Deen Dayal Upadhyay Jayanti: प्रेम प्रकाश पांडेय बोले - समग्र कल्याण का दर्शन है एकात्म मानव दर्शन

Deen Dayal Upadhyay Jayanti: जनसंघ के संस्थापक एवं महान विचारक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर भाजपा कार्यालय धमतरी में गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में छग विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व केबिनेट मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय उपस्थित थे।

By: Ashish Gupta

Published: 25 Sep 2021, 11:50 PM IST

धमतरी. Deen Dayal Upadhyay Jayanti: जनसंघ के संस्थापक एवं महान विचारक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर भाजपा कार्यालय धमतरी में गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमे मुख्य वक्ता के रूप में छग विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व केबिनेट मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय उपस्थित थे।

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये उन्होंने दीनदयाल उपाध्याय जी के विचारों को तथा उनके द्वारा प्रतिपादित एकात्म मानव दर्शन को उदाहरण सहित अत्यंत सरल शब्दों में समझाया। उन्होंने कहा कि एकात्म मानव दर्शन व्यक्ति एवं समाज के समग्र कल्याण की बात करता है। न सिर्फ व्यक्ति व समाज अपितु इस दर्शन में प्रकृति एवं सृष्टि की एकात्मकता भी निहित है।

अर्थशास्त्र के अन्य सिद्धांत जैसे साम्यवाद या पूंजीवाद इत्यादि एक वाद है जबकि एकात्म मानव दर्शन एक वाद न होकर एक दर्शन है। जहां वाद होता है वहां विवाद होता है परंतु यह सिद्धांत सम्पूर्ण कल्याण की बात कहता है। कुछ सिद्धांत भौतिकवाद पर आधारित है तो कुछ सामाजिक पहलुओं को प्राथमिकता देते हैं। शरीर मन और बुद्धि की बात तो विश्व के कुछ विचारकों ने की परंतु एकात्म मानव दर्शन शरीर मन बुद्धि के साथ साथ आत्मा का समुच्चय है।

इसमें वसुधैव कुटुम्बकम की बात की जाती है। किसी भी व्यक्ति या समाज की एक आत्मा होती है जब तक उसके कल्याण की बात न कि जाये तब तक वह विचार अधूरा है। विश्व के अन्य प्रचलित वाद खामियों के चलते अब नकारे जाने लगे हैं केवल 50 वर्षों में यह विचार अब आकार लेने लगा है शनैः शनैः यह भौगोलिक सीमाओं के बाहर सम्पूर्ण विश्व इसे अपनायेगा और इससे लाभान्वित होगा।

जिलाध्यक्ष ठाकुर शशि पवार ने स्वागत उद्बोधन दिया। उन्होंने पंडित दीनदयाल उपाध्याय जयंती की बधाई देते हुये इस कार्यक्रम को बूथ स्तर पर मनाने की बात कही। विधायक श्रीमती रंजना साहू ने आभार प्रदर्शन किया। कार्यक्रम का संचालन जिला महामंत्री कविन्द्र जैन ने किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से रामु रोहरा, शिव शर्मा, अर्चना चौबे, हेमलता शर्मा, महेन्द्र पंडित, नेहरू निषाद, अरविंदर मुंडी, चेतन हिंदुजा, ताल्लिनपुरी गोस्वामी, ऋषभ देवांगन, विजय साहू, मुरारी यदु, हेमंत चंद्राकर, शिवदत्त उपाध्याय, विजय मोटवानी, मोनिका देवांगन, कीर्तन मीनपाल, मिश्री पटेल, अमन राव, गंगा प्रसाद सिन्हा, चंद्रकला पटेल, सुशीला तिवारी, सुनीता वर्मा, संतोषी साहू, दमयंतिन साहू, रुपाली ध्रुव, सरिता असाई, जागेश्वरी साहू, धनीराम सोनकर तेजराम साहू, जागेश्वर साहू, भुनेश्वर ध्रुव, केशव साहू, गोविंद ढिल्लों राकेश साहू, उमेश साहू, भागवत साहू, विनय जैन, प्रिंस जैन, अविनाश दुबे, बसंत गजेंद्र, विनोद पांडे, अमित अग्रवाल, दिलीप पटेल, हर्ष अग्रवाल, मिथिलेश सिन्हा महावीर सिन्हा हरमीत सिंह सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned