लॉकडाउन में सीजी हाट से मिलेगी राहत, ऑनलाइन बुकिंग कर कलेक्टर ने मंगाई सब्जी और फल

सी.जी. हाट के पहले ग्राहक के तौर पर आज सुबह कलेक्टर रजत बंसल ने होम डिलीवरी के तौर पर आई सब्जियां अपने बंगले में प्राप्त की।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 23 Apr 2020, 12:15 PM IST

धमतरी. छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी योजना सी.जी. हाट के तहत अब जिले के सब्जी एवं फल विक्रेताओं-क्रेताओं द्वारा ऑनलाइन पंजीयन कराकर घर-पहुंच सेवा शुरू कर दी गई है। सी.जी. हाट के पहले ग्राहक के तौर पर आज सुबह कलेक्टर रजत बंसल ने होम डिलीवरी के तौर पर आई सब्जियां अपने बंगले में प्राप्त की। कलेक्टर ने सुबह 10.30 बजे ऑनलाइन बुकिंग किए गए फलों के तौर पर केला, संतरा, पपीता और सब्जियों के तौर पर हरा मिर्च, धनिया, मुनगा और टमाटर की डिलीवरी अपने बंगले में ली। किसान बाजार के सब्जी विक्रेता श्री दिलीप सोनकर ने बंगले में घर-पहुंच सेवा दी। कलेक्टर ने डिलीवरी के तुरंत बाद 280 रूपए का नकद भुगतान किया।

इसके अलावा सी.जी. हाट में पंजीकृत अधिकारी जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी उपेन्द्र चंदेल, सहायक संचालक उद्यानिकी डी.एस. कुशवाहा, सहायक संचालक कौशल विकास शैलेन्द्र गुप्ता, किसान बाजार के नोडल अधिकारी सागर सहित विभिन्न अधिकारियों ने भी सी.जी. हाट के तहत विभिन्न सब्जियों और फल की घर पहुंच सेवा रियायती दर पर प्राप्त की। इस दौरान कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को सी.जी. हाट में आॅनलाइन पंजीयन कराकर इसकी सेवाएं लेने के लिए निर्देशित किया।

उन्होंने किसान बाजार को और अधिक उपयुक्त एवं सुव्यवस्थित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। उल्लेखनीय है कि वर्तमान परिदृश्य में सोशल डिस्टेंसिंग व फिजिकल डिस्टेंसिंग के लिए यह बेहद कारगर व उपयुक्त साबित होगा। भीड़भाड़ से बचने के साथ-साथ सुरक्षित ढंग से सब्जियों एवं फलों की घर पहुंच सेवा से निश्चित तौर पर लोगों को इसका फायदा मिलेगा। कलेक्टर ने जिलावासियों से शासन की उक्त सेवा का लाभ लेकर घर बैठे सेवाएं प्राप्त करने का आह्वान किया है।

क्या है सी.जी. हाट
सी.जी. हाट छत्तीसगढ़ शासन की आॅनलाइन शाॅपिंग सेवा है, जिसका शुभारम्भ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा विगत दिनों किया गया। यह एक बेहद आसान ऑनलाइन सर्विस है जिसमें विक्रेता कुछ जानकारियां भरकर तुरंत पंजीयन कर सकता है, जिसमें मोबाइल नंबर, नाम, अपने जिले व शहर का नाम व पता भरकर पंजीयन कर सकता है। इसी तरह सब्जी-फल क्रय करने वाला ग्राहक भी इन्हीं जानकारियों को भरकर सरल ढंग से अपना पंजीयन कर सकता है। इस संबंध में बताया गया कि इसके पहले चरण में सब्जियों एवं फलों का क्रय-विक्रय किया जाएगा।

वर्तमान में उक्त वेबसाइट में 40 प्रकार के फल और 70 प्रकार की सब्जियां पंजीकृत हैं। इसमें पंजीयन के लिए लिंक पर जाकर पोर्टल पर ओपन करना होगा। इसके तहत अब तक जिले के 138 विक्रेता पंजीकृत हो चुके हैं। यह प्रदेश में दूसरी सर्वाधिक संख्या है। प्रदेश सरकार द्वारा एक हेल्पलाइन नंबर 8269696499 जारी किया गया है, जिसमें काॅल अथवा वाट्सएप पर अधिक जानकारी सुबह आठ से रात्रि आठ बजे तक ली जा सकती है।

बताया गया है कि फिलहाल सब्जियों की सुबह बुकिंग कराने पर उसी दिन तथा शाम को कराने पर अगले दिन सुबह डिलीवरी बाॅय द्वारा घर-पहुंच सेवा दी जाएगी। जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी ने बताया कि अब तक जिले के 163 विक्रेताओं तथा 165 ग्राहकों का पंजीयन पूर्ण हो चुका है।

Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned