नीलेश के अस्थि कलश दर्शन को उमड़े लोग

ग्राम घिचलाय से लाकर नेमावर में नर्मदा में किया विर्सजन, डीजे पर चलते रहे देशभक्ति के तराने, जगह-जगह गूंजे नारे

कुसमानिया. देवास के ही एक गाँव का सिपाही नीलेश देश की रक्षा करते करते शहीद हो गया। नीलेश का अंतिम संस्कार पुरे रीती रिवाज़ के साथ हुआ। सिपाही के शव को तिरंगे में लपेटकर ससम्मान अग्नि दाह किया गया। शनिवार को नीलेश की अस्थियों के दर्शन के लिए सैंकड़ों की तादात में लोग मौजूद रहे और सभी के मन में नीलेश के प्रति जो आस्था भाव था,वो साफ़ प्रकट हो रहा था। सभी ने किसी मंदिर में भगवान् के दर्शन के लिए जैसे श्रद्धा भाव रखते के साथ अस्थियों के आगे सर झुकाकर नमन किया। ये गाँव का पहला वीर सपूत था जिसने देश की सीमा की रक्षा में अपने प्राण न्यौछावर कर दिए इस वजह से ये पुरे गाँव के लिए दुःख से ज्यादा गर्व का क्षण रहा।
सेना के जवान नीलेश धाकड़ की अस्थि कलश यात्रा गृह ग्राम घिचलाय से नेमावर नर्मदा नदी में विसर्जित करने के लिए निकली। शुक्रवार दोपहर 2 बजे कुसमानिया बस स्टैंड पर अस्थि कलश यात्रा पहुंची, जहां जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणों ने स्वागत कर पुष्पांजलि अर्पित की।
यात्रा देख कई ग्रामीण भावुक हो उठे और कई ग्रामीणों की आंखों से आंसू छलक गए। अगवानी व श्रद्धांजलि की शुरुआत नगर अस्पताल चौराहे से शुरू हुई जो पंचायत भवन, बस स्टैंड पर जगह- जगह मंच पर जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणों के साथ शासकीय सेवकों एवं विद्यार्थियों ने भी पुष्प अर्पित किए।
यात्रा ने डीजे पर देश भक्ति के गीतों के साथ ही वंदे मातरम, भारत माता की जय, जय जवान जय किसान, जय हिंद जय भारत एवं जब तक सूरज चांद रहेगा नीलेश तेरा नाम रहेगा आदि नारों के साथ तिरंगा झंडा लगे वाहनों के साथ नगर में प्रवेश किया। इस यात्रा में कई दोपहिया और चार पहिया वाहनों का काफिला था, जिन पर तिरंगा झंडा लगा हुआ था।
कलश यात्रा की सूचना मिलने पर आसपास के गांव भिलाई, मोहाई, कोलारी, नांदोन ओंकारा विक्रमपुर, सिया जागठा आदि दर्जन भर गांवों से भी बड़ी संख्या में ग्रामीण पुष्पांजलि अर्पित करने पहुंचे।
नर्मदा में विसर्जित की अस्थियां
नेमावर. जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में तैनात ग्राम घिचलाय के वीर सैनिक नीलेश धाकड़ का अस्थि कलश परिजन, दोस्त ग्राम घिचलाय से नेमावर नर्मदा तट तक फूलों से सजे वाहन में रख कर नर्मदा तक लाए।
अस्थि कलश को गांव-गांव आम नागरिकों ने पुष्पवर्षा कर नाम आंखों से श्रद्धांजलि अर्पित की। नेमावर नगर में सैकड़ों नागरिकों ने विधायक आशीष शर्मा, नगर परिषद अध्यक्ष प्रतिनिधि मंगलेश यादव, जिला पंचायत सदस्य संतोष मंडलोई, एल्डरमैन कृष्णगोपाल अग्रवाल, नगर भाजपा अध्यक्ष प्रवीण हथेल, पीएस तोमर, संतोष शर्मा की उपस्थिति में पुष्पमला अर्पित कर अस्थि कलश को मां नर्मदा के पवित्र जल में विसर्जन किया ।
पीपलरावां में भी जगह-जगह की पुष्पवर्षा
पीपलरावां. सैनिक नीलेश धाकड़ की शुक्रवार सुबह 9 बजे अस्थि संचय कर अस्थि कलश यात्रा घिचलाय से नर्मदा घाट नेमावर तक निकाली, रास्ते में जगह-जगह ग्रामीणों ने स्वागत कर भारत माता की जय, नीलेश अमर रहे के नारे लगाए। इसके बाद अस्थियां नर्मदा में विसर्जित की गई। घिचलाय से १८ वाहनों से ज्यादा का काफिला अस्थि कलश यात्रा लेकर निकला था। यात्रा गांव मुडंला, मुरावर, आष्टा पहुंची, जहां जनप्रतिनिधि व पुलिसकर्मियों ने पुष्पमाला अर्पित की। शाम करीब 5 बजे नर्मदा में नम अंाखों से अस्थियां विसर्जित की गई।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चौहान पहुंचेंगे कल
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष व खंडवा सांसद नंदकुमारसिंह चौहान रविवार सुबह 10 बजे दिवंगत सैनिक नीलेश धाकड़ के पैतृक गांव घिचलाय पहुंच शोक संवेदन व्यक्त करेंगे। सांसद प्रतिनिधि पोपेंद्रसिंह बग्गा व विधायक राजेंद्र वर्मा के अनुसार प्रदेशाध्यक्ष के साथ भाजपा जिलाध्यक्ष गोपीकृष्ण व्यास, संासद मनोहर ऊंटवाल सहित अन्य पदाधिकारी शामिल होंगे।
विद्यर्थी, पुलिस अफसर, राजनीतिज्ञ पहुंचे
कन्नौद . जम्मू-कश्मीर में देवास जिले में ग्राम चिघलाय के वीर सैनिक नीलेश धाकड़ की अस्थि को पावनी मां नर्मदा में विसर्जित करने ले जाते समय नगर में स्कूली छात्र-छात्राओं, गणमान्य नागरिकों, पुलिस प्रशासन, राजनितिज्ञों एवं पत्रकारों ने पुष्पांजली अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।
श्रद्धांजलि दी
देवास . वीर सैनिक नीलेश धाकड़ को रवि वर्मा मित्र मंडल द्वारा श्रद्धांजलि दी गई। जामगोद में रवि वर्मा, विमल मेहता, शेखर पटेल, संजय परमार, नरेंद्र पटेल, रमेश गांधी, अमीन खान, नौशद खान, बंधन चौधरी, नरेंद्र पटेल आदि मौजूद थे।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned