सात फेरे लेने से पहले ही पहुंच गई पुलिस, नाबालिग ने शिकायत कर रुकवाई अपनी शादी

नाबालिक लड़की का ब्याह हो रहा था। जिसे अधिकारियों ने पहुंचकर रुकवाया। परिजनों को समझाइए दी गई। जिसके बाल विवाह रोका गया।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 05 Jun 2020, 08:00 PM IST

धमतरी. लाख समझाइश के बाद भी बाल विवाह का आयोजन रुकने का नाम नहीं ले रहा है। भखारा क्षेत्र में एक बार फिर नाबालिक लड़की का ब्याह हो रहा था। जिसे अधिकारियों ने पहुंचकर रुकवाया। परिजनों को समझाइए दी गई। जिसके बाल विवाह रोका गया।

उल्लेखनीय है कि भखारा क्षेत्र के एक गांव में 5 जून को बाल विवाह होने वाला था। इसके एक दिन पहले नाबालिग ने चाइल्ड लाइन के टोल फ्री नंबर में कॉल कर मदद मांगी। इसके बाद महिला एवं बाल विकास चार लाइन और पुलिस अलर्ट हो गई। तीनों विभाग तत्काल मौके पर पहुंची और नाबालिक लड़की के परिजनों को समझाया। लड़की समेत उसके परिजनों के सामने बैठकर अधिकारियों ने बाल विवाह से होने वाले नुकसान के बारे में बताया। साथ ही बाल विवाह करने पर 2 साल की कैद तथा एक लाख रुपए जुर्माने के प्रधान भी अवगत कराया।

लड़की और लड़के वालों को करीब 2 घंटे तक समझाइश के बाद अंततः वे मान गए। जिस लड़की का 5 जून को विवाह होने वाला था उसकी उम्र 16 साल 7 महीने थी।बालिक होने के बाद ब्याह करने की समझाइश दी गई।

हो गई थी सारी तैयारी
संरक्षण अधिकारी यशवंत बैस ने बताया कि घर में शादी की तैयारी हो गई थी। शुक्रवार को मंडपाच्छादन होना था इसके पहले ही नाबालिक ने सूचना दे दी। उन्होंने कहा कि बाल विवाह कानूनन अपराध है

Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned