संविलियन की फार्मेल्टी को पूरा करने लगाया गया दो दिवसीय शिविर, अब भी 12 सौ शिक्षाकर्मियों को करना पड़ेगा इंतजार

संविलियन की फार्मेल्टी को पूरा करने लगाया गया दो दिवसीय शिविर, अब भी 12 सौ शिक्षाकर्मियों को करना पड़ेगा इंतजार

Deepak Sahu | Publish: Jul, 15 2018 02:00:43 PM (IST) Dhamtari, Chhattisgarh, India

2 सौ से अधिक शिक्षाकर्मियों को अभी भी संविलियन के लिए और इंतजार करना पड़ेगा।

धमतरी. छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में आठ साल के लंबे इंतजार के बाद अब शिक्षाकर्मी पंचायत विभाग के अधीन न रहकर शिक्षा विभाग में समाहित हो गए। जिले में 4 हजार से ज्यादा शिक्षाकर्मी अब सहायक शिक्षक, शिक्षक और व्याख्याता कहलाएंगे। जबकि 12 सौ से अधिक शिक्षाकर्मियों को अभी भी संविलियन के लिए और इंतजार करना पड़ेगा।

दो दिवसीय संविलियन शिविर लगाया गया
लंबे संघर्ष के बाद राज्य शासन ने शिक्षाकर्मियों का शिक्षा विभाग में संविलियन कर दिया है। अगस्त महीने से उन्हें बढ़ा हुआ वेतनमान भी मिलने लगेगा है। इसके लिए संविलियन की फार्मेल्टी को पूरा करने के लिए गल्र्स स्कूल में दो दिवसीय संविलियन शिविर लगाया गया हैं। उल्लेखनीय है कि संविलियन के लिए धमतरी ब्लाक में पहले दिन 13 संकुल के 713 शिक्षाकर्मियों को बुलाया गया। रविवार को 11 संकुल के 465 शिक्षाकर्मियों को बुलाया जाएगा।

यहां पंजीयन कार्यों का जायजा लेने के लिए राजधानी रायपुर से शिक्षा सचिव गौरव द्विवेदी भी धमतरी पहुंचे। वे यहां कुरूद तथा धमतरी में संविलियन शिविर का जायजा लेकर शिक्षा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिया। इस अवसर पर कलक्टर डा. सीआर प्रसन्ना, डीईओ पीकेएस बघेल, बीईओ जीके साहू, तहसीलदार राकेश ध्रुव समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

धमतरी ब्लाक में 425, कुरूद में 343, मगरलोड में 159 तथा नगरी ब्लाक में 304 शिक्षाकर्मियों की सेवा अवधि आठ साल पूरा नहीं होने के कारण संविलियन के लिए उन्हें और इंतजार करना पड़ेगा। जिलाध्यक्ष डॉ भूषण चंद्राकर ने शिक्षकों से शिविर में भाग लेकर दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए कहा है।

ये जानकारियां मंगाई
पंजीयन के लिए शिविर में कुल 7 काउंटर बनाए गए है। रजिस्ट्रेशन के बाद सबसे डाटाबेस फार्म लिया गया। लास्ट पेमेंट स्लीप भी जमा कराया गया। इसके बाद ई-कोष एंट्री और प्रान नंबर दर्ज किया गया। अंत में ई-पेय रोल एंट्री हुई।

इतने हुए शिक्षा विभाग में मर्ज
शिक्षा सूत्रों के मुताबिक जिले में पंचायत संवर्ग के कुल 4190 सहायक शिक्षकों, शिक्षकों तथा व्याख्याता का संविलियन स्कूल शिक्षा विभाग में किया जाना है, जिन्होंने आठ माह का कार्यकाल पूर्ण कर लिया है। इसमें कुरूद ब्लाक के 1246 शिक्षक, धमतरी के 1176, नगरी के 1004 तथा मगरलोड के 764 शिक्षकों का संविलयन किया जाएगा। पहले दिन शिविर में 25 सौ से अधिक शिक्षकों के दस्तावेजों का परीक्षण किया गया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned