हड़ताल का असर: बैंक तो खुले लेकिन एटीएम से मायूस होकर लौटे ग्राहक

हड़ताल का असर: बैंक तो खुले लेकिन एटीएम से मायूस होकर लौटे ग्राहक

Deepak Sahu | Updated: 10 Jan 2019, 03:13:39 PM (IST) Dhamtari, Dhamtari, Chhattisgarh, India

बैंकों के ताले जरूर खुले, लेकिन कामकाज प्रभावित रहा। हड़ताल के कारण एटीएम में कैश की किल्लत से ग्राहकों को काफी परेशानी उठानी पड़ी।

धमतरी. राष्ट्रव्यापी हड़ताल के कारण बैंक कर्मचारी वेज रिवीजन समेत अपनी तीन सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल पर रहे। हालांकि बैंकों के ताले जरूर खुले, लेकिन कामकाज प्रभावित रहा। हड़ताल के कारण एटीएम में कैश की किल्लत से ग्राहकों को काफी परेशानी उठानी पड़ी।

कैश की किल्लत
बता दें कि मंगलवार को दूसरे दिन भी जिले के 99 बैंक शाखाओं के करीब 8सौ से अधिक कर्मचारी वेज रिवीजन समेत अपने तीन सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल पर थे। हालांकि बुधवार को सुबह तय समय पर बैंकों के शटर जरूर खुले। एसबीआई के मुख्य शाखा में काउंटर नंबर दो में कैश लेन-देन के लिए ग्राहक कतारबद्ध होकर खड़े थे। उधर हड़ताल का असर एटीएम में देखने को मिला है। पत्रिका ने शहर के एसबीआई, देना बैंक, सेंट्रल बैंक, सिंडीकेट बैंकों के एटीएम का मुआयना किया, देखा गया कि दोपहर बाद एटीएम में कैश ट्रांजेक्शन और राशि ट्रांसफर करने के लिए ग्राहक अपनी बारी का इंतजार करते रहे। दोपहर बाद बस्तर रोड स्थित स्टेंट बैंक के एटीएम में सर्वर प्राब्लम के चलते ग्राहकों को एक एटीएम से दूसरे एटीएम का चक्कर काटना पड़ा।

100 के नोट गायब
गौरतलब है कि सिहावा चौक में 3, पीडी नाला के पास 3, बस्तर रोड में पेट्रोल पंप के पास 1 और अम्बेडकर चौक में अलग-अलग बैंकों के 3 एटीएम लगाया गया है। जिसमें से अधिकांश एटीएम में 100 और 2 हजार के करेंसी की किल्लत बनी हुई है। जबकि ग्राहकों को 5 सौ रूपए की करेंसी ही मिल रहा है।

लीड बैंक अधिकारी अमित रंजन ने बताया कि एटीएम मेंं कैश की कमी होने की शिकायत नहीं मिली है। सर्वर प्राब्लम के चलते ट्रांजेक्शन करने में परेशानी हो रही होगी।


क्या कहते हैं ग्राहक
शहर के विभिन्न चौक-चौराहों में लगे एटीएम मेंं सर्वर प्राब्लम के चलते कैश ट्रांजेक्शन करने में परेशानी हो रही है। बैंक प्रबंधकों को इस ओर ध्यान देना चाहिए। सतीश देवांगन, नागरिक

एटीएम में 2 हजार और 100 की करेंसी गायब है। 2 सौ रूपए की जरूरत पडऩे पर मजबूरी में 5 रूपए निकालना पड़ रहा है। यहां 100 की करेंसी भी डाला जाना चाहिए। ललित साहू, नागरिक

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned