scriptSeeing the shipra river and the surrounding dirt, former minister and | शिप्रा नदी व आसपास गंदगी देख घाट से पूर्व मंत्री व विधायक सज्जनसिंह वर्मा ने लगाया कलेक्टर को फोन, कहा - कलेक्टर साहब शिप्रा बहुत बदबू आ रही है... | Patrika News

शिप्रा नदी व आसपास गंदगी देख घाट से पूर्व मंत्री व विधायक सज्जनसिंह वर्मा ने लगाया कलेक्टर को फोन, कहा - कलेक्टर साहब शिप्रा बहुत बदबू आ रही है...

शिप्रा में इतनी गंदगी है कि कोई श्रद्धालु स्नान करने के लिए नहीं उतर सकता

देवास

Published: January 13, 2022 01:54:39 pm

देवास। कलेक्टर साहब, मैं शिप्रा नदी के तट पर खड़ा हूं। सब गांव वाले भी खड़े हैं। परसों मकर संक्रांति है लेकिन यहां नदी की बहुत बुरी स्थिति है। बहुत बदबू आ रही है... नगर निगम को बोलो जरा... आप पर आएगी कलेक्टर साहब, आप जरा समझो। ग्राम पंचायत नहीं नगर निगम को सफाई के लिए भेजो, ये उसके अंडर में है।
कुछ ऐसी ही बातेें पूर्व मंत्री व सोनकच्छ विधायक सज्जनसिंह वर्मा ने कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला से मोबाइल पर चर्चा के दौरान कही। दरअसल, शिप्रा नदी के घाट के आसपास गंदगी पसरी होने की सूचना मिलने पर पूर्व मंत्री वर्मा बुधवार को शिप्रा पहुंचे थे। यहां वे घाट पर पहुंचे और ग्रामीणों के साथ नदी व घाट के आसपास पसरी गंदगी देखी। इसके बाद कलेक्टर को मौके से फोन लगाकर स्थिति की जानकारी दी। उधर मामले में कलेक्टर ने संबंधितों को सफाई कराने के निर्देश दिए हैं।
मामले की जानकारी मिलने पर शिप्रा पहुंचे पूर्व मंत्री वर्मा ने नदी व आसपास के क्षेत्र में गंदगी देख नाराजगी व्यक्त की। मीडिया से चर्चा करते हुए वर्मा ने कहा कि शिप्रा नगर और शिप्रा तट के आसपास बसे लोग पिछले कई दिनों से चिंता व्यक्त कर रहे हैं। भाजपा की सरकार व देवास का प्रशासन जागने को तैयार नहीं है। हम शिप्रा के साथियों के आह्वान पर आए हैं। उनकी चिंता का विषय ये है कि 14 जनवरी को मकर संक्रांति का बड़ा त्योहार है। शिप्रा में इतनी गंदगी है कि कोई श्रद्धालु स्नान करने के लिए नहीं उतर सकता।
भाजपा की सरकार श्रद्धालुओं की धार्मिक आस्थाओं को ठेस पहुंचाने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है। इतना बड़ा त्योहार आ रहा है लेकिन न नगर निगम न प्रशासन अभी तक चेता है। नदी में फैक्टरियों का गंदा पानी भी मिल रहा है। भाजपाई वोट के लिए कुछ भी कर सकते हैं लेकिन शिप्रा जैसी पवित्र नदी के लिए कोई कदम आगे नहीं बढ़ाते हैं। इस दौरान शहर कांग्रेस अध्यक्ष मनोज राजानी, राजवीरसिंह बघेल सहित अन्य कांग्रेस नेता व ग्रामीण उपस्थित थे।
शिप्रा नदी व आसपास गंदगी देख घाट से पूर्व मंत्री व विधायक सज्जनसिंह वर्मा ने लगाया कलेक्टर को फोन, कहा - कलेक्टर साहब शिप्रा तट पर खड़ा हंू... बहुत बदबू आ रही है...
नदी का निरीक्षण करते पूर्व मंत्री वर्मा।
शिप्रा नदी व आसपास गंदगी देख घाट से पूर्व मंत्री व विधायक सज्जनसिंह वर्मा ने लगाया कलेक्टर को फोन, कहा - कलेक्टर साहब शिप्रा तट पर खड़ा हंू... बहुत बदबू आ रही है...पानी कम हुआ तो दिखी बुरी स्थिति
उल्लेखनीय है कि शिप्रा नदी पर नगर निगम को डेम बना हुआ है। अभी तक हर साल मकर संक्रांति पर नगर निगम उज्जैन के लिए पानी छोड़ता था और उसे उतना पानी एनवीडीए से मिल जाता था। लेकिन अब पाइप लाइन से पानी उज्जैन तक जा रहा है। ऐसे में नगर निगम को अतिरिक्त पानी नहीं मिल रहा है। उधर डेम का जलस्तर कम होने के साथ ही शिप्रा के घाट के आसपास से पानी उतर गया है। ऐसे में कई दिनों से शिप्रा नदी बचाओ समिति व ग्रामीण सफाई की मांग कर रहे थे।सफाई को लेकर न नगर निगम की ओर से कोई कार्रवाई की गई न ग्राम पंचायत की ओर से।
इनका कहना
शिप्रा नदी के घाट व आसपास साफ-सफाई के लिए ग्राम पंचायत व नगर निगम को निर्देश दिए हैं। प्राथमिकता से सफाई कराई जाएगी।
-चंद्रमौली शुक्ला, कलेक्टर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की मौजूदगी में शौर्य का प्रदर्शनरेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठितRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर दिल्ली की किलेबंदी, जमीन से आसमान तक करीब 50 हजार सुरक्षाबल मुस्तैदRepublic Day 2022: पीएम मोदी किस राज्य का टोपी और गमछा पहनकर पहुंचे गणतंत्र दिवस समारोह में, जानें क्या है खास वजहरायबरेली में जहरीली शराब पीने से 6 की मौत, कई गंभीर, जांच के आदेशरेलवे ट्रेक पर प्रदर्शन किया तो कभी नहीं मिलेगी नौकरी, पढ़े पूरी खबरअगर सही से नहीं चलाई गाड़ी तो बढ़ जाएगा आपका Vehicle Insurance Premium, जल्द लागू होन जा रहा है नया नियमUP Election 2022: “यहां वोट मांगने मत आइये” सियासी दलों के नेताओं को चेतावनी, जानिए कहाँ का है मामला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.