हाईवे पर गड्ढे बचाने के चक्कर में पलटी बस, 22 घायल

तीन गंभीर घायलों को इंदौर किया रैफर, बाकी का कन्नौद में किया उपचार 

By: Kamal Singh

Published: 22 Aug 2016, 09:02 PM IST

देवास/कन्नौद. हाईवे पर बड़े-बड़े गड्ढे होने से सोमवार दोपहर करीब 12.30 बजे कन्नौद-बागानखेड़ा के बीच में दतूनी के पास देवास से आ रही चौहान बस एमपी 41 पी 0782 पलट गई। इसमें सवार 22 यात्रियों को घायल अवस्था में ग्रामीणों से सहयोग से सिविल अस्पताल कन्नौद लाया गया। अस्पताल में डॉ. लोकेश मीणा ने स्टॉफ के साथ घायलों का उपचार किया। इनमें से तीन गंभीर मरीज सिता पति मदनलाल 40 निवासी बेहराबद, मेघा पिता कैलाश 20 निवासी कन्नौद व साधना पति गजेंद्रसिंह 45 निवासी बागली को इंदौर रैफर किया गया। 19 अन्य घायलों का सिविल अस्पताल कन्नौद में उपचार चल रहा है।

एसडीएम रजंना पाटने व तहसीलदार कुलदीप पाराशर सिविल अस्पताल जाकर मरीजों के हाल जानने के लिए पहुंच गए थे। ग्रामीणों ने बताया कि घटना के करीब 1 घंटे तक न तो 108 पहुंची और ना ही 100 डायल। पुलिस ने बस चालक के खिलाफ पकरण दर्ज कर लिया है। चालक व कंडेक्टर मौके से फरार हो गए हैं। इंदौर-बैतूल हाईवे पर हो रहे जानलेवा गड्ढों की वजह से प्रतिदिन कोई न कोई घटना हो रही है। कभी वाहन खराब होने से जाम लग रहा है, तो कभी वाहनों में टक्कर हो रही है। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है।

मैजिक की वारयरिंग जली, हादसा टला

इधर, खातेगांव के सीबीएसी पेटर्न पुष्पदीप इंटनेशनल स्कूल के बच्चों को छोडऩे जा रही टाटा मैजिक की बैटरी के वायर चिपकने से आग लग गई। हालांकि कोई जनहानि नहीं हुई। सोमवार को दोपहर को स्कूल की छूट्टी होने के बाद मैजिक में बच्चों के बैठाकर घर छोडऩे जा रहा था कि कन्नौद रोड पर अचानक बैटरी के वायर चिपकने से आग लग गई। वाहन से धुआं उडऩे से चालक व बच्चे घबरा गए। ताबड़तोड़ बच्चों को वाहन से उतारा गया। मैजिक में 10 से 12 सवारियों को व्यवस्थित बैठने की जगह रहती है, किंतु उसमें करीब 25 बच्चों को बैठा दिया गया था। आएदिन स्कूल वाहनों में ठूंस-ठूंसकर बच्चों को बैठाया जाता है।




Kamal Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned