ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट में लगाई गुहार, कहा - अब तो घर दिलवा दो साहब

Tikeshwar Chaudhary

Publish: May, 09 2019 06:03:38 PM (IST)

Dhamtari, Dhamtari, Chhattisgarh, India

धमतरी। गंगरेल बांध के डूबान विस्थापितों को अब तक वन अधिकार पट्टा नहीं मिल सका है, जिसके चलते हुए काफी परेशान हैं । बुधवार को चेप्टापठार के जंगल में काबिज वनग्राम रतावाडीह वनवासियों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर पट्टा के लिए गुहार लगाई ।
उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत जोरातराई के 59 गरीब भूमिहीन महिला पुरुष वर्ष 2004 से चेप्टापठार के जंगल कछ क्रमांक 111, 121 में काबिज है । आज इस गांव को वनग्राम रतवाडीह के नाम से जाना जाता है । वनवासियों का कहना है कि जंगल में काबिज 59 में से अधिकांश परिवार डूब प्रभावित है जो डूब ग्राम बरकछार ,शुक्लाभाटा ठेमसरा आदि गांव से हटाने के बाद जंगल में दर-दर भटकते हुए यहां आकर आश्रय लिया है । व्यवस्थापन की मांग को लेकर हर साल अपनी आवाज बुलंद कर रहे लेकिन उनकी बातों को कही सुनवाई नही हो रही। ऐसे में उनकी तकलीफ बढ़ गई है । अपर कलेक्टर केआर ओगरे ने उनकी बातों को गंभीरता से सुनने के बाद उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। प्रदर्शनकारियों में वनवासी अनिल नेताम ओम प्रकाश ध्रुव राधा नेताम उदय मरकाम निरंजन ध्रुव धरमगढ़ सुमित्रा बाई आदि शामिल थे।

Video by: Shailendra Nag

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned