महासमुंद में आतंक मचाने के बाद धमतरी पहुंचा जंगली हाथियों का दल, ग्रामीणों में दहशत

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के महासमुंद (Mahsamund) और गरियाबंद (Gariaband) में उत्पात मचाने के बाद अब जंगली हाथियों (Wild Elephants) का दल धमतरी जिले (Dhamtari District) में आ धमका है। लगातार हाथियों (Elephants) के आतंक के बाद ग्रामीणों में काफी दहशत (Terror) का माहौल है। धमतरी में जंगली हाथियों (Wild Elephants) के पहुंचने की खबर मिलते ही वन विभाग की टीम भी सतर्क हो गई है।

By: Akanksha Agrawal

Updated: 16 May 2019, 10:16 AM IST

शैलेन्द्र नाग@धमतरी. महासमुंद (Mahasamund) और गरियाबंद जिले में खड़ी फसल में उत्पात मचाने के बाद दंतेल हाथी (Wild Elephant) फिर से मगरलोड क्षेत्र में आ धमका है। गुरुवार को 2 सदस्यीय हाथी (Elephant) का यह दाल ग्राम कपालफोड़ी और नारधा में मंडराते दिखा। इससे एक बार फिर ग्रामीणों में दहशत मच गई।

गौरतलब है कि पिछले 1 महीने से हाथियों का यह दल (Wild Elephant Group) जिले के नगरी और मगरलोड क्षेत्र में जंगल जंगल भटक रहे हैं । पहले नगरी के ग्राम रिसगांव खल्लारी आमझर चमेदा क्षेत्र में किसानों के खेतों में खड़ी फसल को नुकसान पहुंचाया । इसके बाद फिर वापस गरियाबंद (Gariaband) चला गया था।

पखवाड़ेभर बाद फिर से यहां हाथी (Elephant) लौटकर मगरलोड के ग्राम कुण्डेल क्षेत्र में आ धमका। इसके बाद फिर से यहां हाथी गरियाबंद जिले के राजिम क्षेत्र में चला गया। पश्चात महासमुंद होने होते हुए फिर से अब मगरलोड क्षेत्र में लौट आया है । अल सुबह हाथियों (Wild Elephant) को देखते ही ग्रामीणों में अफरा-तफरी मच गई जिसके बाद तत्काल वन विभाग (Forest Department) और पुलिस को सूचना दी गई ।

बहरहाल हाथियों (Elephants) ने किसी को नुकसान तो नहीं पहुंचाया, लेकिन खेतों में खड़ी फसल को जरूर उत्पात कर नुकसान पहुंचा रहे हैं । गौरतलब है कि जिस जगह हाथी (Wild Elephants) मंडरा रहा है वह ब्लॉक मुख्यालय मगरलोड से 15 किलोमीटर दूर तथा जिला मुख्यालय से 60 किलोमीटर दूर स्थित है।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

CG Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News

Show More
Akanksha Agrawal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned