फल बेचने के वाले के बाद उसका बेटा-बेटी, तौल कांटे का ऑपरेटर एवं पूर्व वाहन चालक निकले कोरोना संक्रमित

हाटपीपल्या, सुतार बाखल के बाद भवानी सागर ऐसा क्षेत्र जहां एक ही घर में तीन मरीज, दूसरे दो मरीज नए क्षेत्रों शांतिपुरा व मोहसिनपुरा के
पॉजिटिव मिले चार मरीजों में से दो पहले से ही भर्ती थे अस्पताल में, भाई-बहन को क्वॉरंटीन सेंटर से भेजा गया अमलतास अस्पताल

By: Chandraprakash Sharma

Published: 10 May 2020, 05:49 PM IST

देवास। शहर में कोरोना संक्रमण लगातार पैर पसारता जा रहा है। पिछले चार दिनों में जिले में कुल १० संक्रमित मरीज मिल चुके हैं जिसमें से ९ शहर से हैं। शुक्रवार को दो नए मरीज मिलने के बाद शनिवार को भी चार मरीजों के पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई। इसमें दो उस फल विक्रेता के बेटा-बेटी हैं जो पिछलेे दिनों कोरोना संक्रमित मिल चुका है। वहीं दो अन्य मरीज शहर के नए क्षेत्रों शांतिपुरा व मोहसिनपुरा से हैं। इनमें से एक वाहन चालक रह चुका है जबकि दूसरा एक निजी तौल कांटे पर ऑपरेटर है। पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद मोहसिनपुरा, शांतिपुरा में सेनेटाइजेशन, स्क्रीनिंग, बेरेकेडिंग करके कंटेनमेंट एरिया बनाए गए। वहीं भवानी सागर में पहले से ही कंटेनमेंट एरिया बना हुआ है। पॉजिटिव मिलने वाले भाई-बहन को क्वारंटीन सेंटर से अमलतास अस्पताल पहुंचाया गया।जिले में अब कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर ३८ हो गईहै।
शहर में चार दिनों के अंतराल के बाद बुधवार को चार लोगों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुईथी। इनमें से तीन शहर के बजरंगनगर, संजयनगर, भवानी सागर व एक ग्राम टोंककला का व्यक्ति था। इसके बाद गुरुवार को कोई रिपोर्टनहीं आई और शुक्रवार को फिर से दो पॉजिटिव मिले, दोनों ही शहर के सिविल लाइन, वासुदेवपुरा के रहने वाले हैं। इसके बाद शनिवार को ३४ संदिग्ध मरीजों की सूची आते ही चिंता एक बार फिर से बढ़ गई क्योंकि इसमें भी चार लोग पॉजिटिव मिले हैं। बुधवार को भवानी सागर का जो फल विक्रेता कोरोना संक्रमित मिला था उसकी १८ वर्षीय बेटी व १४ साल का बेटा भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं मोहसिनपुरा में रहने वाला ६६ वर्षीय बुजुर्ग व शांतिपुरा का ४५ साल का युवक भी पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग, पुलिस-प्रशासन, निगम की टीमें मोहसिनपुरा, शांतिपुरा पहुंची और सेनेटाइजेशन, स्क्रीनिंग, बेरेकेडिंग की प्रक्रिया पूरी की, मरीजों के परिजनों व संपर्क में आने वालों की सूची तैयार कर उनको आइसोलेट, क्वारंटीन करने की प्रक्रिया शुरू की गई। वही भवानीसागर में जो दो भाई बहन पॉजिटिव मिले हैं उनके पिता बुधवार को पॉजिटिव निकले थे।इसके बाद परिजनों, संपर्क में आने वाले सहित इन दोनों को भी क्वारंटीन सेंटर उज्जैन रोड में रखा गया था। रिपोर्ट आने के बाद शनिवार को इनको अमलतास अस्पताल भेजा गया।
सांस लेने में दिक्कत के बाद किया था भर्ती
शांतिपुरा निवासी जो युवक कोरोना संक्रमित मिला है वो शहर के टाटा चौराहा क्षेत्र में तौल कांटे में ऑपरेटर है। उसका एक भाई इसी क्षेत्र में एक निजी कंपनी में काम करता है। तीन-चार दिन पहले सांस लेने में तकलीफ आने के बाद जांच कर युवक को भर्ती किया गया था। कोरोना संदिग्ध मानते हुए जांच के लिए नमूने भेजे गए थे।
ऑटो व लोडिंग वाहन चलाते हैं दोनों बेटे
जानकारी के अनुसार मोहसिनपुरा में रहने वाले बुजुर्ग पूर्व में राज्य परिवहन निगम की बस में चालक थे। कई सालों से वो घर पर ही थे। इनके दो बेटे भी वाहन चालक हैं, ऑटो व लोडिंग वाहन चलाते हैं। पिछले दिनों तबीयत बिगडऩे के बाद बुजुर्ग के नमूने लिए गए थे। इसके बाद अमलतास अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Chandraprakash Sharma Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned