कौशल विकास : नहीं हो पा रही है युवाओं की ट्रेनिंग, 41 व्हीटीपी सेंटर होंगे बंद

कौशल विकास : नहीं हो पा रही है युवाओं की ट्रेनिंग, 41 व्हीटीपी सेंटर होंगे बंद

Deepak Sahu | Publish: Sep, 04 2018 07:00:05 PM (IST) Dhamtari, Chhattisgarh, India

युवाओं को प्रशिक्षण देकर आत्मनिर्भर बनाने के मामले में शासकीय और निजी व्हीटीपी सेंटर फिसड्डी साबित हुए है।

धमतरी. युवाओं को प्रशिक्षण देकर आत्मनिर्भर बनाने के मामले में शासकीय और निजी व्हीटीपी सेंटर फिसड्डी साबित हुए है।अब ऐसे 41 सेंटरों को बंद करने की तैयारी चल रही है।बता दें कि शासकीय विभाऐसे युवाओं की प्रतिभा निखाकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना शुरू की गई है। इसके अंतर्गत कम्प्यूटर, ब्यूटी पार्लर, नर्सिंग, इलेक्ट्रिकल समेत अन्य ट्रेडों में व्हीटीपी सेंटरों के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जा रहा है।


जिले में शासकीय और प्राइवेट समेत 122 व्हीटीपी सेंटर संचालित है, जहां प्रशिक्षण के नाम पर सिगों में नौकरी के अवसर कम है।जबकि यहां पढ़े-लिखे युवाओं की संख्या हजारों में है, जिनका सपना पूरा नहीं हो पा रहा है। उन्हें नौकरी की तलाश में भटकना पड़ रहा है।सिर्फ औपचारिकता निभाकर शासन की राशि का बंदरबाट किया जा रहा था। व्हीटीपी सेंटर संचालक सिर्फ प्रशिक्षण देने के बाद राशि आहरण कर शांत बैठ जाते थे। इस मामले में शासकीय व्हीटीपी सेंटर भी शामिल थे, इसलिए इन पर अब शिकंजा कसा जा रहा है।

मापदंड का पालन नहीं
कौशल विकास विभाग के सूत्रों की माने तो अधिकारियों ने व्हीटीपी सेंटर शुरू करने के लिए शासन के मापदंड का पालन नहीं किया। कुछ ने तो अपने कार्यालय के नाम पर व्हीटीपी सेंटर का पंजीयन करा लिया हैं। शिक्षा विभाग के अंतर्गत शासकीय हाईस्कूल सांकरा, बेलरगांव, बालक स्कूल धमतरी समेत अन्य स्कूलो में कम्प्यूटर का प्रशिक्षण दिया जा रहा था, जो अब बंद हो गए है। पशुधन विकास विभाग द्वारा मुर्गी पालन, डेयरी प्रशिक्षण दिया जा रहा था, वह भी अब नहीं चल रहा है।

अधिकारी शैलेन्द्र गुप्ता ने बताया कि जिन व्हीटीपी सेंटरों में ट्रेनिंग नहीं चल रहा है, उसे बंद किया जाएगा। इसकी सूची संबंधित विभाग को प्रेषित कर दी गई है।

30 सेंटर चल रहे
व्हीटीपी सेंटर शुरू करने के बाद अब प्रशिक्षण नहीं देने और शासन के मापदंड का पालन नहीं करने वाले 41 व्हीटीपी सेंटरों को बंद करने की तैयारी चल रही है।जिसमें 15 प्राइवेट और 26 शासकीय सेंटर शामिल हैं।अब तक जिले में 21 हजार युवाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। वर्तमान में 30 व्हीटीपी सेंटर में ही प्रशिक्षण का कार्य चल रहा है।

Ad Block is Banned