बेटी से मिलने छोटा उदयपुर गई महिला की रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि

- सुसारी में कोरोना की दस्तक, महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव
- 137 हुई कोरोना मरीजों की संख्या
- कॉटेक्ट ट्रेसिंग में खुलासा, उटावद दरवाजा में ईद मनाने इंदौर से आया था भाई

By: Amit S mandloi

Published: 14 Jun 2020, 10:05 AM IST

धार.
जिले के सुसारी में एक महिला की रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई है। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले महिला अपनी बेटी से मिलने गुजरात के छोटा उदयपुर गई थी। जोड़ों के दर्द और शुगर की शिकायत के कारण छोटा उदयपुर में महिला ने इलाज कराया और घर सुसारी लौटी। यहां उसकी तबीयत बिगड़ी तो सूचना स्वास्थ्य विभाग को दी गई। महिला के सैंपल की रिपोर्ट में कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

जानकारी के अनुसार सुसारी की पोंगा पति भगवान निवासी सुसारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार महिला पिछले दिनों अपने जोड़ों का दर्द और शुगर की समस्या के कारण बेटी के पास छोटा उदयपुर गई थी। बेटी और दामाद ने छोटा उदयपुर के ही अस्पताल में पॉजिटिव महिला का इलाज करवाया। इस बीच महिला की तबीयत बिगड़ी तो सैंपल भी छोटा उदयपुर में ही किए गए। इस बीच महिला सुसारी आ गई। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सुसारी से महिला को धार रेफर किया गया। साथ ही संपर्क में आने वाले सभी लोगों को क्वॉरंटीन किया गया है। महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद मरीजों की संख्या बढक़र १३७ हो गई है।

व्यवस्था बढ़ाने पर फोकस

- स्वास्थ्य विभाग इमरजेंसी के हालातों से निपटने की तैयारी में जुटा हुआ है। क्वॉरंटीन सेंटर प्रशासन द्वारा खाली कराए जाने के बाद ४० बेड का नया सेंटर तैयार किया गया है।
- यहां बेड, लाइट, साफ-सफाई व स्टॉफ तैनात करने के लिए टीमें बनाई जा रही है।
- रोस्टर अनुसार मेडिकल स्टॉफ और डॉक्टरों की ड्यूटी रहेगी। ताकि क्वॉरंटीन में भर्ती मरीजों की निगरानी की जा सके।

21 रिपोर्ट निगेटिव

जिले के 21 लोगों की रिपोर्ट शनिवार को निगेटिव आई है। जिला महामारी नियंत्रण अधिकारी डॉ. भंडारी ने बताया कि २१ लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इनमें अधिकांश लोग काजीवाड़ा और मनावर क्षेत्र के है, जिनकी सैंपलिंग पिछले दिनों की गई थी। ये पॉजिटिव के संपर्क और परिवार के लोग है। इनकी रिपोर्ट निगेटिव आने से काफी राहत है।

कंटेनमेंट निकलने वालों पर सख्ती

इधर कंटेनमेंट एरिया उटावद दरवाजा को एपिक सेंटर माना गया है। यहां से अधिकांश लोग ऑटो पार्टस और मैकेनिक के काम से जुड़े हुए है, जो बाहर निकलकर दुकानों पर काम कर रहे है। इनके अलावा नौकरीपेशा भी लोग निकल रहे है। शनिवार को एडिशनल एसपी देवेंद्र पाटीदार ने निरीक्षण कर यहां से निकल रहे लोगों को वापस घर भेज दिया।

कॉटेक्ट ट्रेसिंग से मिल रही मदद

उटावद दरवाजा में कोरोना की री-इंट्री के सोर्स का पता चल गया है। इंदौर के चंदन नगर से कोरोना वायरस से उटावद दरवाजा में इंट्री की। डॉ. भंडारी ने बताया कि मृतक एजाज से मिलने उनका भाई धार आया था। ऐसी सूचना हमें मिली थी। कॉटेक्ट ट्रेसिंग में इसकी जानकारी हमारे पास आई है। एजाज की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के कारण सोर्स का पता नहीं चल पा रहा था। अब जानकारी सामने आई है कि उनका भाई धार आया था इस कारण परिवार संक्रमित हुआ।

Amit S mandloi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned