दफ्तर से गायब हो गए दस्तावेज

केरोसिन घोटाले की नहीं हो पा रही जांच, शिकायतकर्ता चार बार कर चुका मुख्यमंत्री ऑनलाइन में शिकायत।

By: Narendra Hazare

Published: 22 Dec 2015, 11:32 PM IST

धार। गरीब के घर में उजाला करने के लिए सहाकरी संस्था से मिलने वाले केरोसिन की बड़ी कालाबाजारी और घोटाले के लिए की गई शिकायत को दस्तावेज गायब होना बताकर दबाया जा रहा है। इधर, शिकायतकर्ता अब तक चार बार मुख्यमंत्री ऑनलाइन में शिकायत दर्ज करा चुका है, लेकिन आपूर्ति अधिकारी इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

2004 में लाबरिया सेवा सहकारी संस्था के लिए स्वीकृत 24 हजार लीटर केरोसिन के कोटे में से केवल 12 हजार लीटर प्रदाय कर शेष 12 हजार लीटर केरोसिन की कालाबाजारी कर दी गई। शिकायतकर्ता मुन्नालाल पिता गणपत जायसवाल का कहना है कि लाबरिया सोसायटी के आवक रजिस्टर में हर बार केवल 12 हजार लीटर केरोसिन ही दर्ज और आवंटित बताया गया, जबकि धार जिला मुख्यालय आपूर्ति विभाग के कार्यालय में हर बार लाबरिया के नाम से 24 हजार लीटर केरोसिन के आवंटन की इंट्री की गई। बताया जा रहा है कि शेष 12 हजार लीटर एक पेट्रोल पंप पर सप्लाय कर दिया जाता रहा है, जो हजारों लीटर केरोसिन की कालाबाजारी का मामला बनता है।

15 वर्षों से बताया घालमेल

शिकायतकर्ता मुन्नालाल ने शपथ पत्र के माध्यम से की गई शिकायत में बताया, नीले केरोसिन की कालाबाजारी का  कारोबार पिछले पंद्रह वर्षों से चल रहा है। मुन्नालाल में दर्जनों कच्चे पक्के दस्तावेज की छाया प्रति संलग्र करते हुए शिकायत की है, जिसकी गंभीरता से जांच हो तो कई बड़े अधिकारी घेरे में आ सकते हैं। हालांकि पूरा मामला जांच में अटका है और जांच दस्तावेज के गायब हो जाने से लटकी पड़ी है।

बताया जा रहा है कि तीन वर्ष से अधिक पुराना रिकार्ड नष्ट कर दिया जाता है, जिसके चलते लाबरिया सोसायटी में पुराने दस्तावेज नहीं मिल पा रहे हैं, वहीं शिकायतकर्ता का कहना है कि जिला आपूर्ति कार्यालय में पूरा रिकार्ड उपलब्ध है, जिसके आधार पर जांच की जा सकती है। हालांकि शिकायतकर्ता स्वयं लाबरिया सोसायटी में कार्यरत था, जिसे इसी केरोसिन घोटाले में निलंबित किया गया था।

सरदारपुर एसडीएम के पास है जांच

सरदारपुर एसडीएम दस्तावेज जुटा कर जांच कर रहे हैं। इस मामले में किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।
- अमरसिंह अजनार, जिला आपूर्ति अधिकारी, धार
Narendra Hazare
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned