मां के अंतिम संस्कार में चुपचाप बैठी थी बेटी, फिर हुआ कुछ ऐसा कि घर से एक साथ निकली दोनों की अर्थियां

बच्चों का सबसे ज्यादा लगाव अक्सर अपनी मां से ही होता है।बच्चे बड़े हो या छोटे मां से दूर होना वो बर्दाश्त नहीं कर पाते।

By: Deepak Sahu

Published: 15 Nov 2018, 10:00 AM IST

धमतरी. बच्चों का सबसे ज्यादा लगाव अक्सर अपनी मां से ही होता है।बच्चे बड़े हो या छोटे मां से दूर होना वो बर्दाश्त नहीं कर पाते। ऐसा ही एक मामला छत्तीसगढ़ के धमतरी में भी सामने आया है। जहां मां से दूर होने के कारण एक बेटी की भी जान चली गई। आइए जानते है कि मां बेटी के साथ क्या और कैसे हुआ ??

12 घंटे के भीतर चली गई 2 जाने
ये मामला छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले का है।जहां एक बेटी को अपनी मां की मौत का ऐसा सदमा लगा कि उसकी भी जान चली गई। दरअसल गांव के सरपंच भारत लाल ब्रह्म की पत्नी रामूला बाई की देर रात 3 बजे मौत हो गई। उनकी उम्र लगभग 67 साल थी।बुढ़ापे में वो अक्सर बीमार रहती थी।

mother and daughter died

जब बेटी को मां की मौत की जानकारी मिली तो उसे बड़ा झटका लगा। जिसके कारण वो सदमे में चली गई। एक तरफ मां के अंतिम संस्कार की तैयारियां चल रही थी तो वही बेटी कुछ बोल ही नहीं पा रही थी।अपनी मां के 12 घंटे बाद बेटी की सांसो ने भी उसका साथ छोड़ दिया। दोपहर के 3 बजे उसकी मौत हो गई। जिसके बाद तो परिवार में दोहरा मातम छा गया।

गांव में शोक की लहर
जहां एक मौत के बाद परिवार संभल भी नहीं पाया था वही दूसरी मौत होने से किसी के आंसू ही नहीं थम रहे थे। घटना के बाद पूरे गांव में शोक की लहर छा गई।

Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned