जिला अस्पताल में मरीजों को नहीं मिल रही पर्याप्त दवाईयां, मेडिकल स्टोर्स से खरीदनी पड़ रही दवाई

जिला अस्पताल में मरीजों को  नहीं मिल रही पर्याप्त दवाईयां, मेडिकल स्टोर्स से खरीदनी पड़ रही दवाई

Bhawna Chaudhary | Publish: Apr, 15 2019 10:00:00 PM (IST) Dhamtari, Dhamtari, Chhattisgarh, India

दो सौ बिस्तर वाले जिला अस्पताल में मरीजों को पर्याप्त दवाईयां नहीं मिल रही है।

धमतरी. दो सौ बिस्तर वाले जिला अस्पताल में मरीजों को पर्याप्त दवाईयां नहीं मिल रही है। उन्हें निजी मेडिकल स्टोर्स से दवाई खरीदना पड़ रहा है। ऐसे में उन पर आर्थिक बोझ बढ़ गया है।

उल्लेखनीय है कि गर्मी का सीजन शुरू होते ही जिला अस्पताल मेंं मरीजोंं की संख्या में अप्रत्याशित रूप से वृद्धि हो गई है। दिन में तेज धूप पडऩे और रात में ठंड का अहसास अभी भी बना हुआ हैै। सर्द-गर्म मौसम के चलते वायरल फीवर का प्रकोप एक बार फिर लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। ऐसे में वे इलाज कराने के लिए जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं। एक जानकारी के अनुसार वर्तमान में ओपीडी मेंं सामान्य की अपेक्षा ५ फीसदी मरीजों की बढ़ोत्तरी हुई है।

यहां डाक्टर मरीजों का चेकअप करने के बाद उन्हें जरूरी दवाईयां लिख रहे हैं, लेकिन मरीजोंं को दस में से सिर्फ ४ या ५ प्रकार की दवाईयां ही उपलब्ध हो रही है। ऐसे में उन्हें निजी मेडिकल स्टोर्स से अधिक कीमत पर दवाई खरीदना पड़ रहा है। बताया गया है कि जिला अस्पताल प्रबंधन की ओर से समय पर दवाईयों की डिमांड सीजीएमएससी को तो भेजी जा रही है, लेकिन वहां से पर्याप्त मात्रा में दवाई की सप्लाई नहीं हो रही है। यही कारण है कि मरीजों को भी परेशानी हो रही है। देवेन्द्र कुमार का कहना है कि शासन की ओर से ग्राम लोहरसी में दवाई गोदाम बनाया गया है, तो दवाईयों का भी स्टाक रखना चाहिए।

चार प्रकार की मिली दवाई
मरीज हेमंत कुमार, निर्मल सिन्हा ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से बुखार आ रहा है। इसके अलावा मुंह मेंं भी छाला हो गया है। जिला अस्पताल में डाक्टर से जांच के बाद दवाई की पर्ची दी, लेकिन दवाई काउंटर में उन्हें केवल चार प्रकार की दवाईयां ही मिल पाई। अन्य दवाईयों को बाहर से खरीदने के लिए कहा गया।

इन दवाइयों की हैं कमी
सूत्रों की मानेंं तो जिला अस्पताल मेंं ३७० प्रकार की दवाईयों की जरूरत पड़ती है। इसमेंं गर्मी के सीजन दवाईयों की खपत भी बढ़ जाती है। वर्तमान मेंं अस्पताल में डाक्लोफेन मलहम, कैल्शियम टेबलेट, बी-काम्प्लेक्स सीरप समेत ७० प्रकार की दवाईयों का स्टाक खत्म हो गया है। ऐसे में मरीजोंं को इन दवाईयों को बाहर मेडिकल से खरीदना पड़ रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned