script10 year old girl's body raped, the poor hanged | 10 साल बच्ची के शव से बलात्कार, दरिंदे को फांसी | Patrika News

10 साल बच्ची के शव से बलात्कार, दरिंदे को फांसी

एक दरिंदे ने महज 10 साल की बच्ची को पहले मार दिया, फिर उसके बाद उसके शव के साथ बलात्कार किया.

देवास

Published: May 20, 2022 11:46:22 am

खातेगांव. ऐसा पहली बार हो रहा है, जब खातेगांव की एडीजे कोर्ट ने किसी को फांसी की सजा सुनाई है, दरअसल मामला ही इतना गंभीर था, एक दरिंदे ने महज 10 साल की बच्ची को पहले मार दिया, फिर उसके बाद उसके शव के साथ बलात्कार किया, इतनी शर्मनाक और भयानक दरिंदगी शायद ही कभी इस जिले में हुई हो, इसी कारण आरोपी को फांसी की सजा सुनाई गई है।

10 साल बच्ची के शव से बलात्कार, दरिंदे को फांसी
10 साल बच्ची के शव से बलात्कार, दरिंदे को फांसी


ये था मामला

जानकारी के अनुसार 7 नवंबर 2021 को बागड़ी कॉलोनी के एक निर्माणाधीन मकान में 10 वर्षीय बच्ची का शव संदिग्ध अवस्था में मिला था। जिसे देखकर परिजनों ने दुष्कर्म की संभावना जताई थी। इस मामले में पुलिस ने पहले हत्या का मामला दर्ज किया और फिर 2 दिन बाद दुष्कर्म/पॉक्सो एक्ट की धाराएं बढ़ाई गईं थी। इस मामले में पता चला कि आरोपी गंदी नियत के चलते मासूम को उठाकर ले गया था, जब वह उसके साथ जबरदस्ती करने लगा तो वह चिल्लाने लगी, इस कारण उसका मुहं बंद करने के लिए आरोपी ने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी, इसके बाद मासूम के शव के साथ बलात्कार किया, फिर उसके शव को वहीं पड़ी सीमेंट की बोरियों में छुपाकर भाग गया, इस ममाले में फैसला देते समय जज ने कहा कि ऐसी विकृत मानसिकता वाले व्यक्ति से समाज को बचाना बहुत जरूरी है।

6 माह में सुना दिया कोर्ट ने फैसला
वैसे तो कोर्ट में अधिकतर केस लंबे समय तक चलते हैं, लेकिन इस मामले में कोर्ट ने करीब ६ माह में ही फैसला सुना दिया है, जिसमें आरोपी को फांसी की सजा सुनाई है, इस मामले में उस समय खातेगांव में तैनात थाना प्रभारी एमएस परमार ने महज 24 घंटे में आरोपी को धर दबोचा था, मासूम के पिता की रिपोर्ट पर आरोपी गोलू उर्फ नरेन्द्र पिता भेरू सितोले (24) निवासी बड़ी बरछा के खिलाफ हत्या सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया था। इसके बाद आरोपी को कोर्ट में पेश कर प्रकरण शुरू कर दिया गया था। जिसका फैसला गुरुवार को सुनाया गया।

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी की अकबर से की तुलना, गुना एनकाउंटर पर सिंधिया बोले- दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंकने चाहिए

कल्पना से परे है, दुनिया देखना बाकी था

इस मामले में कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि आरोपी का यह कृत्य उसकी निर्दयतापूर्ण कामेच्छा को प्रकट करती है। उसने ऐसी बालिका को अपना लक्ष्य बनाया, जिसका दुनिया देखना शेष था। आरोपी ने मृत बालिका को जो पीड़ा व यंत्रणा दी है, वह कल्पना से परे है। यह हिंसा की एक पराकाष्ठा है। इस कारण अभियुक्त के साथ नरमी बरतना न्यायोचित नहीं है, बल्कि अभियुक्त से समाज को बचाने के लिए उसे समाज से अलग करना जरूरी है, क्योंकि वह समाज के लिए घातक बन चुका है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Britain के पीएम बोरिस जॉनसन ने दिया इस्तीफा, जानें वो 'एक फैसला' जिससे गई कुर्सीपीएम नरेंद्र मोदी ने अखिल भारतीय शैक्षिक समागम का किया उद्धाटन बोले नई शिक्षा नीति मातृभाषा में पढ़ाई के रास्ते खोल रहीलालू प्रसाद यादव की हालत नाजुक, तेजस्वी यादव बोले - '3 जगह फ्रैक्चर, दवा के ओवरडोज से तबीयत बेहद बिगड़ी'Karnataka: बागलकोट जिले के केरूर में हिंसा, चार घायल, तीन गिरफ्तारBhagwant Mann Marriage Live Updates: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को अरविंद केजरीवाल ने दी बधाईMumbai: कन्हैया लाल का समर्थन करने पर नाबालिग लड़की को मिली जान से मारने की धमकी, जानें पूरा मामलाप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 12 जुलाई को पटना जाएंगे, बिहार विधानसभा का दौरा करने वाले होंगे पहले पीएमMaharashtra Cabinet: कैबिनेट विस्तार पर बीजेपी और शिंदे गुट में ऐसे बनी सहमति, जानें किसके के खाते में कौन-कौन से विभाग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.