दुकान को लेकर विवाद, मची अफरा-तफरी

दुकान को लेकर विवाद, मची अफरा-तफरी

amit mandloi | Publish: Sep, 05 2018 12:39:40 PM (IST) | Updated: Sep, 05 2018 12:39:41 PM (IST) Dewas, Madhya Pradesh, India

- हैबत राव मार्ग पर फॉर फ्रेंड मार्केट की फ्रंट दुकान का मामला

देवास. शहर के मुख्य बाजार हैबत राव मार्ग पर स्थित फॉर फ्रेंड मार्केट में फ्रंट की दुकान की बात को लेकर मंगलवार को दिन में विवाद हो गया। दुकान का ताला खोलने गए दुकान मालिक से मार्केट मालिक और परिजनों ने विवाद कर लिया। विवाद के बाद दोनों तरफ से मारपीट होने की सूचना पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्ष को वाहन में बैठाकर थाने ले आई। थाने पर आने के बाद दोनों पक्ष के लोग एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्योप लगाते रहे। एक पक्ष का कहना है कि दुकान हमने पीछे वाली बेची थी, लेकिन खरीदार फ्रंट की दुकान अपनी बता रहा है।

दूसरे पक्ष का कहना है कि हमने फ्रंट वाली रेडीमेट की दुकान करीब पांच साल पहले खरीदी थी। इस दुकान को हम खोलने के लिए जाते हैं तो मार्केट मालिक और परिजन खोलने से मना कर रहे हैं। पहले भी दुकान खोलने की बात को लेकर विवाद हो गया था और मामला थाने से न्यायालय तक पहुंच गया है। मंगलवार को भी दुकान मालिक वर्षा के पति राजकुमार पेशवानी समाजजनों के साथ खोलने के लिए पहुंचे थे। मार्केट मालिक इम्तियाज शेख व उनके पिता आबीद शेख ने इनकार कर दिया। दुकान को लेकर चल रहे विवाद को देखते हुए वार्ड ३९ के पार्षद बाली घोषी आ गए थे। घोषी ने दुकान का विवाद खत्म करने की बात कही तो विवाद बढ़ गया।

महिलाओं से कर दी मारपीट

पहले पक्ष के इम्तियाज शेख का कहना है कि मार्केट में हमारी फ्रंट वाली दुकान है, जिसका मामला कोर्ट में विचाराधीन है। दुकान का ताला बंद था, जिसे नहीं खुलने पर गैस कटर मशीन से काट दिया गया। हम मना करने लगे तो पार्षद सहित उनके साथ आए युवकों हमारे और महिलाओं के साथ मारपीट कर दी। इधर पार्षद बाली घोषी का कहना है कि दुकानदार पेशवानी ने मुझे वार्ड पार्षद होने के नाते पहले आवेदन देकर कहा था कि दुकान का विवाद खत्म करवा दीजिए। इसके अलावा पेशवानी ने पूज्य सिन्ध हिंदू पंचायत के साथ एसपी, कोतवाली थाने पर भी आवेदन दिया है। मैं मंगलवार को बाजार से गुजर रहा था, इनका विवाद होता देख मना किया तो मुझसे विवाद करने लगे। मैंने किसी के साथ मारपीट व अपशब्दों का प्रयोग नहीं किया।

एसपी को दिए आवेदन में यह लिखा

पूज्य सिंध हिंदू पंचायत के सदस्यों ने 2 सितंबर को एसपी अंशुमानसिंह को आवेदन दिया था। इस आवेदन में उल्लेख किया था, सिंधी समाज के सदस्य राजकुमार पेशवानी के मालिकी हक की दुकान फोर फ्रेंड मार्केट में स्थित है। इनकी दुकान पर आबीद नामक व्यक्ति ने कब्जा कर रखा है। दुकान में लगे तालों पर एमसील लगाकर जाम कर दिए हैं। दुकान खोलने जाते हैं तो उनके परिवार की औरतें सामने आकर विवाद करती हैं। मामले की हमने सीएम हेल्पलाइन पर भी शिकायत की थी। जांच के लिए निगम अधिकारी आरएस केलकर आए, जिन्होंने मौके पर पेशवानी को बुलवाया तो इन लोगों ने विवाद करते हुए मारपीट कर दी थी। उस समय भी मामला थाने पहुंचा था।

दुकान का ताला गैस कटर से काटा, कह रहे चाबी हमारे पास

आबीद शेख पक्ष वालों का कहना है कि दुकान का मामला कोर्ट में होने से ताले बंद है। मंगलवार को सामने वाले पक्ष के100 से अधिक लोग आए और गैस कटर से दुकान के ताले और लॉक तोड़कर अंदर घुसे। दुकान में रखा सामान बाहर फेंक दिया, जो सालों से किराना दुकान का रखा हुआ है। इधर पेशवानी पक्ष का कहना है कि हमारी दुकान की अंदर से बाले-बाले इन्होंने दीवार तोड़कर अंदर सामान रख दिया है, जिसका मंगलवार को पता चला था। हमने पहले थाने पर दुकान का ताला खोलवाने के लिए कहा तो पुलिस ने कहा कि आप ताला खोलें आपकी दुकान का, विवाद होने पर हमें बताएं। चाबी लेकर ताला खोलने पहुंचे तो विवाद करते हुए मारपीट की नौबत आ गई।

यह है पूरा मामला, इस तरह समझें

हैबतराव मार्ग पर फोर फे्रंड मार्केट की फ्रंट की एक दुकान दुकान मालिक आबीद शेख ने पहले पुष्पादेवी पति राजकुमार चावला को बेची थी। कुछ साल तक दुकान रही और पुष्पादेवी ने ११६ पैकी दुकान नंबर १३ कुल 125 वर्गफीट दुकान वर्षा पति राकुमार पेशवानी को बेच दी। दुकान बंद होने पर आबीद दुकान के बाहर आंगन में किराना दुकान लगाता है, जिसकी पीछे वाली अन्य दुकान में किराना दुकान है। दोनों पक्ष के लोग कोतवाली थाने पर रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए पहुंचे थे, जिससे मुख्य मार्ग पर भीड़ लगी रही।

दुकान पर मालिकाना हक की बात को लेकर दो पक्ष में विवाद हुआ है। विवाद की सूचना मिलने पर दोनों पक्ष के लोगों को थाने लाकर मामले में रिपोर्ट दर्ज की गई है। दुकान के दस्तावेज चेक किए जा रहे हैं।
महेंद्रसिंह परमार, टीआई कोतवाली थाना।

Ad Block is Banned