रोज हो रहा है करोड़ों का लेन-देन फिर भी बैंकों में सुरक्षा ताक पर

त्यौहारी सीजन शुरू होने के साथ ही बैंकोंं में रकम निकालने के लिए लोगों की भीड़ लगातार बढ़ रही है।

Deepak Sahu

September, 1306:17 PM

Dhamtari, Chhattisgarh, India

धमतरी. त्यौहारी सीजन शुरू होने के साथ ही बैंकोंं में रकम निकालने के लिए लोगों की भीड़ लगातार बढ़ रही है। पत्रिका ने बुधवार को शहर के स्टेट बैंक और देना बैंक का मुआयना किया। देखा गया कि बैंक के केस काउंटर में रकम निकालने और जमा करने के लिए लोगों की भीड़ लगी हुई थी।वहीं कुछ पेंशनधारक खातों को अपडेट कराने के लिए पहुंचे थे। भारी भीड़ होने के चलते उन्हें काफी परेशानी हो रही थी।

बैंकों में लगने वाली लाइनों में महिला, पुरूष, सीनियर सिटीजन में कोई अंतरभेद नहीं हो रहा था। जबकि सुरक्षा मेंं तैनात गार्ड ड्यूटी के दौरान बैंकों के कामकाज में ही सहयोग में जुटे रहे। गौरतलब है कि राष्ट्रीयकृत बैंक होने के चलते अधिकांश व्यापारी वर्ग चेक और बड़ी रकम लेकर आते हैं, लेकिन सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं होने से उन्हें परेशानी हो रही है। ऐसे मेंं बैंकों में सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोलकर रख दिया है।

ध्यान देने की जरूरत
हितग्राही सुरेन्द्र निर्मलकर, घनश्याम तिवारी का कहना है कि बैंकों में रोजाना करोड़ों रूपए का लेन-देन होता है। ऐसे में संदिग्ध लोगों की पहचान कर पाना मुश्किल होता है। हितग्राहियों की सेफ्टी के लिए प्रबंधन को ध्यान देने की जरूरत है।

एटीएम में भी नहीं है सुरक्षा गार्ड
जिल में विभिन्न बैंकों के 72 एटीएम लगाए गए हैं, लेकिन इसमें से अधिकांश एटीएम में गार्ड की ड्यूटी नहीं लगाई गई है। ऐसे में सुरक्षा की अनदेखी कभी भी भारी पड़ सकती है। हितग्राही सोमेश कुमार चक्रधारी, मितेश कुमार का कहना है कि एटीएम में चोरी की घटनाओं में वृद्धि हो रही है। इसके बावजूद प्रबंधन द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। यही नहीं एटीएम मेंं लगे सीसी टीवी कैमरे भी खराब हो गए हैं, जिसका संदिग्ध लोग फायदा उठा रहे हैं। बैंक प्रबंधक ध्यान देना चाहिए।

हो चुकी है घटना
गौरतलब है कि पूर्व में बैंक आफ बड़ोदा, स्टेट बैंक में अंर्तराज्यीय चोर गिरोह लूट की घटना को भी अंजाम दे चुके हैं। इसके बाद भी बैंक प्रबंधन सुरक्षा को लेकर लगातार उदासीनता बरत रहा है। इन बैंकों के अंदुरूनी इलाकों में तो पर्याप्त सीसी टीवी कैमरे लगाए गए हैं, लेकिन बाहर की ओर गिने-चुने कैमरे से ही काम चलाया जा रहा है। वह भी निम्न क्वालिटी की है।

केस - 1
आलोक कुमार ने बताया कि वह सेल्समेन हैं। प्रोजेडक्ट सेल करने के बाद बैंक में कंपनी के एकांउट में रकम जमा करने के लिए स्टेट बैंक आया था। बैंक से वापसी के दौरान एक युवक ने बैग छिन लिया, हालांकि आसपास के लोगों की मदद से बैग वापस मिल गया, लेकिन युवक हाथ छुड़ाकर भागन में सफल हो गया।

केस -2
सुधीर सिन्हा ने बताया वह बैंड आफ बड़ौदा का नियमित ग्राहक है। वह पिछले दिनों अपने बैंक एकाउंट में रकम जमा करने के लिए पहुंचा था। वापसी के दौरान बैंक के मुख्य गेट के पास एक अज्ञात युवक ने उसके जेब में रखे पर्स पर हाथ साफ कर दिया। सामने भीड़-भाड़ होने के चलते युवक भागने मेंं सफल हो गया।

स्टेट बैंक के मुख्य प्रबंधक एसपी अग्रवाल ने बताया कि बैंक की सुरक्षा के मद्देनजर गनधारी गार्ड की ड्यूटी लगाई गई है।सीसी टीवी कैमरे से भी संदिग्ध लोगों पर नजर रखा जाता है।

Deepak Sahu
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned