scriptdewas news | देवास में लम्पी वायरस की आहट: मिलते-जुलते लक्षणों से कई मवेशी बीमार, तीन संदिग्ध के सेम्पल भेजे भोपाल | Patrika News

देवास में लम्पी वायरस की आहट: मिलते-जुलते लक्षणों से कई मवेशी बीमार, तीन संदिग्ध के सेम्पल भेजे भोपाल

-सोनकच्छ, टप्पा सुकल्या, पांदाजागीर, सिया, कांटाफोड़ सहित अन्य क्षेत्रों में कई गायें बीमार, वैक्सीन उपलब्ध करवाने की उठ रही मांग
-पशु चिकित्सा सेवाएं, स्वयंसेवी संस्थाओं व निजी स्तर से अब तक करीब 10 हजार मवेशियों को लगाई गई वैक्सीन

देवास

Published: September 23, 2022 02:09:13 pm

देवास. जिले में लम्पी वायरस की चपेट में मवेशियों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। हालांकि अभी तक एक भी मवेशी के लम्पी वायरस से पीडि़त होने की अधिकृत पुष्टि नहीं हुई है लेकिन मिलते-जुलते लक्षणों से कई मवेशी पीडि़त हैं। पशु चिकित्सा सेवाएं ने सोनकच्छ व हाटपीपल्या के टप्पा सुकल्या क्षेत्र से ऐसे ही तीन संदिग्ध मवेशियों के सेम्पल एकत्रित करवाकर जांच के लिए भोपाल भेजे हैं। इन मवेशियों का लम्पी प्रोटोकाल के हिसाब से उपचार शुरू कर दिया गया है। जिले के पांदाजागीर, सिया, कांटाफोड़ आदि क्षेत्रों में भी लम्पी वायरस के लक्षणों से पीडि़त मवेशियों के मामले सामने आए हैं। जिले में पशु चिकित्सा विभाग द्वारा करीब 6500, स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा करीब 1000 व निजी स्तर से करीब 3000 मवेशियों को टीके लगाए जा चुके हैं।
कांटाफोड़ में लाखों की गौशाला खा रही धूल, गायें लम्पी की चपेट में
कांटाफोड़. नगर कांटाफोड़ में भी गाय अब लम्पी वायरस की चपेट में आ रही हंै। रात्रि के समय नगर के बस स्टैंड पर ऐसी ही एक गाय को घूमते हुए देखा गया है जिसमें लम्पी वायरस के लक्षण साफ नजर आ रहे हैं। ऐसे में पशु चिकित्सा सेवाएं की ओर से ध्यान ना देने के कारण एक साथ कई गाय इसकी चपेट में आ सकती है। नगर के मुख्य मार्ग से लेकर अंदर की गलियों में भी गायों का झुंड सडक़ के ऊपर ही बैठा रहता है, इन स्थितियों में लम्पी वायरस गायों पर कहर बरपा सकता है। नगर से 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित चंद्र केश्वर बांध की टेकरी पर कांग्रेस की कमलनाथ सरकार में लाखों रुपए से गौशाला का निर्माण किया गया था तथा इसी गोशाला में लोकसभा उपचुनाव के समय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पहुंचकर पौधारोपण भी किया था लेकिन अभी तक यह गोशाला महज शोपीश बनी हुई है। यहां पर किसी भी प्रकार से गायों को रखा नहीं जा रहा है, वहीं गाय सडक़ों पर नजर आ रही है। गोशाला में पहुंचकर देखा गया कि वहां पर सिर्फ शटर का लगना बाकी है बाकी सब कार्य पूर्ण हो चुका है। नगर में लम्पी वायरस से ग्रसित गाय दिखने लगी हैं लेकिन पशु चिकित्सा सेवाएं की ओर से किसी भी प्रकार की तैयारी नजर नहीं आ रही है जो कि एक बड़ी चूक साबित हो सकता है। मोहन सिंह नरगावे पशु चिकित्सालय कांटाफोड़ ने बताया शासन की ओर से गोशालाओं में टीके लगवा दिए गए हैं गो पालकों के लिए किसी भी प्रकार के निर्देश नहीं है और जो लम्पी वायरस का केस कांटाफोड़ में बताया जा रहा है वह पिछले वर्ष का है।
वर्जन
सोनकच्छ व टप्पा सुकल्या क्षेत्र से तीन संदिग्ध मवेशियों के सेम्पल लेकर जांच के लिए भोपाल भेजे जा रहे हैं। लम्पी से मिलते-जुलते लक्षण होने पर पशु पालक उस पशु को अलग कर तुरंत उपचार करवाएं, इस बीमारी में मृत्यु दर कम है। यदि किसी गांव में लम्पी की पुष्टि होती है तो सभी मवेशियों का टीकाकरण करवाया जाएगा। जिले में अभी एक भी लम्पी वायरस का अधिकृत केस नहीं है।
-ओपी त्रिपाठी, उपसंचालक पशु चिकित्सा।
देवास में लम्पी वायरस की आहट: मिलते-जुलते लक्षणों से कई मवेशी बीमार, तीन संदिग्ध के सेम्पल भेजे भोपाल
देवास में लम्पी वायरस की आहट: मिलते-जुलते लक्षणों से कई मवेशी बीमार, तीन संदिग्ध के सेम्पल भेजे भोपाल
पांदाजागीर में एक मवेशी में नजर आए लम्पी के लक्षण
पांदाजागीर. प्रदेश के कई जिलों में लम्पी वायरस का प्रकोप है। इसी के साथ देवास जिले में भी लम्पी वायरस ने अपने पैर पसारना शुरू कर दिया है, ग्राम पांदाजागीर में एक पशु पालक के यहां एक मवेशी को लम्पी वायरस जैसे लक्षण दिखने पर मवेशी को एक तरफ बांध कर रखा है ताकि जिससे अन्य मवेशी सुरक्षित रह सके। ग्रामीणों ने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को इस संबंध में सूचना कर दी गई है एवं ग्रामीणों ने मांग की है कि पशुओं को समय से पहले ही लम्पी वायरस का टीका लगाया जाए जिससे वो सुरक्षित रह सकें।
सिया में भी लम्पी के लक्षण आए नजर
देवास/सिया. ग्राम सिया में एक पशु मालिक के यहां एक गाय लम्पी वायरस के मिलते-जुलते लक्षणों से संक्रमित पाई गई। साथ ही एक आवारा मवेशी में भी लक्षण नजर आए हैं जिससे किसानों की चिंता बढ़ गई है। गाय का उपचार डॉ विजय सोलंकी द्वारा किया। ग्राम सिया में अधिक संख्या में आवारा मवेशी इन दिनों नजर आ रहे हैं जिनके लम्पी के चपेट में आने का खतरा बना हुआ है।
लम्पी वायरस के टीके शीघ्र उपलब्ध कराने की मांग
हाटपीपल्या. गायों में लम्पी वायरस तेजी से फैल रहा है। जिससे गो पालक चिन्तित हैं। इस बीमारी के टीके शासकीय पशु चिकित्सालयों में उपलब्ध नहीं हैं। इन्दौर दुग्ध संघ के पूर्व संचालक रमेशचंद्र जायसवाल एडवोकेट ने कलेक्टर को पत्र लिखकर लम्पी वायरस के टीके शासकीय पशु चिकित्सालय हाटपीपल्या में शीघ्र ही निशुल्क व पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराये जाने की मांग की है। साथ ही इस बीमारी के उपचार की दवाइयां भी उपलब्ध कराई जाकर इलाज भी नि:शुल्क उपलब्ध कराने की मांग की है।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

New CDS: रिटायर्ड ले. जनरल अनिल चौहान को मिली CDS की कमान, अजीत डोभाल के करीबी और आतंकवाद पर लगाम लगाने में हैं माहिरदेश के नए अटॉर्नी जनरल होंगे वरिष्ठ वकील आर वेंकटरमणि, केके वेणुगोपाल की लेंगे जगहVideo: त्रिपुरा के CM ने कहा, 'देश की अखंडता के लिए PFI का बैन होना जरूरी था'West Bengal: ममता सरकार को हाईकोर्ट से झटका,खारिज हुई 'दुआरे राशन' योजनाIND vs SA 1st T20: भारत ने टॉस जीतकर किया गेंदबाजी का फैसलाFree Ration Scheme: मोदी सरकार का बड़ा फैसला, 80 करोड़ लोगों को तीन महीने और मिलेगा मुफ्त अनाजदिग्विजय सिंह लड़ेंगे कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव, कमलनाथ ने दो टूक कहा- मैं मध्यप्रदेश नहीं छोडूंगाDA Hike : केंद्रीय कर्मचारियों को दिवाली गिफ्ट, सरकार ने 4 फीसदी बढ़ाया डीए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.