बस स्टैंड से आने वाले दिनों में चलेंगी सिर्फ सिटी बसें

बस स्टैंड से आने वाले दिनों में चलेंगी सिर्फ सिटी बसें

Arjun Richhariya | Publish: Jul, 14 2018 12:09:25 PM (IST) Dewas, Madhya Pradesh, India

- बस स्टैंड से प्रायवेट बसों को बेदखल करने का चल रहा प्लान




जाहिद खान
देवास. महात्मा गांधी बस स्टैंड से देवास से उज्जैन रूट पर मात्र दो और शहर में मात्र एक सिटी बस का संचालन शुरू हो गया है। आने वाले दिनों में अन्य रूट पर चलने वाली इंटरसिटी, इंट्रासिटी बसों का संचालन भी होना है। इन बसों की संख्या अधिक होने से बस स्टैंड पर बसें खड़ी करने की जगह की मारामारी शुरू हो जाएगी। आने वाले दिनों में बस स्टैंड से सिटी बसों के संचालन को लेकर अधिकारी व कर्मचारियों की प्लानिंग चल रही है। इनकी प्लानिंग के अनुसार महात्मा गांधी बस स्टैंड के आधे हिस्से में लोहे के एंगल लगाकर सिटी बसों के लिए अधिग्रहण कर लिया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्र की बसों को इस तरफ आने की इजाजत बिलकुल नहीं रहेगी।
इसके अलावा देवास से इंदौर, शाजापुर, भोपाल सहित अन्य रूट के लिए निकलने वाली बसें बस स्टैंड में आएगी और सवारियां उताकर तत्काल बाहर हो जाएगी। आने वाले समय में धीरे-धीरे प्रायवेट बसों को बस स्टैंड से पूरी तरह से बेदखल कर दिया जाएगा। एक दम प्रायवेट बसों को बाहर करने पर इसका बस संचालक विरोध करना शुरू कर देंगे, इसलिए पहले आधे बस स्टैंड को सिटी बस के लिए अधिग्रहित कर आगामी प्लानिंग चल रही है। गौरतलब है कि उज्जैन रूट पर चलने वाली २० बसों को सिटी बस संचालन के लिए पहले से ही बाहर कर दिया था। उस समय बस संचालकों ने हड़ताल की थी, तब तात्कालिक कलेक्टर और वर्तमान ट्रैफिक डीएसपी किरण शर्मा ने जहां से सिटी बसें चलेंगी वहीं से उज्जैन रूट सहित अन्य बसों का संचालन शुरू होगा। वर्तमान में सिटी बस शुरू हो गई, किंतु उज्जैन रूट बस संचालकों से सौतेला व्यवहार कर उज्जैन चौराहे से संचालित करवाई जा रही है।
सिटी बस का अलग रहता स्टैंड
इधर शहर के बड़े बालाजी ट्रेवल्स बस संचालक वीरेंद्रसिंह बैस, जो बस स्टैंड निगरानी समिति के सदस्य भी हैं, उन्होंने कहा कि सिटी बसों का संचालन लोक परिवहन के लिए अच्छा है, लेकिन इनके लिए अगल से बस स्टैंड होना चाहिए। मैंने उज्जैन, इंदौर, भोपाल, जबलपुर, सागर, छतरपुर ग्वालियर आदि शहरों में जाकर सिटी बसों के संचालन की स्थिति देखी, जहां पर सिटी बसों के लिए अलग से बस स्टैंड बनाया गया है। अकेला देवास ही बिरला शहर है जहां पर सिटी बसें पुराने बस स्टैंड से संचालित करवाई जा रही है। पुराने बस स्टैंड से हर शहर में प्रायवेट बसें ही संचालित हो रही हैं। अगर हमारी बसों को महात्मा गांधी बस स्टैंड से बाहर किया तो हम कोर्ट की शरण में जाएंगे।
- जिले के पास बन रहा स्टैंड
सिटी बसों के अलावा महात्मा गांधी बस स्टैंड से चलने वाली सभी प्रायवेट बसें आने वाले दिनों में जिला जेल के पास बन रहे नवीन बस स्टैंड से संचालित होंगी। महात्मा गांधी बस स्टैंड पर सिर्फ शहरी क्षेत्र में चलने वाली सिटी बसें चलेंगी। नए बस स्टैंड का कार्य तेजी से चल रहा है, जहां पर सिटी बसें भी खड़ी रहेंगी।
सूर्यप्रकाश तिवारी, ऑरेटिंग ऑफिसर लोक परिवहन विभाग देवास।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned