घर पहुंचने पर बहन बोली- भाभी ने अंदर से बंद कर लिया है दरवाजा, खिड़की से झांककर देखा तो..

घर पहुंचने पर बहन बोली- भाभी ने अंदर से बंद कर लिया है दरवाजा, खिड़की से झांककर देखा तो..

Chandu Nirmalkar | Publish: Aug, 08 2019 03:55:33 PM (IST) Dhamtari, Dhamtari, Chhattisgarh, India

Crime in dhamtari: इधर नवविवाहिता की मौत (Suicide) को लेकर उसके पिता और परिजनों ने हत्या (Murder) का संदेह जताया है

धमतरी. शहर के रत्नाबांधा इलाके में उस वक्त सनसनी फैल गई जब एक नवविवाहिता की लाश फांसी के फंदे पर (Crime in dhamtari) लटकी मिली। महिला ने खुद को अपने कमरे में बंद कर (Suicide news) लिया था। पति के आवाज लगाने के बाद भी (Dhamtari police) दरवाजा नहीं खोला तो खिड़की से झांकर देखा तो होश उड़ गए। उसकी लाश फासी के फंदे पर झूल रही थी। इधर नवविवाहिता की मौत को लेकर उसके पिता और परिजनों ने हत्या (Murder) का संदेह जताया है। उधर, पीएम के दरम्यान मायके और ससुराल पक्ष वालों के बीच मारपीट की घटना हो गई। पुलिस ने मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पीएम कराया है।

ये है पूरा मामला
यह मामला शहर से लगे रत्नाबांधा हनुमान नगर बस्ती का है। पुलिस के अनुसार युवक ऐन कुमार उर्फ भागवत देवांगन का ब्याह बीते 29 फरवरी 2016 को जामगांव-एम (पाटन) निवासी वर्षा देवांगन से हुआ था। उसकी एक 2 साल की बच्ची भी है। बताया गया है कि मंगलवार को दोपहर वर्षा देवांगन ने घर का कमरा बंद कर लिया और साड़ी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। घर में उस दौरान उसकी ननद भी थी।

 

CG news

दोपहर में खाना खाने जब भागवत घर आया, तब उसकी बहन ने बताया कि भाभी ने कमरे का दरवाजा बंद कर लिया और कोई जवाब भी नहीं दे रही। भागवत ने भी काफी देर तक आवाज लगाई, लेकिन अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई। इसके बाद उसने दरवाजा तोड़ दिया। अंदर वर्षा फांसी के फंदे पर लटक रही थी। तत्काल उसने फंदे से नीचे उतारकर करीब पौने 4 बजे जिला अस्पताल लाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उधर, वर्षा की मौत की खबर पाकर उसके पिता युवराज देवांगन, मामा सतीश देवांगन आदि पहुंचे। उन्होंने वर्षा की मौत पर हत्या का संदेह व्यक्त किया है।

मौत की भी खबर नहीं
पिता युवराज देवांगन ने बताया कि वर्षा को दहेज के नाम पर काफी परेशान किया जाता था। अपने सामथ्र्य के अनुसार शादी में दहेज दिया था, फिर भी कम सामान लाने के नाम पर उसे सुसराल में प्रताडि़त किया जाता था। शादी के चार साल में सिर्फ एक बार वर्षा को मायके भेजा गया। और तो और उसकी मौत की भी खबर नहीं दी गई। इस मामले की सूक्ष्म जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

एक को आई गंभीर चोट
जिला अस्पताल के चीरघर में सुबह मजिस्टे्रट की मौजूदगी में पंचनामा और मर्ग कार्रवाई के बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया। इस बीच अस्पताल में मायके और ससुराल पक्ष के लोग बड़ी संख्या में मौजूद थे। आपसी विवाद होने के बाद उनमें मारपीट शुरू हो गई। इस घटना में वर्षा के जीजा मोहर देवांगन को गंभीर चोटें आई है। पुलिस ने दोनों पक्षों को शांत कराया।

वर्षा की मौत पर मायके पक्ष वालों को संदेह है। पीएम रिपोर्ट मिलने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चलेगा। इसके बाद पुलिस आगे जांच करेगी।
पंकज पटेल, डीएसपी

घर में सब-कुछ ठीक चल रहा था। सुबह 11 बजे वह काम में चला गया था। मां और बापू भी गांव गए है। वर्षा ने आत्मघाती कदम क्यों उठाया, वह भी स्तब्ध है।
भागवत देवांगन, पति

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned