जिला अस्पताल... विवाहिता की मौत के बाद हंगामा, इमरजेंसी वार्ड के ड्यूटी डॉक्टर को पीटा

जिला अस्पताल... विवाहिता की मौत के बाद हंगामा, इमरजेंसी वार्ड के ड्यूटी डॉक्टर को पीटा
patrika

mayur vyas | Updated: 09 Oct 2019, 11:51:09 AM (IST) Dewas, Dewas, Madhya Pradesh, India

-सोमवार रात की घटना, मंगलवार सुबह डॉक्टरों व स्टॉफ ने किया प्रदर्शन, वरिष्ठ अधिकारियों के आश्वासन के बाद लौटे काम पर
-इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टर कक्ष के बाहर फोर्स किया गया तैनात, आरोपी गिरफ्तार

देवास. जिला अस्पताल में शांतिनगर अमोना से लाई गई एक विवाहिता की जांच व ईसीजी रिपोर्ट आने के बाद इमरजेंसी वार्ड के डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद महिला के पति ने डॉक्टर से मारपीट कर दी। इससे अफरा-तफरी की स्थिति बन गई, मौके पर पहुंचे पुलिस जवान के साथ झूमाझटकी भी की गई। घटना सोमवार रात करीब १०.५० बजे हुई। अगले दिन मंगलवार को इसके विरोध में डॉक्टरों व स्टॉफ ने मिलकर काम बंद कर दिया। अस्पताल के अंदर व प्रवेश द्वार पर नारेबाजी की और सुरक्षा की मांग की गई। वहीं जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टर कक्ष के बाहर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। मामले में कोतवाली पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।
सोमवार रात करीब १०.४५ बजे राधा पति अनिल (२६) नाम की विवाहिता को जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में लाया गया। उस समय यहां डॉ. पवन पाटीदार ड्यूटी पर थे। उन्होंने महिला की जांच की और ईसीजी करवाने के लिए वार्ड के अंदर भेजा। जांच व ईसीजी रिपोर्ट के आधार पर उन्होंने विवाहिता को मृत घोषित कर दिया, इसके बाद विवाहिता का पति भडक़ गया और डॉक्टर से मारपीट शुरू कर दी, इससे अफरा-तफरी मच गई। मौके पर पहुंचे पुलिस जवान के साथ भी झूमाझटकी की गई। कुछ देर बाद मामला शांत हुआ। बाद में डॉ. पाटीदार की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने आरोपी अनिल परछा निवासी शांतिनगर अमोना देवास के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा, मारपीट सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया। उधर इसी मामले में औद्योगिक थाने में मर्ग कायम किया गया है। मंगलवार दोपहर डॉक्टरों की पैनल ने विवाहिता का पीएम किया। रिपोर्ट आने के बाद मौत का वास्तविक कारण स्पष्ट हो सकेगा।
नारेबाजी कर डॉक्टरों ने कहा गुंडागर्दी नहीं चलेगी
जिला अस्पताल में डॉक्टर के साथ मारपीट की यह कोई पहली घटना नहीं है। हर दो-तीन माह में इस तरह की घटना हो जाती है। डॉ. पाटीदार के साथ मारपीट के विरोध में डॉक्टरों ने मंगलवार सुबह हड़ताल कर दी और नारेबाजी की। गुंडागर्दी नहीं चलेगी-नहीं चलेगी... के नारे लगाए। डॉक्टर प्रोटेक्शन एक्ट में कायमी नहीं होने पर नाराजगी जताई। मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन भी सौंपा गया। वरिष्ठ अधिकारियों के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ।
मायका देवास में ही, ५ साल पहले हुआ था विवाह
राधा का मायका देवास में ही है। उसका परिवार शिवाजीनगर मोती बंगला में रहता था, कुछ माह पहले यह लोग बजरंगनगर क्षेत्र में रेलवे क्रॉसिंग के किनारे किराए के मकान में रहने लगे हैं। परिजनों के अनुसार करीब पांच साल पहले राधा का विवाह हुआ था।
बिलखते हुए पीएम रूम पहुंची राधा की मां, तबीयत बिगड़ी
मंगलवार दोपहर करीब १.२८ बजे राधा की मां शालूबाई व अन्य परिजन रोते-बिलखते जिला अस्पताल के पीएम रूम में पहुंचे। बेटी का शव देखने के बाद मां की तबीयत बिगड़ गई, उन्हें एक युवक उठाकर कुछ दूर तक ले गया और सडक़ किनारे लिटा दिया। उधर पीएम रूम के बाहर सुध-बुध खोए बैठे राधा के पिता लालू खेड़े ने कहा कुछ समझ नहीं आ रहा कैसे क्या हो गया।
वर्जन
वरिष्ठ अधिकारी करेंगे जांच
मामले में मर्ग कायम किया गया है। मृतिका के घर की तलाशी भी ली गई है लेकिन फिलहाल कुछ संदिग्ध बात सामने नहीं आई है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा। नव विवाहिता का मामला होने के कारण जांच वरिष्ठ अधिकारी द्वारा की जाएगी।
-ब्रजेश श्रीवास्तव, टीआई औद्योगिक थाना।
आज कोर्ट में करेंगे पेश
फिलहाल डॉक्टर कक्ष के बाहर बल तैनात किया गया है। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, बुधवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। पत्नी के अंतिम संस्कार के लिए उसे पुलिस अभिरक्षा में पहुंचाया गया था।
-एम.एस. परमार, टीआई कोतवाली थाना।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned