इनकी कार में हमेशा रखे रहते हैं पौधे, एक कॉल पर कहीं भी पहुंच जाते हैं लगाने

- एक साल में लगा दिए हजारों पौधे, लोगों के बुलावे पर पौधा लगाने पहुंच जाते है

देवास. अमित एस मंडलोई. जिले के एक युवक को पौधारोपण का इतना जुनून है कि वह जब घर से निकलते है, तो अपनी कार की डिक्की में 50 से अधिक पौधे लेकर चलते है। इतना ही नहीं ये जन्मदिन और शादी की सालगिरह पर पौधे देना ही पसंद करते है।

नमामि देवी नर्मदे प्रकल्प के संयोजक और बागली विधायक प्रतिनिधि सुनील पुरोहित जो पर्यावरण को लेकर काम कर रहे है। उन्होंने बताया कि वे इंदौर में पत्रिका के अमृत जलम कार्यक्रम में शामिल हुए थे। तालाब को साफ करने के बाद उन्होंने सोचा कि अब हरियाली के लिए भी काम करना होगा। अभियान के बाद जब भी पुरोहित घर से निकलते है, तो पूरी कार की डिक्की पौधों से भरकर निकलते है। पुरोहित ने बताया कि जहां पर भी उन्हें सुरक्षित स्थान नजर आता है, वहां पर वे पौधा रोप देते है। साथ ही किसी का जन्मदिन हो या शादी की सालगिरह वे पौधा ही भेंट करते है। बरखेडा सोमा में सैनिक के शहीद होने पर उसकी याद में पुरोहित ने मंत्री दीपक जोशी से पौधारोपण कराया था। पुरोहित ने बताया कि एक शादी के दौरान मेहमानों को विदाई देने का रिवाज है, उन्होंने एक आईडिया लगाया और दोस्त को विदाई में पौधे देने के लिए प्रेरित किया, दोस्त भी मान गया और हजारों लोगों को पौधे दिए गए।

पुरोहित एक वर्ष में एक हजार से अधिक पौधों का रोपण कर चुके है। वहीं कहीं भी पौधारोपण की सूचना मिलती है, वे पहुंचकर पौधारोपण जरूर करते है। वे बताते है अब पर्यावरण की दिशा में काम करना जरूरी हो गया है। अभियान के तहत पहला पौधा हाटपिपल्या में सांसद नंदकुमार चौहान के आतिथ्य में रोपा गया था। अब नेमावर में घाट किनारे हरियाली करने की तैयारी पुरोहित कर रहे है। उन्होंने बताया कि वहां आठ हजार पौधे लगाने की तैयारी है। पुरोहित ने बताया कि पौधारोपण को राजनीति से अलग रखते हुए सभी दलों, आम लोगों को बुलाया जाता है। पत्रिका द्वारा चलाए जा रहे हरित प्रदेश के आयोजन में भी वे अपने साथियों के साथ पहुंचकर पौधे जरूर लगाते है।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned