एक ही मान्यता से चल रहे थे दो स्कूल, निरीक्षण में सामने आई हकीकत

एक ही मान्यता से चल रहे थे दो स्कूल, निरीक्षण में सामने आई हकीकत
patrika

mayur vyas | Updated: 20 Jul 2019, 11:34:06 AM (IST) Dewas, Dewas, Madhya Pradesh, India

एसडीएम पहुंचे थे निरीक्षण के लिए, डीईओ को दिए कार्रवाई के निर्देश
-डीईओ ने कहा- जांच में फर्जीवाड़ा निकलने पर करवाएंगे एफआईआर

देवास. शिक्षा विभाग में लापरवाही का आलम ऐसा है कि अब स्कूलों की मान्यताओं पर सवाल उठ रहे हैं। शुक्रवार को एक ऐसा मामला सामने आया जिसने विभाग की कार्यशैली की पोल खोल दी। एक ही मान्यता से दो स्कूल चल रहे थे। जांच में कई गड़बडिय़ां सामने आने की उम्मीद है। गड़बड़ी पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ एफआईआर करवाई जाएगी।
जानकारी के मुताबिक एसडीएम जीवन सिंह रजक को संजय नगर क्षेत्र में स्थित इनलाइट इंटरनेशनल स्कूल को लेकर शिकायत मिली थी। इस पर एसडीएम रजक शुक्रवार सुबह कार्रवाई के लिए पहुंचे। उन्होंने स्कूलों का निरीक्षण किया तो हैरान हो गए। स्कूल में न बच्चे थे न कोई व्यवस्थाएं। प्रभारी डीईओ नरेंद्र धुर्वे से बात की। धुर्वे भी मौके पर गए। उन्होंने स्कूल संचालक को बुलाकर जानकारी जुटाई। इसके बाद पंचनामा बनाया और लौट आए। एसडीएम रजक ने बताया कि एक मान्यता से दो स्कूल चलने की शिकायत मिली थी। जिस स्कूल की जहां की मान्यता थी वो वहां न होकर दूसरी जगह चल रहा था। अन्य गड़बडिय़ां भी मिली। इस संबंध में डीईओ को निर्देश दिए हैं कि जांच के बाद यदि गड़बड़ी निकलती है तो एफआईआर करवाई जाए।
स्कूल बेचने की बात आई सामने
प्रभारी डीईओ नरेंद्र धुर्वे ने बताया कि एसडीएम के साथ निरीक्षण किया था। इनलाइट इंटरनेशनल स्कूल में गड़बड़ी मिली है। यह बात सामने आई है कि एक ही स्कूल की मान्यता से दो स्कूल चल रहे हैं। जगह का भी अंतर है। यह पता चला है कि स्कूल किसी को बेच दिया गया था और उसके बाद उसी मान्यता से उसका संचालन होने लगा। विस्तृत जांच के बाद स्थिति स्पष्ट होगी। यदि जांच में फर्जीवाड़ा निकलता है तो एफआईआर करवाई जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned