गांव पहुंचा शहीद का शव, बिलख पड़े लोग, हाथों में तिरंगा लेकर लगाए नारे

गांव पहुंचा शहीद का शव, बिलख पड़े लोग, हाथों में तिरंगा लेकर लगाए नारे

Hussain Ali | Updated: 14 Jun 2019, 12:41:39 PM (IST) Dewas, Dewas, Madhya Pradesh, India

शुक्रवार को अमर शहीद का शव गांव पहुंचा। शहीद संदीप यादव के सम्मान में जनसैलाब उमड़ पड़ा है।

देवास. भौंरासा के पास कुलाला गांव के सीआरपीएफ के जवान संदीप यादव की अनंतनाग में शहादत के बाद गांव में गुरुवार को मातम पसरा रहा। लोग दैनिक कामकाज में तो लगे रहे, लेकिन उनकी आंखें गांव के लाल को याद कर नम थीं। बच्चों से लेकर युवा व बुजुर्ग और महिलाएं सभी गमगीन थे। शुक्रवार को अमर शहीद का शव गांव पहुंचा। शहीद संदीप यादव के सम्मान में जनसैलाब उमड़ पड़ा है।

भोपाल रोड स्थित भौंरासा फाटे पर सैकड़ों लोग उनकी पार्थिव देह का इंतजार कर रहे थे। सभी के हाथों में तिरंगा था। सभी संदीप यादव अमर रहे के नारे लगा रहे थे। भौंरासा की सडक़ों पर रंगोलियां बनाई गई। 100 से अधिक जगह मंच लगाए गए हैं। कई लोग तो 4 किमी तक का सफर पैदल तय करके पहुंचे। सोनकच्छ में लोगों ने सडक़ों पर उतरकर वीर जवान संदीप यादव को श्रद्धांजलि दी। भारत माता की जय के नारे लगाए। आतिशबाजी के साथ लोगों ने वीर जवान का सम्मान किया। गांव के कई परिवारों के सदस्य रातभर नहीं सोए और गुरुवार को उनके घरों में चूल्हे नहीं जले।

dewas

सरकार देगी एक करोड़ रुपए और नौकरी

लोक निर्माण विभाग व पर्यावरण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा भी गुरुवार दोपहर कुलाला पहुंचे। शहीद संदीप यादव के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार शहीद के परिजन को 1 करोड़ रुपए, एक सदस्य को सरकारी नौकरी और मकान देगी। कलेक्टर श्रीकांत पाण्डेय व एसपी चंद्रशेखर मालवीय ने भी शहीद के घर पहुंचकर परिवार को हिम्मत बंधाई।

dewas

मिलनसार थे संदीप यादव

संदीप यादव गांव का चहेता बेटा था। उसका मिलनसार व्यवहार पूरे गांव के लोगों को भुलाए नहीं भूल रहा। गांव के कई लोगों को उसके शहीद होने का पता गुरुवार सुबह पता चला तब तक गांव में पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों, कर्मचारियों का मजमा लग गया था। सुबह कलेक्टर डॉ. श्रीकांत पांडेय सहित एसपी सीएस. सोलंकी, शहर प्रभारी एएसपी नीरज चौरसिया, सोनकच्छ एसडीएम अंकिता जैन सहित अन्य अधिकारी कुलाला पहुंचे। इससे पहले सुबह करीब साढ़े आठ बजे संदीप के पिता कांतिलाल कुछ अनहोनी की आशंका के साथ गंाव के एक जवान जगदीश चौधरी जो छुट्टी पर आए हुए हैं, उनके यहां पहुंचे। यहीं पर भौंरासा पुलिस के एक अफसर ने उनको अनंतनाग के आतंकी हमले में बेटे की शहादत के बारे में बताया। इसके बाद कांतिलाल बिलख पड़े।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned