धमतरी: कोरोना से एक और डॉक्टर की मौत, लॉकडाउन की मांग हुई तेज, व्यापारी स्वंय बंद कर रहे अपनी दुकानें

रविवार को फिर 11 संक्रमित मिले। इस तरह अब तक यहां 570 केस सामने आ चुके हैं। उधर, जिले में कोरोना पीड़ित 11 लोगों की मौत के बाद से लोगों में दशहत व्याप्त है।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 07 Sep 2020, 02:19 PM IST

धमतरी. धमतरी जिले में कोरोना का कहर थम नहीं रहा है। रविवार को फिर 11 संक्रमित मिले। इस तरह अब तक यहां 570 केस सामने आ चुके हैं। उधर, जिले में कोरोना पीड़ित 11 लोगों की मौत के बाद से लोगों में दशहत व्याप्त है। ऐसे में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण पर अंकुश लगाने के लिए अब विभिन्न व्यापारिक संगठन भी सामने आए हैं। इसके तहत जिला सराफा संघ ने 7 सितंबर से एक सप्ताह तक अपनी दुकानों को स्वस्फूर्त बंद रखने का निर्णय लिया है। प्रशासन से पूर्ण लॉकडाउन की मांग ने जोर पकड़ लिया है।

उल्लेखनीय है कि सितंबर माह में कोरोना संक्रमण लोगों पर कहर बनकर टूट रहा है। जिले में अब प्रतिदिन 40 से अधिक कोरोना संक्रमित सामने आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जिले में अब तक करीब 570 लोग कोरोना संक्रमण का शिकार हो चुके हैं। इनमें में युवा, बच्चों के अलावा बुजुर्ग भी शामिल हैं। ऐसे में लोगों में संक्रमण के प्रसार के लेकर दशहत व्याप्त है।

रविवार को भी जिला अस्पताल के सैंपल इलेक्शन बूथ में 45 लोगों का रैपिड एंटीजन किट से कोरोना टेस्ट किया गया, जिसमें लोग संक्रमित पाए गए हैं। इस तरह कोरोना संक्रमितों की लगातार बढ़ रही संख्या को देखते हुए अब आम नागरिक समेत व्यापार संगठन भी शहर समेत जिले में कुछ दिनों के लिए लॉकडाउन के पक्ष में है।

इसी कड़ी में पूज्य श्री सिंधी धर्मशाला में शहर के व्यापारीक संगठन से जुड़े सदस्यों की बैठक हुई, जिसमें करीब दो घंटे तक चली चर्चा के बाद व्यापारियों ने सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक दुकान खोलने का सर्वसम्मति से फैसला लिया है। चेम्बर नेता नरेन्द्र रोहरा ने बताया कि बैठक में दुकान खोलने समेत लॉकडाउन के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई है, जिसमें शहर में सीमिति समय के लिए अपनी प्रतिष्ठानों को खोलने का निर्णय लिया है।

Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned