कोरोना पीड़ित 75 मरीजों की देखरेख की जिम्मेदारी एक आरएमए पर, डॉक्टर भी सिर्फ कर रहे खानापूर्ति

कोरोना मरीजों के ईलाज के लिए आरक्षित डीसीएच के कोविड अस्पताल में अव्यवस्था हावी होने से संक्रमित मरीजों की परेशानी बढ़ गई है।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 26 Aug 2020, 04:57 PM IST

धमतरी. कोरोना मरीजों के ईलाज के लिए आरक्षित डीसीएच के कोविड अस्पताल में अव्यवस्था हावी होने से संक्रमित मरीजों की परेशानी बढ़ गई है। सूत्रों की मानें तो उन्हें समय पर भोजन मिल रहा है और न ही जरूरत के सामान।डाक्टर भी समय सुबह एक राउंड लगाने के बाद वापस चले जाते हैं। एक आर्मी पर 75 मरीजों की देखरेख की जिम्मेदारी है। उधर सोमवार की देर रात में मंगलवार को जिले में 25 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। इस तरह जिले में अब तक करीब 160 से अधिक मरीज मिल चुके है।

उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमित मरीजों को बेहतर इलाज की सुविधा प्रदान करने के लिए प्रदेश शासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से डीसीएच अस्पताल को अधिग्रहण कर वहां 95 बिस्तर का कोविड अस्पताल बनाया गया है। वर्तमान में यहां 75 मरीजों का इलाज किया जा रहा है, लेकिन व्यवस्था को दुरूस्त बनाए रखने के लिए कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

सूत्रों की मानें तो पिछले 10 दिनों में यहां मरीजों संख्या में अप्रत्याशित रूप से वृद्धि हुई है। इसी के साथ ही अव्यवस्था हावी हुई है। बताया गया है कि यहां भर्ती मरीजों को आईसीएमआर के गाइड लाइन के टाइम-टू-टाइम नाश्ता, भोजन और दवाई देना है, लेकिन इसका पालन नहीं किया जा रहा है। मरीजों को जरूरत पड़ने पर समय पर गर्म पानी भी नहीं मिल रहा है। पिछले दिनों तो करीब एक घंटा देर से मरीजों को भोजन मिला।

ऐसे में उनमें कोविड अस्पताल की अव्यवस्था को लेकर रोष पनपने लगा है। एक जानकारी के अनुसार कोविड अस्पताल में भर्ती मरीजों को सुबह 8 से 9 बजे के बीच नाश्ता, दोपहर में दाल, चावल और हरी सब्जी, शाम के समय फिर नाश्ता और रात में खाना दिया जाता है। इस बीच जरूरत पड़ने पर मरीजों को गरम पानी के अलावा बिस्किट भी दिया जाना है।

लेकिन नियमों का शत-प्रतिशत पालन नहीं होने से मरीजों को परेशान होना पड़ रहा है। हालांकि भय के चलते अब तक किसी ने इसकी शिकायत अधिकारियों से नहीं की है। ऐसे में यदि जिला प्रशासन इसे संज्ञान में लेकर जांच कराएं, तो सच्चाई सामने आ सकती है।

Corona virus Corona virus Impact corona virus in india
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned