सावधान : भूलकर भी ना जाए इन डॉक्टरों के पास, जब्त हुई है लाखों की नकली दवाइयां

सावधान : भूलकर भी ना जाए इन डॉक्टरों के पास, जब्त हुई है लाखों की नकली दवाइयां

Anjalee Singh | Publish: Jun, 20 2019 01:19:02 PM (IST) Dhamtari, Dhamtari, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ में खाद्य औषधि प्रशासन और ड्रग विभाग (Department of Food and Drug Administration) ने झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई की है।
उनके पास से लाखों की अमानक दवाइयां (Duplicate Drugs) भी जब्त की है।

धमतरी. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में लगातार मिल रही शिकायत के बाद खाद्य औषधि प्रशासन और ड्रग विभाग की संयुक्त टीम ने जीजामगांव और कुकरेल में दो झोला डाक्टरों (Fake Doctor) की क्लीनिक में दबिश देकर 1.80 लाख की आमानक दवाईयां जब्त की है। उधर कार्रवाई के बाद झोलाछाप डाक्टरों में हडक़ंप मच गया है।

अगर आप भी खरीदते है कश्मीरी केसर चावल तो सावधान, चल रहा है ये फर्जीवाडा

पिछले कुछ सालों में जिले में झोलाछाप डाक्टरों की संख्या में अप्रत्याशित रूप से वृद्धि हुई है। मान्यता नहीं मिलने के बाद ये डाक्टर गांवों में क्लिनिक खोलकर मरीजों का इलाज कर रहे हैं। इस पर अंकुश लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की ओर से भी टीम का गठन किया गया था, लेकिन कुछ दिनों तक कार्रवाई करने के बाद टीम के अधिकारी सुस्त पड़ गए। यही कारण है कि ग्रामीण समेत वनांचल क्षेत्रों में झोलाछाप डाक्टर मरीजों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं।

उधर लगातार मिल रही शिकायत को कलक्टर रजत बसंल (Rajat Bansal) ने गंभीरता से लिया और खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग समेत ड्रग विभाग की संयुक्त टीम बनाकर अधिकारियों को कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। इसके तहत ड्रग अधिकारी के नेतृत्व में टीम के सदस्य डॉ पीसी ठाकुर, औषधि निरीक्षक सुमीत देवांगन, संदीप सूर्यवंशी, निकिता श्रीवास्तव ने ग्राम जीजामगांव के गांधी चौक में ललित कुमार निषाद के क्लिनिक में दबिश दी। यहां टीम के सदस्यों ने आमनक दवाईयां जब्त की है। बताया गया है कि जल्द ही टीम के सदस्य जिले के विभिन्न क्षेत्रों का दौरा कर अवैध रूप से संचालित क्लिानिक संचालकों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

छत्तीसगढ़ में जोरों से चल रहा नकली अंडे का व्यापार, नहीं होता यकीन तो पढ़े ये खबर

दवाइयां, एसडीएम की निगरानी में
उपतहसील कुकरेल के वार्ड क्रमांक-६ बसस स्टैंड में संजय तिवारी के क्लीनिक में दबिश देकर टीम ने एक लाख अस्सी हजार रूपए की अमानक दवाईयां जब्त की है। बताया गया है कि जब्त की गई दवाईयों को धमतरी और कुरूद एसडीएम की निगरानी रखा गया है।

क्लीनिकों में लटका ताला
उधर अचानक कार्रवाई होने से झोलाछाप डाक्टरों में हडक़ंप मच गया है। कार्रवाई के बाद से गांव समेत शहर में अवैध रूप से क्लिनिक संचालित करने वाले लोगों ने कुछ दिनों के लिए क्लीनिक को बंद कर दिया है।

छत्तीसगढ़ के इस जिले में पहली बार होगी मसालों की भी खेती

कलक्टर के निर्देश पर जीजामगांव व कुकरेल में अवैध रूप से संचालिक क्लिनिक में दबिश देकर अमानक दवाईयां (Duplicate Drug) जब्त की गई है। यह कार्रवाई लगातार जारी रहेगी। मीनाक्षी वैष्णव, ड्रग निरीक्षक

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned