कहीं हाथ जोड़े, कहीं जलेबी फेंकी तो कहीं झुमाझटकी की

कहीं हाथ जोड़े, कहीं जलेबी फेंकी तो कहीं झुमाझटकी की

Amit S. Mandloi | Publish: Sep, 11 2018 11:25:54 AM (IST) Dewas, Madhya Pradesh, India

- कांग्रेस ने भारत बंद आह्वान पर दुकानें करवाई बंद, स्टेशन रोड पर निकले कांग्रेसी गिरी शटर, जाने पर फिर खुली

देवास. भारत बंद के आह्वान पर शहर में कांग्रेसियों की भीड़ जवाहर चौक में एकत्रित हुई और दो पहिया वाहन से भीड़ शहर के प्रमुख मार्गों पर निकलकर खुली दुकानों को बंद करवाया गया। भीड़ के साथ ही पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारी साथ में चल रहे थे। दुकानें व पेट्रोल पंप बंद करवाने के दौरान बार-बार धक्का-मुक्की, बहस होती रही। हालांकि शहर में 80 फीसदी तक दुकानें पहले से बंद थी, कुछ ऐसे दुकानदार थे, जिनके हाथ जोड़े फिर भी दुकान बंद नहीं की तो कांग्रेसी उग्र होने लगे थे। पुलिस बल होने से मामला बिगड़ा नहीं, वरना मारपीट तक भी हो सकती थी।

सोमवार सुबह सबसे पहले कांग्रेसियों ने कार्यालय के पास स्थित चाय की गुमटी पर सबसे पहले चाय पी और जवाहर चौक में शहर कांगे्रस अध्यक्ष मनोज राजानी ने सभी से कहा कि हमें हाथ जोड़कर दुकानों बंद करवानी है। कहीं भी झुमाझठकी और कानून को हाथ में नहीं लेना है। कांग्रेसियों के आगे पहले पुलिस की गाडिय़ां कुछ दूर तक चली और कांग्रेसियों की बाइक पुलिस वाहन से आगे आ गई। जवाहर चौक से कांग्रेसी जनता बैंक चौराहे पहुंचे जहां पर पुलिस ने पहले से बेरिकेटिंग कर रखी थी, क्योंकि सब्जियों की दुकानें लगी थी। दुकानदारों से कांग्रेसियों ने हाथ जोड़कर दुकानें बंद करने का निवेदन किया और आगे निकल गए।

मोदी फोटो के सामने की नारेबाजी

एबी रोड स्थित खनूजा पेट्रोल पंप पर कांग्रेसी पहुंचे, जहां पर मोदी का बड़ा फोटो लगा था, जिसके सामने जमकर नारेबाजी कर चालू पंप को देख कार्यकर्ताओं ने एक नोजल व कचरे की डस्टबीन फेंक दी, फिर पंप बंद कर दिया गया। बस स्टैंड, पीठा रोड और पुराना बस स्टैंड से रतन पोहे वाले के यहां हाथ जोड़कर दुकान बंद करने का कहा। इसके बाद पीठा रोड पर कुछ खुली दुकानों की शटर बंद करवाई।

दूसरी बाद खुली दुकान देख फेंक दी जलेबी

अन्नपूर्ण फेमेली रेस्टोरेंट पर कांग्रेसियों ने एक बार जाकर दुकदान बंद करने का निवेदन किया था। दूसरी बार जाने पर दुकान खुली देख कार्यकर्ताओं ने जलेबी, प्याज फेंके व काउंटर पर लात मारी। यह देख पुलिस बीच में आई और जलेबी फेंकने वाले को दबोच लिया। कार्यकर्ता को छुड़ाने के लिए पुलिस से कांग्रेसियों की झुमाझटकी हो गई। इसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ता को छोड़ दिया। कांग्रेसियों की भीड़ ने स्टेशन रोड की ओर कूच किया तो सड़क के दोनों ओर की खुली कुछ दुकानें सटा-सट बंद हो गई। भीड़ के जाने के बाद फिर से दुकानदारों ने दुकान ओपन कर ली। मक्सी बायपास पर खुले पेट्रोल पंप, रिलायंस पंप, औद्योगिक पुलिस थाने के पीछे स्थित पंप को बंद करवाते हुए सीएनजी पंप को बंद करवाया। रसूलपुर चौराहे के आगे प्राइम कार के खुले शोरूम में अंदर घुसे। यहां पर जमकर नारेबाजी की तो पुलिस ने इन्हे रोका और धक्का-मुक्की कर बाहर कर दिया गया।
पूर्व कांग्रेस पार्षद पति की दुकान बंद करवाई
पूर्व कांग्रेस पार्षद पति रईस खान जो हाल ही में भाजपा में शामिल हुए हैं। उनकी खुली दुकान को देख कांग्रेसियों की भीड़ वहां पहुंच गई। जमकर नारेबाजी करते हुए दुकान बंद करवाने की जीद पर अड़ गए। साथ में चल रही पुलिस ने कांग्रेसियों को यहां से बाहर किया, इसके बाद कांग्रेसी उज्जैन रोड पर अन्य कुछ खुली दुकानों को बंद करवाने के लिए पहुंच थे। दोपहर करीब दो बजे कलेक्टोरेट में पहुंचकर एसडीएम जीवन रजक को आवेदन राज्यपाल के नाम सौंप पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर लगाम लगाने की मांग की गई। कांग्रेसियों के पीछे ही एसपी अंशुमानसिंह, कलेक्टर श्रीकांत पांडे, एससपी अनिल पाटीदार, एसडीएम रजक सहित तममा अधिकारी सुरक्षा-व्यवस्था की दृष्टि से घुम रहे थे।

बंद के दौरान जयसिंह ठाकुर, रेखा वर्मा, शौकत हुसैन, पं. जयप्रकाश शास्त्री, एम असलम शेख, भगवानसिंह चावड़ा, प्रदीप चौधरी, जसवंतसिंह राजपूत, मनीष चौधरी, सुधीर शर्मा, विक्रम पटेल आदि कांग्रेसी उपस्थित थे। कांग्रेस अध्यक्ष राजानी ने व्यापारियों का आभार माना।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned