तप, दर्शन, ज्ञान, चरित्र को पाकर हम आत्म को परमात्मा से जोड़ सकते है-साध्वी


तप, दर्शन, ज्ञान, चरित्र को पाकर हम आत्म को परमात्मा से जोड़ सकते है-साध्वी

By: sarvagya purohit

Published: 07 Jul 2019, 11:32 AM IST


धार.

रिमझिम बारिश, जगह-जगह होता फूलों से स्वागत, सिर पर कलश लेकर चलती हुई महिलाएं, जयकारों के नारे, बैंड पर बजती हुई समधुर धुन, कई स्थानों पर समाजजन द्वारा साध्वी की गवली करना...। यह दृश्य था मंगल प्रवेश का।
शनिवार को सम्राट श्रीमद्विजय जयंतसेनसुरीश्वर के पट्टधर आचार्य देवेश नित्यसेनसुरीश्वर की आज्ञानुवर्ती साध्वी अविचलद्रस्ट्राश्री आदि ठाणा 7 का नगर में भव्य मंगल प्रवेश सुबह हुआ। रिमझिम बारिश के बीच समाजजनों ने साध्वी मसा का स्वागत लालबाग, घोड़ा चौपाटी पर किया। यहां से जुलूस शुरू हुआ, जो नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए निकला। इस दौरान जगह-जगह जुलूस का स्वागत किया गया। जुलूस में महिलाएं सिर पर कलश लेकर साथ ही नृत्य करते हुए चल रही थी। इसके साथ ही कई स्थानों पर गवली कर साध्वी मसा की आगवानी की गई। जुलूस का समापन राजेंद्र भवन बड़ा रावला पर हुआ, जहां पर साध्वी ने मंगल प्रवचन दिए।
धर्म आराधना के लिए किया प्रेरित
सभा में पूज्य साध्वी अविचलद्रस्ट्रा ने चातुर्मास काल के महत्व के बारे में विस्तृत जानकारी दी। साध्वी ने तप, दर्शन, ज्ञान, चरित्र को पाकर हम आत्म को परमात्मा से जोड़ सकते है इस बात को भी समझाया। साथ ही साध्वी निरुपमकलाश्री ने भी सभी को धर्म आराधना के लिए प्रेरित किया। सभा में अतिथि के रूप में मनोहरलाल पुराणिक संघ के सहमंत्री, सुरेश तांतेड़ प्रदेश अध्यक्ष मप्र संघ, सुशील गिरिया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष परिषद, रमेश धाड़ीवाल प्रदेश अध्यक्ष आदि उपस्थिति थे। अध्यक्षता और स्वागत उद्बोधन प्रकाश बाफना ने दिया। पुराणिक और धाड़ीवाल ने अपने उद्बोधन में धार श्रीसंघ की तैयारियों की प्रशंसा करते हुए इस प्रकार के आयोजन कर समाजजनों को एकजुट रहने की बात कही।
कार्यक्रम में राजेंद्र मोदी व महेशचंद्र बिल्लोरे का अभिनंदन जैन श्रीसंघ द्वारा उनकी जैन समाज को दी जाने वाली सेवा के लिए किया गया। गुरुदेव के वासक्षेप पूजन का लाभ राजेश व संजय नाहर परिवार ने लिया और कांबली के चढ़ावे का लाभ राजेंद्र कुमार, संजय कुमार, राकेश सुराणा परिवार ने लिया। प्रवेश की नवकारसी ओर भोजन का लाभ झमकलाल मनोहरलाल तांतेड़ परिवार ने लिया था। कार्यक्रम में वर्धमान सुराना, मनोहरलाल जैन, हेमंत मेहता, मनोज श्रीश्रीमाल, महेंद्र धोका, प्रकाश डूंगरवाल, महेंद्र अंबोर, घेवरचंद जैन, सुभाष जैन, शरद धोका, दीपक बाफना, अजय छाजेड़, विपिन लुनिया आदि ने अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन मोहित तांतेड़ प्रदेश उपाध्यक्ष नवयुवक परिषद मप्र ने किया। आभार आदित्य धोका ने माना। यह जानकारी पीयुष जैन ने दी।

sarvagya purohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned