सीआइएसएफ जवान के साथ बैरक में रहने-संपर्क में आने वाले मप्र के तीन-असम का एक जवान संक्रमित

जिले मेंं कुल 6 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले, एक शहर के कार्तिकनगर व एक सोनकच्छ का, कुल संक्रमितों की संख्या हुई 161, अब तक 105 हो चुके हैं डिस्चार्ज, 10 की मौत, एक्टिव केस हैं 46

By: Chandraprakash Sharma

Published: 14 Jun 2020, 05:48 PM IST

देवास। १० अप्रैल से जिले में शुरू हुआ कोरोना संक्रमण अब सुरक्षित क्षेत्र माने जाने वाली बैंक नोट प्रेस कॉलोनी में भी पहुंच गया है। यहां तैनात सीआईएसएफ की चार जवान संक्रमित पाए गए हैं। ये चारों जवान उस संक्रमित जवान के साथ बैरक में रहने व संपर्क में आने के कारण पॉजिटिव निकले हैं जिसकी मौत पिछले दिनों छिंदवाड़ा में कोरोना के कारण हो गईथी। इनके चार जवानों के अलावा शहर के कार्तिकनगर व अंचल के सोनकच्छ में भी एक-एक नए संक्रमित मरीज मिले हैं। ६ नए मरीजों के मिलने से जिले में कुल संक्रमितों की संख्या १६१ हो गईहै।
शनिवार को ९४ संदिग्ध मरीजों की कोरोना जांच रिपोर्टआई।इसमें से ८६ नेगेटिव और ६ पॉजिटिव रहीं। वहीं पूर्व से संक्रमित दो मरीजों का रिपीट सेम्पल भी नेगेटिव रहा।नए मरीजों में पांच देवास व एक सोनकच्छ का है। देवास में पांच में से चार मरीज बैंक नोट प्रेस कॉलोनी के हैं और चारों सीआईएसएफ के जवान हैं।वहीं एक अन्य मरीज कार्तिकनगर का है जो पहले से ही कोरोना हॉटस्पॉट बना हुआ है। बीएनपी में तैनात सीआईएसएफ यूनिट के एक जवान की मौत पिछले दिनों छिंदवाड़ा में हुई थी जो कोरोना पॉजिटिव पाया गया था।इसकी सूचना मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम बीएनपी पहुंची थी और संबंधित जवान के साथ रहने वाले व संपर्क में आने वाले करीब २०-२२ अन्य जवानों की जांच की गईथी। नमूने लेते हुए इनको क्वारंटीन किया गया था। इनमें से ४ पॉजिटिव निकले हैं जिसमें से तीन मप्र व एक असम का रहने वाला है।बीएनपी के संक्रमितों में ५६ वर्षीय हेड कांस्टेबल शामिल है जो मूल रूप से मप्र के दतिया जिले का निवासी है वो पूर्व संक्रमित जवान के साथ बैरक में रहता था, वहीं से संक्रमण की चपेट में आया।इसी तरह असम का निवासी २६ साल का जवान भी पूर्व संक्रमित के संपर्कमें आने के कारण बीमार हुआ। वर्तमान में यह बैरक मेंं अकेला रहता है।यह जवान २०१८ में बीएनपी में पदस्थ हुआ था। एक अन्य जवान जो मप्र के बैतूल जिले का मूल निवासी है, इसका परिवार बैतूल में ही रहता है। जवान अकेला बैरक में रहता है, पूर्व संक्रमित के संपर्कसे पॉजिटिव निकला है। यह भी २०१८ से बीएनपी देवास में है। एक अन्य जवान मप्र के सतना जिले का निवासी है और इसी साल मार्च में कटक (उड़ीसा) से स्थानांतरित होकर देवास आया है। यह पूर्व संक्रमित जवान के साथ बैरक में रहता था, इसका परिवार सतना में ही निवास करता है। बीएनपी में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद यहां सेनेटाइजेशन, फॉगिंग, बेरेकेडिंग के साथ ही अन्य संपर्क वालों व आसपास के लोगों की स्क्रीनिंग की गई। जवानों को अस्पताल में भर्तीकरवाया गया है।
कार्तिकनगर में मकान ठेकेदार पॉजिटिव
उधर शहर में कोरोना हॉटस्पॉट बने कार्तिकनगर में कुछ दिनों की राहत के बाद फिर से एक संक्रमित मरीज की पुष्टि शनिवार को हुई। ५५ साल का यह मरीज मकान निर्माण ठेकेदार है। इसका बेटा भी मकान निर्माण का काम करता है। परिवार में चार सदस्य हैं। इनके पड़ोस में चार कोरोना संक्रमित मरीज पहले ही मिल चुके हैं। यह क्षेत्र वर्तमान में कंटेनमेंट एरिया बना हुआ है। संक्रमित ठेकेदार को अमलतास अस्पताल पहुंचाया गया है।
बुखार के बाद संक्रमित मिली पूर्व पार्षद की पत्नी
सोनकच्छ में भी धीरे-धीरे कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। शनिवार को फिर से एक मरीज का पता चला। यह ५० साल की महिला है जो पूर्व पार्षद की पत्नी है। १० जून को इसको हल्का बुखार आया था। इसके बाद जांच के लिए नमूने लिए गए थे। इनके परिवार में पांच सदस्य हंै।
निगम ने सेनेटाइजेशन में सारे संसाधन झोंके
बीएनपी में कोरोना संक्रमण की पुष्टिहोते ही निगम आयुक्त विशालसिंह चौहान ने स्वास्थ्य अधिकारी को बीएनपी क्षेत्र को सेनेटाइज करने के निर्देश दिए। नगर निगम की टीमों द्वारा तत्काल पूरे बीएनपी क्षेत्र को आधुनिक ट्रैक्टर मशीन, सेनेटाइजर मशीन, छोटे व बड़े दमकल वाहन की मदद से सेनेटाइज किया गया।इसके साथ ही मशीन से फॉगिंग भी की गई।
जिले में सात और पूर्व संक्रमित हुए स्वस्थ
जिले में कोरोना संक्रमण के नए मरीजों के लगातार मिलने के बीच स्वस्थ होने वालों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। शनिवार को 7 और मरीजों के स्वस्थ होने पर इनको डिस्चार्ज किया गया। इसके बाद जिले में डिस्वार्जहोने वालों की संख्या १०५ हो गईहै। वहीं १० मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि एक्टिव केस ४६ हैं। शनिवार को १०७ और संदिग्धों के नमूने भेजे गए हैं, इनको मिलाकर २९९ रिपोर्टआना शेष है।

Chandraprakash Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned