script बाग में डायनासोर जीवाश्म पार्क के लिए ८९ हेक्टेयर जमीन संरक्षित | 89 hectares of land preserved for dinosaur fossil park in Bagh | Patrika News

बाग में डायनासोर जीवाश्म पार्क के लिए ८९ हेक्टेयर जमीन संरक्षित

locationधारPublished: Feb 05, 2024 12:21:44 am

Submitted by:

rishi jaiswal

जमीन के चारों ओर की जा रही तार फेङ्क्षसग, पहुंच मार्ग बनेगा, लाइट एवं साउंड शो शुरू करने की योजना

बाग में डायनासोर जीवाश्म पार्क के लिए ८९ हेक्टेयर जमीन संरक्षित
बाग में डायनासोर जीवाश्म पार्क के लिए ८९ हेक्टेयर जमीन संरक्षित
धार. धार जिले का अपना ऐतिहासिक और वैभवकालीन इतिहास रहा है। रियासतकालीन ऐतिहासिक इमारतें मांडू व अन्य जगह विद्यमान हैं। वहीं बाग के समीप डायनासोर जीवाश्य मिले हैं। नर्मदा घाटी के तहत आने वाले क्षेत्र में दुनिया के सबसे विशालकाय जानवर डायनासोर होने के प्रमाण मिल चुके हैं।
इसी के चलते बाग के समीप डायनासोर जीवाश्म पार्क बनाने की कार्ययोजना तैयार हुई। इसके लिए वन विभाग ने बाग और पाड्ल्या गांव के बीच ८९ हेक्टेयर जमीन संरक्षित की है। यहां डायनासोर के जीवाश्म, अंडे और वर्षों पुराने पेड़ों के अवशेष हैं। इनके संरक्षण के लिए विभाग की ओर से यहां पार्क तैयार किया जाएगा। फिलहाल संरक्षित स्थल पर तार फेङ्क्षसग सहित अन्य कार्य किए जा रहे हैं। पहुंच मार्ग बनाया जा रहा है। ताकि पर्यटकों को आने में कोई परेशानी न हो।
वन विभाग के एसडीओ संतोष रनसोरे ने बताया कि विभाग के माध्यम से छोटे-मोटे काम लगातार चल रहे हैं। पर्यटन को आकर्षित करने के लिए शासन स्तर पर लाइट एंड साउंड शो शुरू करने की योजना है। देश-दुनिया के वैज्ञानिकों का शोध स्थल समुद्री जीवों के जीवन काल पर शोध करने के लिए कई वैज्ञानिक बाग क्षेत्र का दौरा कर चुके हैं। जिन्होंने बाग के समीप ग्राम पाडलिया में डायनासोर के जीवाश्म व अंडे हैं। इसके बाद वन विभाग द्वारा इनके संरक्षण के कदम उठाए। जो लोग इनके बारे में जानते और पढ़ते हैं, वो तो आते रहते हैं। लेकिन आम आदमी की हैसियत से टूरिस्ट न के बराबर आते हैं।
डाक्यूमेंट्री फिल्म के माध्यम से रूबरु होंगे पर्यटक बाग एवं मांडव के आसपास के स्थानों में करोड़ों वर्ष पूर्व के जीवाश्म बड़ी मात्रा में प्राप्त हुए हैं। बाग में स्थापित हो रहे डायनासोर नेशनल पार्क को देशी-विदेशी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनाया जा सकता है। पर्यटन व पुरातत्व विभाग ने जीवाश्म एवं डायनासोर पर आधारित डॉक्यूमेंट्री फिल्म का निर्माण करवाया जाएगा।
इस कार्य में डॉ. बीरबल साहनी इंस्टिट््यूट के विशेषज्ञों की सहायता ली जाएगी। पर्यटन और संस्कृति विभाग करेंगे विकसित डायनासोर पार्क को विकसित करने के लिए पर्यटन, पुरातत्व और संस्कृति विभाग मिलकर काम करेंगे। पिछले महीने कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने विभागों की बैठक लेकर निर्देश दिए थे। इसमें तय हुआ था कि बाग में बनने वाले जीवाश्म पार्क में पर्यटकों की सुविधा के लिए लाइड एंड साउंड शो शुरु किया जाएगा। हालांकि अभी इसके लिए बजट का आवंटन नहीं मिला है। अधिकारियों का कहना है कि बजट मिलने के बाद ही कार्ययोजना के अनुसार काम होंगे।
८९ हेक्टेयर एरिया
बाग के समीप डायनासोर जीवाश्म पार्क के लिए ८९ हेक्टेयर एरिया चिन्हित है। यहां वन विभाग की ओर से तार फेङ्क्षसग सहित जमीन को समतल करने का काम किया गया है। बजट का अभाव है। जैसे ही बजट मिलता है, वैसे ही प्राथमिकता अनुसार काम किए जाएंगे।
अशोक कुमार सोलंकी, डीएफओ धार

ट्रेंडिंग वीडियो