स्टेशन मास्टर ने किया दुर्व्यवहार तो युवक ने एक घंटे तक रोक दी ट्रेन, मचा हडकंप

स्टेशन मास्टर ने किया दुर्व्यवहार तो युवक ने एक घंटे तक रोक दी ट्रेन, मचा हडकंप
train

स्टेशन अधीक्षक ने मांगी लिखित माफी

देवरिया. नाराजगी जाहिर करने का तरीका आप तो रेज ही सुनते होंगे। पर इस तरह की नारजगी सुनकर आपका भी दिमाग रूक जायेगा कि भला इस तरह से कैसे हो सकता है। जी हां यूपी के देवरिया में इस तरह का मामला सामने आने का बाद हर युवक के हंगामे ने स्टेशन अधीक्ष साहब को उनकी कद बता जी और माफी मांगने के बाद मामले का निपटारा हो सका। 

बतादें कि पूरा मामला भाटपार रानी के रेलवे स्टेशन का है जहां टिकट कटाने गये युवक से 
अधीक्षक ने दुर्व्यवहार किया जिससे नाराज होकर युवक ने आत्महत्या की धमकी देते हुए एक ट्रेन को एक घंटे तक रोके रखा। जिसके बाद अफरा-तफरी मच गई। बहुत समझाने बुझाने के बाद जब बात नहीं बनी तो स्टेशन अधीक्षक के लिखित माफी मांगने के बाद वह वहां से हटा फिर मामले का निपटारा हो सका। 

भटनी के नोनापार का मोनू तिवारी 13 नवम्बर को भाटपार रानी रेलवे स्टेशन पर टिकट बनवाने गया था। टिकट लेने के बाद सवारी गाड़ी से नोनापार जाना था। मोनू का आरोप है कि ट्रेन के बारे में पूछने पर स्टेशन अधीक्षक ने उससे अभद्रता की और गाली देते हुए भगा दिया। उसने डीआरएम, सीआरएफ, जीआरपी भटनी, आरपीएफ से शिकायत की। तीन दिन बाद भी कार्रवाई न होने से नाराज मोनू ने ट्रेन के सामने आत्मदाह की चेतावनी दी थी।

बुधवार को मोनू दस बजेस्टेशन पहुंच गया। सूचना मिलते ही जीआरपी और आरपीएफ के जवान भी आ गए। कुछ देर बाद छपरा-भटनी पैसेंजर ट्रेन आ गई। मोनू ट्रेन के आगे पटरी पर खड़ा हो गया। सूचना पा कर आए नायब अधिकारियों ने युवक को समझाया। एसडीएम ने भी मोबाइल पर उससे बात की लेकिन वह मान नहीं रहा था। आखिर में स्टेशन अधीक्षक अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने लिखित माफी मांगी। इसके बाद वह हटा और ट्रेन आगे बढ़ी। पूरे मामले की चर्चा जिले भर में जोर-शोर से चल रही है। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned