बैंकों में लटके रहे ताले

बैंकों में लटके रहे ताले

Arjun Richhariya | Publish: May, 31 2018 02:07:56 PM (IST) Dewas, Madhya Pradesh, India


आज भी बंद रहेगी मंडी

देवास. यूनाइटेड फोरम आफ यूनियन के आह्वान पर बैंकों की दो दिनी हड़ताल की गई है। हड़ताल के कारण बैंकों में जहां ताला लटके रहे, वहीं मंडी भी सूनी रही। दरअसल बैंकों की हड़ताल के चलते मंडी में भी दो दिन का अवकाश घोषित कर दिया गया।
भारतीय स्टेट बैंक स्टेशन रोड शाखा देवास पर 30 मई को देवास की समस्त बैंकों के कर्मचारियों एवं अधिकारियों ने उपस्थित होकर 11 वें द्विपक्षीय वेतन समझौते में भारत सरकार एवं आईबीए के अडियल रूख एवं अनावश्यक देरी के विरोध में हडताल कर जमकर नारेबाजी की ।
ज्ञात हो कि बैंकों का 11 वां वेतन पुनरीक्षण समझौता 1 नवंबर से लंबित है। भारत सरकार एवं आईबीए द्वारा समय से वेतन समझौता किए जाने का आश्वासन एवं मात्र 2 वेतन वृद्धि का प्रस्ताव बैक यूनियन को दिया गया जो कि बैंक कर्मियों के लिये अपमानजनक है। इसके आक्रोश में देश की सभी बैंकों के लगभग 10 लाख से अधिक कर्मचारी, अधिकारी दो दिवसीय हड़ताल पर हैं। इस हड़ताल की जवाबदेही भारत सरकार के नुमाईन्दे आइबीए की है। अगर भारत सरकार का कर्मचारी विरोधी रूख आगे भी जारी रहता है तो हमें लंबी हडताल पर जाने के लिए विवश होना पडेगा। इस बैंक हड़ताल में सभी बैंकों के अधिकारी, कर्मचारी तथा भारतीय जीवन बीमा निगम के साथियों ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवा कर सरकार की नीतियों का विरोध किया । इस अवसर पर भारतीय अधिकारी संघ, इंदौर अंचल के संगठन सचिव श्रीकृष्ण बोकाडे एवं कर्मचारी संघ देवास के क्षेत्रिय सचिव मनीष जैसल, इंडियन बैंक के अनिल शर्मा, एलआईसी के मोहन जोशी, यूनियन बैंक के रवि डोंगरे आदि ने नारेबाजी कर सभा को संबोधित किया। देवास जिल के समस्त बैंक अधिकारी आज 31 मई को भी हड़ताल पर रहेंगे।बैंकों के हड़ताल के कारण एटीएम पर भीड़ देखी जा रही है, लेकिन अधिकांश लोग बिना पैसे के वापस जा रहे हैं। वहीं पैसे की किल्लत के कारण बाजार भी सूने नजर आ रहे है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned