नगर परिषद् कक्ष से लाखों का सामान चोरी

पुलिस जांच के बाद करेगी मामला दर्ज।

By: Narendra Hazare

Published: 24 Dec 2015, 11:53 PM IST

सोनकच्छ/देवास। नगर परिषद् सोनकच्छ के स्ट्रीट लाइट कक्ष में लाखों का इलेक्ट्रिक का सामान चोरी हो गया। पुलिस ने नप के लिखित आवेदन पर जांच शुरू कर दी है।

हालांकि पुलिस ने कोई मामला दर्ज नहीं किया है। जांच में चोरी की पुष्टि होने पर मामला दर्ज करने की बात कही है। पुलिस ने बताया कि गत 21 दिसंबर को नप के सीएमओ सीएल कैथल ने नप के स्ट्रीट लाइट कक्ष से चोरी के संबंध में एक लिखित आवेदन दिया था। आवेदन में बताया गया कि गत 19 व 20 दिसंबर को कार्यालयीन अवकाश था।

21 दिसंबर को जब कक्ष देखा तो उसके दरवाजे पर पुराना ताला नहीं होकर नया ताला लगा था। इसके बाद नप के अधिकारी व कर्मचारियों की उपस्थिति में ताला तोड़कर कक्ष के अंदर देखा तो पता चला कि पुराना ताला काटकर किसी अज्ञात चोर ने कमरे के अंदर रखे 150 वॉट के नए चोक के 150 व पुराने 300 नग, 70 वाट के नए चोक के 30 व पुराने चोक के 200 नग, 90 वाट की नई एलईडी के 3 नग, 90 वाट की नई एलईडी का 1 नग तथा 150 वाट फिटिंग 20 नग चुरा लिए।

रिपोर्ट दर्ज करने में आनाकानी

जांच अधिकारी रमेश पचलानिया ने बताया कि आवेदन के बाद नप के लाइनमैन शिवचरण मनोरिया से चोरी के संबंध में प्रारंभिक पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि गत 18  दिसंबर को कक्ष का ताला लगाकर चला गया था। दो दिन के अवकाश के बाद जब 21 को वह आया तो उसने कक्ष पर नया ताला लगा पाया। नप अध्यक्ष राजवीरसिंह बघेल ने बताया कि पुलिस प्रकरण दर्ज करने में आनाकानी कर रही है। 21 दिसंबर को थाने में आवेदन दिया था, लेकिन पुलिस ने आवेदन की प्राप्ति नहीं दी। दो दिन बाद प्रभारी टीआई रमेश बौरासी से बात की गई, तब 23 को आवेदन की प्राप्ति दी गई।

जांच में पुष्टि होने पर ही प्रकरण दर्ज होगा

पचलानिया ने बताया कि मनोरिया द्वारा बताई गई जानकारी से चोरी होने की पुष्टि नहीं हो पाई है। इसलिए नप से स्टाक रजिस्टर एवं चोरी गए सामान के बिल आदि मांगे गए है। मामले के हर बिंदुओं की सूक्ष्म जांच करने के बाद पुष्टि होने पर प्रकरण दर्ज किया जाएगा। प्रारंभिक जांच में की गई पूछताछ के बाद पचलानिया ने चोरी गए सामान की कीमत लाखों रु. बताई है।

उधर नप सीएमओ सीएल कैथल ने बताया कि जांच में पुलिस को पूरा सहयोग किया जाएगा और शनिवार तक उनके द्वारा मांगे गए सभी दस्तावेज उन्हें दे दिए जाएंगे। हमारे द्वारा गत दिवस थाने पर आवेदन दिया था। इसके दो दिन बाद 23 को पुलिस नप आई थी। कैथल ने कहा, चोरी गया पुराना सामान रिजेक्टेड था व नए सामान की कीमत 50 हजार रु. के करीब बताई है।
Narendra Hazare
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned