आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पाई कोरोना संक्रमित, पालकों में मचा हड़कंप, बच्चों की सुरक्षा को लेकर उठा सवाल

आंगनबाड़ी खुलने के पहले दिन ही ग्राम सोरम स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र में एक कार्यकर्ता कोरोना संक्रमित पाई गई है। इसके बाद से पालकों में हड़कंप मच गया है।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 18 Sep 2020, 02:33 PM IST

धमतरी. जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में आंगनबाड़ी खुलने के पहले दिन ही ग्राम सोरम स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र में एक कार्यकर्ता कोरोना संक्रमित पाई गई है। इसके बाद से पालकों में हड़कंप मच गया है। उनका कहना है कि अधिकारी अपनी मनमानी कर रहे हैं। यदि बच्चों को कुछ हुआ, तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा। ऐसे में सहायिका और कार्यकर्ताओं में भी दहशत व्याप्त है।

उल्लेखनीय है कि शासन के निर्देश के बाद महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से 16 सितंबर से ग्रामीण क्षेत्र की सभी 991 आंगनबाड़ी केन्द्रों को खोलने के लिए कहा गया था। इसके तहत क्षेत्र में सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों को खोला गया, लेकिन सुरक्षा व्यवस्था नहीं होने से अधिकांश पालकों ने अपने बच्चों को भोजन करने के लिए नहीं भेजा। वहीं गर्भवती एवं शिशुवती महिलाएं भी नहीं आई। इस बीच पहले दिन ही ग्राम सोरम स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र में कार्यरत सहायिका कोरोना संक्रमित पाई गई है।

सूत्रों को माने तो उक्त आंगनबाड़ी केन्द्र में बच्चों की कुल दर्ज संख्या 7 है, जिसमें से 2 मध्यम कुपोषित है। बताया गया है कि कार्यकर्ता को कुछ दिनों को सर्दी, बुखार आ रहा था। दवा लेने के बाद वह ठीक भी हो गई थी। इसके बाद भी उसने एहतियात के तौर पर बुधवार को कोरोना टेस्ट कराया, जिसमें उसकी रिपोर्ट पॉजीटिव मिली है। इसके बाद से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। यह खबर आग की तरह पूरे जिले में फैल गई। यही वजह है कि दूसरे दिन अधिकांश आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चे भोजन करने के लिए ही नहीं आए।

फोरम आंगनबाड़ी केन्द्र की सहायिका कोरोना संक्रमित पाई गई है। एहतियात के तौर पर केन्द्र को सेनीटाइज कराया गया है। सहायिकाओं को भी सावधानी बरतने के लिए कहा गया है।
नंदिनी साहू, सरपंच, ग्राम पंचायत सोरम

Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned