भाजपा महिला मोर्चा के कन्या भोज को लेकर राजनीति गरमाई, अध्यक्ष और महामंत्री के बीच खींचतान शुरू

गंगरेल भाजपा महिला मोर्चा की ओर से ग्राम अछोटा में आयोजित कन्या भोज कार्यक्रम को लेकर राजनीति गरमा गई है। जिला महिला मोर्चा अध्यक्ष बीथिका विश्वास और महामंत्री मोनिका देवांगन के बीच खींचतान शुरू हो गई है।

By: Ashish Gupta

Published: 15 Oct 2021, 12:20 AM IST

धमतरी. गंगरेल भाजपा महिला मोर्चा की ओर से ग्राम अछोटा में आयोजित कन्या भोज (Kanya Bhoj) कार्यक्रम को लेकर राजनीति गरमा गई है। जिला महिला मोर्चा अध्यक्ष बीथिका विश्वास और महामंत्री मोनिका देवांगन के बीच खींचतान शुरू हो गई है। कार्यक्रम को लेकर भाजपा के सोशल मीडिया में भी बहस छिड़ गई है। अधिकांश लोगों का आरोप है कि बीथिका विश्वास अपनी एकला चलो नीति के चलते विवाद को बढ़ावा दे रही है। दूसरी ओर जिला भाजपा अध्यक्ष शशि पवार इस विवाद से अपने को किनारा कर लिया है।

ग्राम अछोटा में गंगरेल भाजपा महिला मोर्चा की ओर से कन्या भोज का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम में 90 कन्याओं को भोजन कराया गया। इस मौके पर पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष रामू रोहरा, नि:शक्तजन आयोग की पूर्व अध्यक्ष सरला जैन, पूर्व महापौर अर्चना चौबे, गंगरेल भाजपा मंडल अध्यक्ष ऋषभ देवांगन, महिला मोर्चा जिला महामंत्री मोनिका देवांगन, हेमलता शर्मा, कल्पना रणसिंह, विजय साहू,अमृत साहू,तामेश साहू,सरपंच अनीता यादव, अवध साहू,झामिन देवांगन, निर्मला यादव,गिरधारी देवांगन, कैलाश देवांगन, कीर्तन देवांगन, अरूण देवांगन,खुमान देवांगन, वीरेन्द्र देवांगन, रूखमणी देवांगन,झामिन देवांगन, द्रोपती देवांगन, किरण देवांगन, चेतना देवांगन, पुष्पा देवांगन, पूर्णिमा देवांगन, अहिल्या देवांगन, सरस्वती देवांगन,रश्मि देवांगन, नर्मदा देवांगन, सुमित्रा देवांगन, अंजनी देवांगन, शांति देवांगन व भाजपा महिला मोर्चा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

भाजपा सूत्रों के अनुसार यह कार्यक्रम पूर्व में जिला भाजपा महिला मोर्चा के तत्वावधान में होना था। इसके लिए जिलाध्यक्ष बीथिका विश्वास ने संगठन की महामंत्री मोनिका देवांगन को तैयारी करने का निर्देश भी दे दिया। इसके बाद जब पूरी तैयारी हो गई, तब अचानक उन्होंने कार्यक्रम को स्थगित करने के लिए कहा। चूंकि भाजपा नेत्री मोनिका देवांगन अछोटा की निवासी है। कार्यक्रम निरस्त होने की स्थिति में ग्राम में उन्हें अप्रिय स्थिति का सामना करना पड़ सकता था।

यही वजह है कि उन्होंने जिला अध्यक्ष बीथिका विश्वास को सूचित कर दिया कि यह कार्यक्रम गंगरेल भाजपा महिला मोर्चा की ओर से कराया जाएगा। इस पर उन्होंने पहले कोई आपत्ति भी व्यक्त नहीं की। जिला महामंत्री मोनिका देवांगन ने पार्टी के सोशल मीडिया ग्रुप के जरिए संगठन के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को भी सूचना दे दी। जिसके चलते बड़ी संख्या में लोग पहुंच गए। ऐसी जानकारी मिली है कि जिलाध्यक्ष बीथिका विश्वास ने अपने स्तर पर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को इस कार्यक्रम में शामिल नहीं होने के लिए पूरी ताकत झोंक दी थी।

यहां तक कि उन्होंने एक पोस्ट जारी कर कह दिया कि यह कार्यक्रम महिमा मोर्चा का नहीं है। किसी भी मंडल को अलग से कोई कार्यक्रम नहीं दिया गया है। किसी को पर्सनल करना है तो कर सकते है, महिला मोर्चा का नाम न लें। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष शालिनी राजपूत के दिशा-निर्देश में नवरात्रि के पावन पर्व में 14 अक्टूबर को नवरात्रि पर्व के उपलक्ष्य में कन्या पूजन का आयोजन किया जाएगा। यह कार्यक्रम विवेकानंद नगर गली नंबर-3 में धमतरी की महारानी दुर्गा पंडाल में दोपहर 12 बजे होगा। बाद में यह कार्यक्रम भी स्थगित कर दिया गया। इसे लेकर भी तरह-तरह की चर्चा होती रही।

चला शिकायतों का दौर
भाजपा के सोशल मीडिया ग्रुप में इस कार्यक्रम को लेकर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं में दिनभर बहस छिड़ी रही। कुछ लोग कार्यक्रम का समर्थन कर रहे थे, तो कुछ विरोध। यहां तक कि आपसी विवाद बढऩे पर कुछ कार्यकर्ता गु्रप से लेफ्ट भी हो गए। बताया जाता है कि सोशल मीडिया में चली बहस का स्क्रीन शॉट लेकर प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को भी भेज दिया गया। यहां तक कि प्रदेश भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष शालिनी राजपूत से भी इसकी शिकायत की गई।

वर्चस्व की लड़ाई
धमतरी जिला भाजपा महिला मोर्चा में पिछले काफी दिनों से संगठन के ही कुछ पदाधिकारियों के बीच वर्चस्व की लड़ाई चल रही है। जिलाध्यक्ष बीथिका विश्वास पर खुलकर कुछ लोग आरोप लगा रहे है कि वह सबको साथ लेकर नहीं चलती। पिछले दिनों ग्राम छाती में हुए एक सम्मान समारोह में महिला मोर्चा संगठन के पदाधिकारियों की अनुपस्थिति को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है।

क्या कहते हैं
जिला महामंत्री महिला मोर्चा मोनिका देवांगन ने कहा, यह कार्यक्रम गंगरेल भाजपा महिला मोर्चा की ओर से आयोजित था। इसमें भाजपा नेता और कार्यकर्ताओं ने आकर अपनी सेवाएं भी दी है। हमारा उद्देश्य भाजपा के जनाधार को मजबूत करना है।

जिलाध्यक्ष महिला मोर्चा बीथिका विश्वास ने कहा, अछोटा का कार्यक्रम भाजपा की ओर से आयोजित नहीं था। मैंने पहले पार्टी के झंडा-बैनर के साथ नौ कन्या भोज कराने के लिए कहा था, जिस पर सहमति नहीं बनने पर कार्यक्रम केंसल करने कह दिया।

भाजपा जिलाध्यक्ष शशि पवार ने कहा, नौ कन्या भोज कार्यक्रम का उन्हें न्यौता आया था, लेकिन मेरे घर में महाअष्टमी पूजा होने के कारण नहीं जा सका। यह कार्यक्रम पार्टी का था या नहीं, इसकी उन्हें सही जानकारी नहीं है।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned