विवादित स्थल भोजशाला का अधिकारियों ने किया दौरा

चार दिवसीय उर्स के दौरान होगा कव्वालियों का आयोजन, व्यवस्थाओं को पुख्ता बनाने के निर्देश

धार. शहर की ऐतिहासिक भोजशाला में जश्ने उर्स २०१७ का आयोजन १४ से १८ दिसंबर तक उर्स कमेटी के तत्वावधान में किया जाएगा। इसमें देश के विभिन्न स्थानों से ख्यातनाम कव्वाल अपने कलाम पेश करने के लिए शिरकत करेंगे। कार्यक्रम की शुरूआत १४ दिसंबर को सुबह ९ बजे चादर शरीफ के जुलूस के रूप में होगा। इसी कार्यक्रम के सिलसिले में शुक्रवार को दोपहर १२ एसडीएम भव्या मित्तल, नगरपालिका परिषद सीएमओ डॉ. मधु सक्सेना, कोतवाली टीआई सुबोध श्रोत्रिय, सीएसपी शशिकांत कनकने आदि ने भोजशाला का निरीक्षण किया। इस मौके पर यहां कव्वाली स्थल, लंगर की जगह, क्षेत्र में लाइटिंग और साफ-सफाई व्यवस्थाओं को चाकचौबंद करने के लिए दिशा निर्देश दिए। एसडीएम भव्या मित्तल ने बताया कि सारे कार्यक्रम व्यवस्थित और सौहार्दपूर्ण हो जाएं इसके लिए व्यवस्थागत निरीक्षण किया गया।
यह रहेंगे प्रोग्राम : १४ दिसंबर सुबह ९ बजे चादर शरीफ का जुलूस निकाला जाएगा। इसके बाद इसी दिन रात ९ बजे से महफिले समां में जलालाबाद के सरफराज अनवर साबरी,जावरा के नहार खां-निसार खां-शमशेर खां, युसूफ फारूक साबरी, धार के मोहम्मद आजम-अफजाल साबरी, शाहिद सलाम साबरी कव्वाल अपने कलाम पेश करेंगे। इसी तरह १५ दिसंबर को मुंबई के अजीम नांजा, जयपुर के टिम्मू गुलफाम, दिल्ली के समीर हयात निजामी आदि, १६ को संभल के सरफराज चिश्ती, दिल्ली के गुलाम साबिर-गुलाम वारिस, जयपुर के टिम्मू गुलफाम, दिल्ली के समीर हयात निजामी तथा १७ दिसंबर को दिल्ली के असलम साबरी, संभल के सरफराज चिश्ती, दिल्ली के गुलाम साबिर-गुलाम वारिस कव्वाल अपने कलाम पेश करेंगे।
१८ को होगी कुल की फातेहा
१८ दिसंबर को सुबह 9 बजे शहंशाहे मालवा हजरत ख्वाजा कमालुद्दीन चिश्ती रहमतुल्ला अलैह के आस्ताने पर ६८६वें उर्स के मौके पर महफिले रंग, कुल की फातेहा और संदल पेश करने की रस्म मुबारक होगी।
भोज महोत्सव की बैठक 12 को
धार. भोजशाला की मुक्ति एवं उसके गौरव की पुनस्र्थापना के लिए दृढ संकल्पित भोज उत्सव समिति ने जनवरी में बसंत पंचमी पर महाराजा भोज स्मृति बसंतोत्सव मनाने एवं विभिन्न कार्यक्रमों के लिए 12 दिसंबर को नगर के प्रबुद्धजन, समाजजन, व्यापारी एवं सभी कार्यकर्ताओं की बैठक आयोजित की है। भोज महोत्सव 22 से 25 जनवरी 2018 तक मनाया जाना है। वृहद बैठक 12 दिसंबर मंगलवार को रात 8 बजे पाश्र्वनाथ जैन मंदिर, महात्मा गांधी मार्ग खत्री बिल्डिंग के सामने की गई। महाराजा भोज उत्सव समिति ने प्रबुद्धजन, समाजजन, व्यापारी एवं कार्यकर्ताओं को इस बैठक में शामिल होने एवं विचार-विमर्श करने के लिए आमंत्रित किया है। यह जानकारी समिति के मीडिया प्रभारी सुमित चौधरी ने दी।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned