पहले टीआई को हटाने के लिए उतरना पड़ा सडक़ पर तो अब बजाने पड़ रहे झांझ-मंजीरे..

पहले टीआई को हटाने के लिए उतरना पड़ा सडक़ पर तो अब बजाने पड़ रहे झांझ-मंजीरे..
patrika

mayur vyas | Updated: 02 Aug 2019, 11:26:06 AM (IST) Dewas, Dewas, Madhya Pradesh, India

महापौर-सभापति से लेकर परिषद भाजपा की फिर भी करना पड़ रहा विरोध
सियासी गलियारों में बयां हो रहे भाजपा की बेबसी के किस्से

देवास. भाजपा की हालत इन दिनों दयनीय सी हो चली है। कुछ समय पहले तक जिस भाजपा का दबदबा था आज उसी भाजपा के नेता बेबस नजर आ रहे हैं। कभी टीआई को थाने से हटाने के लिए एसपी ऑफिस का घेराव करना पड़ रहा है तो कभी नगर निगम अधिकारियों के खिलाफ झांझ-मंजीरे बजाना पड़ रहे हैं। सत्ता जाते ही भाजपाइयों के अच्छे दिन भी जाते दिख रहे हैं और शहर के सियासी गलियारे में इस बेबसी के किस्से बयां किए जा रहे हैं।
दरअसल बेबसी की यह बात इसलिए उठी है क्योंकि गुरुवार को भाजपा पार्षद नगर निगम में पहुंचे, किसी काम से नहीं बल्कि झांझ-मंजीरे बजाने। किसी के पास झांझ थी तो किसी के पास मंजीरे। कोई ऐसा भी था जो बच्चों के पपैयेनुमा खिलोने को बजा रहा था। ऊपर जाकर पहले सभी ने चाय पी फिर नगर निगम के मेन गेट पर आकर विरोध प्रदर्शन में जुटे। ढोल वालों को बुलाकर रखा था और हाथों निगमायुक्त के खिलाफ नारे लिखी तख्तियां थाम रखी थी। काफी देर तक ढोल के साथ झांझ-मंजीरे बजते रहे। बाद में भाजपा के मंडल अध्यक्ष व दो-तीन दूसरे पदाधिकारी भी आए और विरोध प्रदर्शन में शामिल हो गए।
पार्षद की जगह प्रतिनिधि कर रहे काम
प्रदर्शन के दौरान पार्षद की जगह कई वार्डों से उनके प्रतिनिधि आए। इसे लेकर भी चर्चा हुई कि जब पार्षद तो दिखते ही नहीं, प्रतिनिधि ही नजर आते हैं। वे ही सारा काम कर रहे हैं। इसके पहले भाजपा कार्यालय पर हुई पार्षद दल की बैठक में भी यही हाल था। इधर कक्ष में भाजपा का झंडा नीचे गिर गया और भाजपा नेता ने पैर रख दिया। पास बैठे नेता की नजर पड़ी तो कुर्सी से उठे और पार्टी का झंडा उठाया।
निगमायुक्त के साथ की चर्चा
विरोध प्रदर्शन के कुछ देर बाद निगमायुक्त संजना जैन पहुंची। वे शहर में विभिन्न वार्डों के निरीक्षण के लिए गई थीं। निगमायुक्त के आने के बाद सभी पार्षद और पार्षद प्रतिनिधि उनके पास पहुंचे। अपनी बात रखी। निगमायुक्त ने पार्षदों की बात सुनकर अपना पक्ष रखा और देनदारियों के साथ ही हर पहलू स्पष्ट किया। बाद में पार्षद लौट आए।
हमारे साथ पक्षपात हुआ फिर भी हमने किया सहयोग
बात यहीं खत्म नहीं हो रही। कांग्रेस नेता सरकार आने के बाद काम पर लग गए हैं और भाजपा को कोसने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे। प्रेसनोट जारी करने में महारत हासिल रखने वाले कांग्रेसियों ने भाजपाइयों के विरोध प्रदर्शन पर भी प्रेसनोट जारी किया। नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष विक्रम पटेल ने कहा कि अभी कांग्रेस की सरकार बने मात्र सात माह ही हुए हैं। इतने कम समय में ही देवास नगर निगम के भाजपा पार्षद कांग्रेस पर व नगर निगम के अधिकारियों पर सत्ता के इशारे पर काम करने का आरोप लगा रहे हैं जो निराधार है। पूरा शहर जानता है कि इन चार वर्षो में देवास नगर निगम में भाजपा की परिषद व महापौर ने कांग्रेस के वार्डों में कोई काम ही नहीं होने दिए। हमने लगातार कहा कि आप हमारे साथ भेदभाव कर रहे हैं बावजूद उन्होंने हमारी नहीं सुनी जबकि आज भी परिषद उनकी है और हमारे वार्डों में काम नहीं हो रहे हैं। उल्टा भाजपा पार्षद सुबह से लेकर नगर निगम परिसर में झांझ मंजीरे बजा रहे हैं। 15 सालों में भाजपा की प्रदेश में सरकार रही और इस दौरान नगर निगम में उन्हीं के द्वारा नियुक्त कमिश्नर ने काम किया। हमने जो भी कमिश्नर रहे उन्हें पूरा सहयोग किया और कांग्रेस के पार्षदों के वार्ड में छोटे-मोटे काम कराएं। पटेल ने कहा कि भाजपा पार्षद प्रदेश में अपनी सरकार के जाने के बाद से ही डिप्रेशन में है उनकी परिषद होने के बावजूद वार्डों में जनहित के काम नहीं कर रहे हैं। हम तो चाहते हैं कि पूरे शहर का विकास हो भाजपा के पार्षद ओछी और नौटंकी की राजनीति बंद करें और शहर के विकास में अपना योगदान दें।
मेरे लिए तो सभी समान है
निगमायुक्त संजना जैन ने बताया कि गलतफहमी के कारण ऐसी स्थिति निर्मित हुई थी। जो लोग आरोप लगा रहे थे, विरोध कर रहे थे उन सभी के साथ बैठकर चर्चा की। उन्हें वस्तुस्थिति बताई। उन्हें भी संतोष हुआ। मैंने यही कहा कि मेरे लिए सभी समान है। मैं तो अभी नई आई हूं। ये भी नहीं जानती कि कौन सा वार्ड किसका है। मेरे लिए पूरा शहर प्राथमिकता में है। इसलिए सभी से कहा है कि नगर निगम एक टीम के रूप में काम करता है। सभी का सहयोग जरुरी है। सभी मिलकर काम करें तो अच्छे परिणाम आएंगे और शहर का व्यवस्थित विकास होगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned