ये है निगम के हालात, पैवर्स लगे नहीं और बता दिया काम हो गया

आंखें मूंदकर काम कर रहे है निगम के जिम्मेदार, ठेकेदारों को पहुंचा रहे लाभ
- कार्य पूर्ण बताकर निगम ने कर दिया ठेकेदारों को लाखों रुपए का भुगतान

By: हुसैन अली

Updated: 03 Mar 2019, 11:50 AM IST

देवास.अमजद शेख
नगर निगम के रिकार्ड के अनुसार ठेकेदारों ने पुलिया का निर्माण भी कर दिया, गार्डन में पेवर्स ब्लाक भी लग गए, एक अज्ञात कॉलोनी में भी पेवर्स ब्लाक लगाने का कार्यादेश जारी किया गया था, जो क्षेत्र में मिली ही नहीं। इन सभी कामों का नगर निगम ने कार्य पूर्ण बताकर ठेकेदारों को भुगतान भी कर दिया। निगम ने जिन कामों को पूरा मान ठेकेदारों को भुगतान कर दिया, उन कामों को देखने पत्रिका टीम शनिवार को मौके पर पहुंची। मौके पर पड़ताल में काम नहीं मिले। एक ही वार्ड में इतनी लापरवाही बता रही थी कि नगर निगम के अंदर ठेकेदार,अफसरों व नेताओं का गठजोड़ सरकारी पैसों को किस कदर लूट रहा हैं।

वार्ड 21 के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में जाकर निगम ठेकेदारों के काम देखे गए तो मामला चौकाने वाला रहा। इस वार्ड में निगम रिकार्ड के अनुसार बजरंग नगर गार्डन में पेवर्स ब्लाक लगाने के लिए 2 लाख 59 हजार रुपए की स्वीकृति दी गई थी। इस काम का कार्यदेश क्रमांक 2441 दिनांक 5 अक्टूबर 16 को जारी किया गया। ठेकेदार एन.एस. कंस्ट्रक्शन को इस काम का ठेका मिला था। इस काम को निगम रिकार्ड में कार्य पूर्ण होना बताया गया, कार्य पूर्ण बताकर ठेकेदार को दो लाख 66 हजार 617 रुपए का भुगतान भी कर दिया गया। लेकिन शनिवार को मौक पर इस गार्डन की हकीकत कुछ और ही बयां कर रही थी। इस उजाड़ गार्डन में कहीं भी पेवर्स ब्लाक लगे नहीं मिले।

तीन पुलिया बननी थी, एक छोड़ दी

इसी से कुछ दूरी पर ओम साईं विहार कॉलोनी लगती हैं। इस कॉलोनी से लगी तीन पुलिया का काम स्वीकृत किया गया था। इसके लिए नगर निगम ने 20 लाख 80 हजार रुपए का ठेेका जारी किया था। इसका कार्यादेश क्रमांक 1729 दिनाकं 9 अक्टूबर 15 को जारी किया गया था। निगम रिकार्ड में ये कार्य भी पूर्ण हो गया हैं। लेकिन शनिवार को मौके की पड़ताल में दो पुलिया का काम ही पूरा मिला। यहां पर एक पुलिया का निर्माण ही नहीं किया गया। जबकि निगम ने तीनों पुलियों का काम पूरा मान ठेकेदार को राशि का भुगतान भी कर दिया हैं।

इससे कुछ आगे ही रेलवे पुलिया के करीब अनिल श्री नगर में एक बड़ा गार्डन मौजूद है। इस गार्डन में भी पेवर्स ब्लाक लगाने के लिए नगर निगम ने 2.59 लाख रुपए का ठेका दिया था। इसका कार्यदेश क्रमांक 2443 दिनांक 5 अक्टूर 16 को जारी किया गया था। निगम रिकार्ड के अनुसार रिमार्क में लिखा है कि कार्यादेश जारी, लेकिन इस गार्डन में आज तक पैवर्स ब्लाक ठेकेदार नहीं लगा पाया हैं।

क्षेत्र के लोग बोले नहीं हैं कानूनगो कॉलोनी

 

जो काम बताए जा रहे हैं वे पुराने हैं। अगर नगर निगम से भुगतान के बाद भी ठेकेदार ने काम नहीं किया हैं तो हम इसकी जांच करा लेंगे।
नरेंद्र सूर्यवंशी, आयुक्त
नगर निगम देवास।

वार्ड 21 में कानूनगो कॉलोनी के नाम पर पेवर्स ब्लाक निर्माण के लिए 2 लाख 17 हजार रुपए का ठेका दिया गया था। इसका कार्यादेश क्रमांक 468 दिनांक 10 फरवरी 16 को जारी किया गया। रिमार्क में नगर निगम ने लिखा हैं कि कार्यादेश जारी हैं। लेकिन मौक पर ऐसी कोई कॅलोनी ही नहीं मिली।

dewas
dewas IMAGE CREDIT: dewas
हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned