स्कूल पहुंचने में होती थी परेशानी...ग्रामीणों ने चंदा कर खरीदी जमीन, बनाएंगे रास्ता

स्कूल पहुंचने में होती थी परेशानी...ग्रामीणों ने चंदा कर खरीदी जमीन, बनाएंगे रास्ता
patrika

mayur vyas | Updated: 02 Aug 2019, 11:05:18 AM (IST) Dewas, Dewas, Madhya Pradesh, India

करीब एक किमी घूमकर जाना पड़ता था, अब डेढ़ सौ मीटर रह जाएगी दूरी
जिले के जनोईखेड़ी गांव का मामला, सबसे पहले गुजारा कावड़ यात्रियों को

चंद्रप्रकाश शर्मा
देवास. देवास जिले के छोटे से गांव जनोईखेड़ी में जनसहयोग की एक अनूठी और अनुकरणनीय मिसाल ग्रामीणों ने प्रस्तुत की है। बच्चों को स्कूल जाने में परेशानी न हो इसलिए किसान से निजी भूमि खरीदी और अब इस पर रास्ता बनाएंगे। ग्रामीणों ने चंदा कर यह राशि जुटाई। सबसे पहले कावड़ यात्रियों को गुजारा और स्कूल के लिए रास्ते का शुभारंभ किया।
दरअसल जनोईखेड़ी गांव की आबादी करीब ५०० है। यहां प्रायमरी स्कूल है। इस स्कूल तक पहुंचने के लिए काफी बच्चों व शिक्षकों को काफी मशक्कत करनी पड़ती थी। गांव से सीधा रास्ता था लेकिन वह किसान सूरजसिंह की भूमि से होकर जाता था, इस कारण करीब एक किमी का चक्कर लगाकर जाना पड़ता था। गांववाले इस समस्या से जूझ रहे थे।
करीब सवा लाख रुपए हुए एकत्र
गांव के ही सामाजिक कार्यकर्ता मलखान सिंह देवड़ा ने ग्रामीणों के साथ विचार-विमर्श कर जमीन खरीदने का सुझाव रखा। पटलावदा के सरपंच गोवर्धन चौधरी, पोपसिह देवड़ा, हेमसिहं पवार, रुपसिहं देवड़ा, धनसिंह सोलंकी, कमलसिंह पंवार, मनोहर सिंह, गोविंद सिंह, धीरजसिंह, देवजीलाल सहित ग्रामवासियों ने सहयोग की इस पहल का स्वागत किया और चंदा करने पर सहमति बनी। किसी ने ११०० रुपए दिए तो किसी ने २५००। जो थोड़े संपन्न थे उन्होंने पांच हजार रुपए दिए। करीब सवा लाख रुपए एकत्र हुए। इसके बाद भूमि स्वामी सूरजसिंह से बात की। रास्ते के लिए करीब दो आरा जमीन खरीदी। करीब एक लाख १५ हजार रुपए इसमें खर्च हुए। जो रुपए बचे थे उससे भूमि पर मुरम डलवाई और रास्ता बनाया। गुरुवार को कावड़ यात्रियों को इस मार्ग से गुजारा और रास्ते का शुभारंभ किया। देवड़ा ने बताया कि अब स्कूल की दूरी सिर्फ सवा सौ मीटर है। अब मिनटों में बच्चे व शिक्षक स्कूल पहुंच जाएंगे। प्रायमरी स्कूल में बच्चों की संख्या करीब २५-३० है। हाईस्कूल के लिए पटलावदा जाते हैं।
वर्जन-
यह बहुत अच्छी बात है। ऐसा होना चाहिए। हम खुद वहां जाकर देखेंगे और प्रशासन की तरफ से जो भी सहयोग होगा वह करेंगे।-जीवनसिंह रजक, एसडीएम देवास



MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned