आंधी तूफान से खातेगांव में जनजीवन अस्त.व्यस्त

- बड़ी संख्या में पेड़ व खंबे गिरे, कई मकानों में लगी आग

खातेगांव देवास

. खातेगांव सहित ग्रामीण क्षेत्रों में भीषण आंधी पानी तूफान से गुरुवार को जनजीवन अस्त.व्यस्त हो गया। खातेगांव सहित अनेक गांवों में बड़ी संख्या में वृक्ष गिरे, बिजली के खंभों के गिरने से मार्ग अवरुद्ध हो गया। वहीं कई घरों में आग लग जाने से भारी नुकसान हुआ। प्रशासन पूरे मामले की जानकारी एकत्र कर रहा है गुरुवार शाम 4 बजे पूरे क्षेत्र में बिजली चमक के साथ जोरदार आंधी तूफान ने लोगों के होश उड़ा दिए। आधा घंटा तक आंधी पानी व तूफान ने खातेगांव नेशनल हाईवे पर अनेक वृक्ष के टूट जाने से मार्ग अवरुद्ध हो गया। इस दौरान सैकड़ों वाहनों की कतार दोनों तरफ लग गई। प्रशासन पेड़ को हटाने के लिए मशक्कत करता रहा, स्थानीय नागरिकों ने भी पेड़ हटाने में मदद की, जिससे मार्ग पुन: प्रारंभ हो गया। वहीं डाक बंगला परिसर में भी दो बड़े वृक्ष व तार टूट जाने से आवागमन अवरुद्ध हो गया। वही झूलाघर टूट जाने से कुछ लोग घायल हुए हैं। साथ ही साथ खातेगांव के 70 से 80 गांव में सैकड़ों खंबे टूट गए। तेज आंधी तूफान से कई गांव के घरों में भी आग लग जाने के समाचार हैं। अनुभागीय अधिकारी ने जीवन सिंह रजक ने नुकसानी का जायजा लेने के लिए ग्राम पंचायत के सचिवों को आदेश जारी किए हैं।

दिनभर की गर्मी से शाम को मिली राहत
- अंचल में कई जगह हुई बारिश
देवास. शहर सहित अंचल में गुरुवार को बारिश हुई। शहर में शाम को कुछ देर के लिए रिमझिम बारिश हुई। दिन में उमस के साथ तेज गर्मी से सभी परेशान थे लेकिन शाम को हुई बारिश ने राहत दी। अंचल के खातेगांव व नेमावर में आंधी ने नुकसान पहुंचाया हैं। कई घरों की चद्दरें उड़ गई व कई पेड़ धाराशायी हो गए। आंधी के चलते इन क्षेत्रों की बिजली भी गुल हो गई।

चापड़ा. तेज बारिश से भीषण गर्मी से निजात मिली। गुरुवार के दिन सुबह से ही गर्मी से सभी परेशान थे। वही दिनभर की भीषण गर्मी के बाद शाम 4 बजे लगभग आधे घंटे तक तेज बारिश हुई,जिसके बाद गर्मी से आम लोगों को राहत मिली।

हाटपीपल्या. दिनभर की उमस व गर्मी के बाद गुरुवार शाम 6.30 बजे नगर में तेज बारिश हुई। 15 मिनट गिरे पानी ने पूरे नगर को तरबतर कर दिया और मौसम में ठंडक घोल दी और मौसम खुशनुमा हो गया।

नेमावर. गुरुवार शाम 5 बजे तेज हवा आंधी के साथ नेमावर व आसपास के क्षेत्र में बारिश हुई। तेज आंधी के कारण पेड़ गिरे व मकानों की चद्दर उड़ गई। क्षेत्र में तेज हवा के चलते नुकसान के समाचार प्राप्त हो रहे हैं। नगर नेमावर में भी तेज हवा के कारण मकानों की चद्दरे उड़ी हैं व संदलपुर से नेमावर आई 33 केवी की बिजली लाइन के तार पेड़ गिरने व तेज हवा के कारण जगह.जगह टूटे हैं, जिसके कारण नगर की बिजली सप्लाई बंद है। लाइन जोडऩे का कार्य बिजली विभाग के कर्मचारियों द्वारा तेजी से चल रहा है। लाइनमैन कैलाश चावड़ा ने बताया कि हमारा पूरा प्रयास रहेगा कि हम बिजली सप्लाई रात्रि में शुरू कर दे। तेज हवा के साथ करीब आधे घंटे तेज बारिश हुई। तेज बारिश क्षेत्रवासियों को गर्मी से राहत मिली।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned