रात गोपनीय तरीके से औचक निरीक्षण कराने का एसपी रोहन पी कनय ने अभियान शुरु किया है ।

 

 

जांच में उन्होंने महकमे के चुनिंदा अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी है । एसपी इस अभियान में खुद भी अपने अलग दस्ते के साथ निकल रहे हैं । एसपी श्री कनय के आदेश पर जिले में शराबियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा था। हर थाने की पुलिस सार्वजनिक स्थान पर शराब पीने वालों को उठाकर थाने ले गई। एसपी ने सलेमपुर सर्किल की जिम्मेदारी फायर सर्विस अधिकारी शंकर शरण राय को दी थी। रात में वह जांच करने खुखुंदू थाने पर पहुंचे। सूचना के मुताबिक खुखुन्दू थाने पर फायर सर्विस अधिकारी शंकर शरण राय ने प्रभारी थानाध्यक्ष से पकड़े गए शराबियों के बारे में जब जानकारी लेनी चाही तो वो चुप्पी साधे बैठे रहे ।

 

 

कुछ ही देर में जांच अधिकारी को पता चल गया कि प्रभारी थानाध्यक्ष नशे की हालत में हैं । इस सूचना को जांच अधिकारी ने तत्काल एसपी को बता दिया । कुछ ही क्षण बाद एसपी ने वायरलेस पर अपना आदेश सुनाते हुए शराब के नशे में पकड़े गए प्रभारी थानाध्यक्ष को निलम्बित करते हुए मुकदमा दर्ज करने का फरमान सुना दिया ।

 

 

इसके बाद ही अचानक हास्यास्पद स्थिति खड़ी हो गई। सेट पर प्रसारित एसपी के आदेश को सुनते ही प्रभारी थानाध्यक्ष अचानक उठे और सर्विस रिवाल्वर और सीयूजी नंबर लेकर बाउंड्री कूदकर भाग निकले । पुलिस ने बुधवार को प्रभारी थानाध्यक्ष के कमरे से सर्विस रिवाल्वर और सीयूजी नंबर मोबिलर बरामद कर लिया। इस बावत एसपी रोहन पी कनय ने बताया कि एसआई आनंद शंकर सिंह को संस्पेड कर दिया गया है। उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है । आगे विधिसम्मत कार्यवाही की जाएगी ।

sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned