छत्तीसगढ़ में राहुल मोदी फैक्टर से नहीं बल्कि इस वजह से है हारे

छत्तीसगढ़ में राहुल मोदी फैक्टर से नहीं बल्कि इस वजह से है हारे

Anjalee Singh | Updated: 12 Jun 2019, 05:19:24 PM (IST) Dhamtari, Dhamtari, Chhattisgarh, India

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में मिली हार पर (Congress Defeat) कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने समीक्षा बैठक की। जिसमें आपसी गुटबाजी की समस्या को लेकर चर्चा हुई।

धमतरी. छत्तीसगढ़ लोकसभा चुनाव में करारी हार मिलने के बाद कांग्रेस में गुटबाजी और तेज हो गई है। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh Congress) संगठन के सह प्रभारी चंदन यादव के समक्ष विधायक समेत पार्टी नेताओं ने जिला कांगे्रस संगठन के नेताओं को निशाने पर लिया। आरोप-प्रत्यारोप के चलते बैठक में वाद-विवाद भी हुआ। दूसरी ओर चंदन यादव ने स्पष्ट कर दिया है कि जिला कांग्रेस संगठन ही सर्वोपरि है। पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को इनके निर्देशों का पालन करते हुए कार्य करना होगा। उनका कहना है कि कांग्रेस पार्टी और राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) छत्तीसगढ़ में आपसी गुटबाजी के चलते हारे है।

congress defeat

महासमुंंद लोकसभा चुनाव में धमतरी क्षेत्र से कांग्रेस को करीब रिकार्ड 16 हजार मतों से हार का सामना करना पड़ा है। इसे लेकर पार्टी के अंदर आंतरिक संघर्ष और तेज हो गया है। जिला कांग्र्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन लालवानी और पूर्व विधायक गुरूमुख सिंह होरा गुट के बीच सीधी लड़ाई शुरू हो गई है। इसकी खबर प्रदेश कांग्रेसाध्यक्ष भूपेश बघेल समेत पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं को भी है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस संगठन के सह प्रभारी चंदन यादव मंगलवार को लोकसभा चुनाव में धमतरी और कुरूद विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस को मिली करारी पराजय को लेकर समीक्षा की।

पूर्व विधायक होरा ने आरोप लगाया कि धमतरी में विधानसभा चुनाव में जिन लोगों ने खुलकर भीतरघात किया, उन्हें लोकसभा चुनाव में प्रचार की कमान सौंप दी गई। इसके विपरीत कुरूद में उन्हें दूर रखा गया, तो यहां हम कम वोटों से हारे। उन्होंने आगे कहा कि जिला कांग्रेस संगठन को अवैध प्लाटिंग में लिप्त तत्व चला रहे हैं। इनके खिलाफ कार्रवाई भी चल रही है, फिर भी उन्हें अनावश्यक महत्व दिया जा रहा है। उन्होंने आगे बताया कि पीसीसी का उपाध्यक्ष होने के बावजूद भी उन्हें बिना जानकारी दिए जिला कांग्रेस कमेटी की कार्यकारिणी की घोषणा कर दी गई।

वर्तमान में सत्ता का आड़ लेकर भाजपा से आए कुछ लोग अवैध रूप से रेत खदानें चला रहे हैं। इससे भी आम कार्यकर्ताओं के बीच अच्छा संदेश नहीं गया। बैठक में सिहावा विधायक डॉ लक्ष्मी ध्रुव, गोपाल शर्मा, हाजी नूर मोहम्मद, मदन खंडेलवाल, विजय देवांगन, विनोद जैन, राजकुमार अग्रवाल, विपिन साहू, पंकज महावर, हरमिंदर छाबड़ा, नरेश जसूजा, राहुल बख्तानी, अनुराग मसीह, योगेश लाल, कृष्णा मरकाम, विक्रांत शर्मा, मितेश जैन, मोहित सेन, युसूफ रिजवी, तनवीर कुरैशी, सूर्याराव पवार, अशरफ रोकडिय़ा, सलीम गौस, शंकर ग्वाल, अखिलेश देवान, राजा देवांगन समेत कांग्रेसी बड़ी संख्या में मौजूद थे।

इसकी भी होती रही चर्चा
मीक्षा बैठक में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच पीसीसी प्रतिनिधि वसीम कुरैशी के निलंबन और जिला कांग्रेस संगठन के एक वरिष्ठ पदाधिकारी द्वारा सोशल मीडिया में डाल गए आपत्तिजनक विडियो को लेकर भी चर्चा होती रही। कांग्रेस के एक नेता का कहना था कि यदि गुटबाजी यूंही बढ़ती रही, तो आगामी नगरीय निकाय चुनाव में भी कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ सकता है।

congress defeat

भीतरघातियों को सब जानते है
जिला कांग्रेसाध्यक्ष मोहन लालवानी ने किसी का नाम लिए बिना कहा कि सब लोग जानते हैं कि चुनाव में कौन काम किया है और किसने भीतरघात। ऐसे लोगों को कार्यकर्ता कभी माफ नहीं कर सकते। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सूर्याराव पवार ने कहा कि धमतरी के इतिहास में कभी भी कांग्रेस के किसी नेता ने निर्दलीय होकर चुनाव नहीं लड़ा था। कुछ लोगों ने अपने स्वार्थ के कारण ऐसी परिस्थितियां पैदा कर दी कि अपने स्वाभिमान के लिए उन्हें चुनाव लडऩा पड़ा। मोदी फेक्टर से नहीं हम गुटबाजी के कारण हारे हैं।

गुटबाजी हावी
भखारा के पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष भरत नाहर ने कहा कि गुटबाजी के चलते ही लोकसभा चुनाव (Congress defeat in lok sabha )में हार का सामना करना पड़ा है। इसके लिए जिला संगठन के अपनी जिम्मेदारी से नहीं बच सकते। युवा नेता मोहित देवांगन ने सत्ता में कांग्रेस के आने के बाद भी अधिकारियों द्वारा पार्टी कार्यकर्ताओं की उपेक्षा का मुद्दा उठाया।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned